Since: 23-09-2009

  Latest News :
देश में फिर फैला कोरोना, राजधानी दिल्ली में संक्रमण दर 15 फीसदी.   दिल्ली में एमसीडी के एकीकरण के प्रस्ताव को मिली मंज़ूरी बीजेपी को बड़ा फायदा .   पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बैनर्जी मिली पीएम मोदी से .   पंजाब हरियाणा में बारिश का अलर्ट.   उपराष्ट्रपति चुनाव के लिए वोटिंग शुरू .   RBI ने फिर बढ़ाया रेपो रेट , 5.40 फीसदी हुआ .   CM की क्लास बच्चों के साथ .   पुलिस लहरा रही तिरंगा .   आम लोगो के लिये खुले राजभवन के दरवाजे .   पाखंडियों के सहारे सनातन को बदनाम करती है कांग्रेस.   संसार की सबसे कीमती दौलत है .   अपना दल (एस) को राज्यस्तरीय पार्टी का दर्जा.   युवक कांग्रेस चुनाव में फर्जी सदस्यता का भंडाफोड़.   कलेक्टर की डीपी लगाकर ठगी का प्रयास .   लिव इन में रह रहा युवक शिकायत पर गिरफ्तार .   शिक्षक ,सहायक शिक्षक पदों के लिए सातवे दौर का सत्यापन .   स्टील ,पावर प्लांट कारोबारियों पर आयकर का छापा.   पीएम मोदी की बैठक में जायेंगे सीएम और राज्यपाल .  

नारायणपुर News


ग्रामीणों ने किया चक्काजाम

पुलिस की मारपीट से हुए नाराज    नक्‍सल प्रभावित नारायणपुर में ग्रामीणों ने भरण्डा थाने के सामने चक्काजाम किया। छत्‍तीसगढ़ के नारायणपुर में ग्रामीण नाराज दिखे। बताया जा रहा है कि पुलिस ने  ग्रामीणों के साथ मारपीट की।  पुलिस पर मारपीट में ग्रामीण की हालत में गंभीर हो गई। इसके बाद नाजुक हालत में ग्रामीण को अस्पताल में भर्ती किया गया। मारपीट से नाराज ग्रामीणों ने भरण्डा थाने का घेराव किया। बतादें कि ग्राम पटेल सोमनाथ दुग्गा के गिरफ्तारी से ग्रामीण नाराज थे। यह पूरा मामला मानू नरेटी फर्जी मुठभेड़ से जुड़ा हुआ है। पुलिस की मारपीट से ग्रामीणों में काफी नाराजगी है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  1 June 2022

narayanpur, soldier martyred , encounter , Tulargufa and Mangari

नारायणपुर। जिले के थाना छोटेडोंगर से डीआरजी और आईटीबीपी के जवानों को मंगलवार को पल्ली-बारसूर छोटेडनबेरा और मुंगरी जंगलों के पास सर्चिंग के लिए रवाना किया गया था। बुधवार सुबह लगभग 8:15 बजे तुलारगुफा-मुंगरी जंगलों के पास नक्सलियों के साथ जवानों की मुठभेड़ हो गई, जिसमें एक जवान शहीद हो गया है। नारायणपुर डीआरजी और नक्सलियों के पीएलजीए कोर नंबर 06 के साथ हुई मुठभेड़ में डीआरजी के प्रधान आरक्षक सालिकराम मरकाम को गोली लगी और बाद में वे शहीद हो गये। बस्तर आईजी सुंदराज पी. ने मुठभेड़ की पुष्टि करते हुए बताया कि मुठभेड़ स्थल पर गोलीबारी बंद हो चुकी है, सर्चिंग जारी है। अतिरिक्त बल के जवानों को मौके पर भेज दिया गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 May 2022

narayanpur, Naxalites dug up , road near Raynar, banners

नारायणपुर। जिले के ओरछा मार्ग के ग्राम रायनार के पास नक्सलियों ने सोमवार की रात डामरीकृत सड़क को खोदकर मार्ग को पूरी तरह से अवरूद्ध कर बस्तर फाइटर भर्ती के विरोध में बैनर लगाए हैं। बैनर के माध्यम से नक्सलियों ने बस्तर फाइटर की भर्ती बंद करने की बात कही गई है। उल्लेखनीय है कि जिले के अबूझमाड़ के इलाके में पिछले कुछ दिनों नक्सलियों द्वारा लगातार अपनी मौजूदगी दर्ज कराते हुए ओरछा मार्ग को अवरूद्ध किये जाने का प्रयास किया जा रहा है। इसी मार्ग के बटूमपारा में 12 अप्रेल को भी नक्सलियों द्वारा सड़क को खोदकर बस्तर फाइटर भर्ती के विरोध में बैनर लगाए थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  19 April 2022

narayanpur,Naxalite organizations, Abujhmad area

नारायणपुर। बस्तर संभाग में पुलिस और फोर्स के कैंप के विस्तार से नक्सलियों पर जबरदस्त दबाव देखा जा रहा है। विगत वर्षों में कोई बड़ी वारदात को नक्सली अंजाम देने या उन्मूक्त गतिविधि संचालित करते नहीं दिख रहे हैं। इसका सबसे बड़ा कारण डीआरजी के जवान भी है, इसी तर्ज पर बस्तर फाइटर्स भर्ती का कार्य इन दिनों जारी है। जिससे बौखलाये नक्सली संगठन अपने आधार क्षेत्र वाले एक मात्र बचे अबूझमाड़ के इलाके में काफी सक्रिय हो गये हैं। यहां नक्सली लगातार छिटपुट वारदातों को अंजाम देने और नक्सली बैनर पोस्टर लगाकर अपनी उपस्थिति दर्ज करवाकर भय के साम्राज्य को बनाये रखने का प्रयास करने में लगे हुए हैं। इसी कड़ी में अबूझमाड़ के ओरछा मार्ग पर नक्सलियों के नेलनार एरिया कमेटी ने सोमवार को बैनर लगाकर बस्तर फाइटर्स भर्ती का विरोध करते हुए कई जगहों पर सड़क भी काट दी गई है। नक्सलियों द्वारा सड़क के बीचों-बीच लगाए गए बैनर में बस्तर के युवाओं से बस्तर फाइटर्स भर्ती में शामिल नहीं होने की अपील की गई है। ओरछा ब्लॉक मुख्यालय के नजदीक नक्सलियों ने अपनी उपस्थिति दर्ज करते हुए मंडाली, बटूम के पास पहाड़ी मंदिर के नीचे मुख्य मार्ग को जगह-जगह से काट दिया गया है। वहीं कई स्थानों पर पेड़ भी सड़क पर गिरा दिए हैं। बैनर में लिखा है कि बस्तर फाइटर्स भर्ती अभियान का सभी युवा विरोध करें। इस मैसेज को हर घर तक पहुंचाना है, बस्तर फाइटर्स हमें मंजूर नहीं है। बस्तर की जमीन हमारी है, इसे बचाना हैं। ओरछा-नारायणपुर रोड में जगह-जगह सड़क काट देने से मार्ग पूरी तरह से बंद है। बीते दिनों भी नक्सलियों ने इस रोड को अवरुद्ध किया था।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  11 April 2022

narayanpur, Villagers evacuated, vehicles filled ,with iron ore

नारायणपुर। जिले के रावघाट लौह अयस्क खदान के आश्रित ग्राम खोडगांव में खदान से भिलाई इस्पात संयंत्र द्वारा अंजरेल की पहाड़ से लौह अयस्क लेकर जा रहे दो टिप्पर वाहनों को ग्रामीणों ने रोककर बीएसएफ कैम्प में खाली करवाया। साथ ही लौह अयस्क चोरी छुपे ले जाने और वादा खिलाफी का आरोप भी लगाया। ग्रामीणों का कहना है कि भिलाई इस्पात संयंत्र ने इलाके में विकास करने की बात कही थी, लेकिन अब तक कोई विकास का कार्य किया और ना ही किसी भी ग्रामीण को नौकरी दी है। जिसके विरोध में लौह अयस्क भरके जा रही वाहनों को रोककर खाली कराया गया है। जब तक हमारी जनसुनवाई नहीं की जाएगी कोई लौह अयस्क भरी वाहनों को जाने नहीं दिया जाएगा। वहीं पुलिस ने भी ग्रामीणों व प्रबंधन के बीच कोई बड़ा विवाद ना हो इसके लिए वाहनों को केम्प के पास खाली कराके वापस भेज दिया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले के ग्राम खोडगांव से रावघाट माइंस का लौह अयस्क खनन करके भिलाई इस्पात सयंत्र ले जाने से पूर्व वर्ष 2007 में कांकेर व नारायणपुर जिले के 22 गांवों को गोद लेकर इलाके के ग्रामीणों को मूलभूत सुविधाओं का विस्तार करने के सपने दिखाये थे, लेकिन सपने सिर्फ सपने बनकर रह गए। भिलाई इस्पात संयंत्र की इस वादा खिलाफी और अपने जल जंगल जमीन को बचाने के लिए खनन कार्य बंद करने की मांग ग्रामीण कर रहे हैं।   ग्राम खोडगांव के ग्रामीण लखन का कहना है कि वर्षों से भिलाई इस्पात सयंत्र द्वारा ग्रामीणों से मूलभूत सुविधाओं का विस्तार करने और यहां के लोगों को काम देने के सपने दिखाये जा रहे हैं, लेकिन साल दर साल बीतने को है इनके वादे सिर्फ वादे बनकर रह गए है। जिस पहाड़ी से हजारों घरों के जीवन यापन का सहारा जुड़ा हुआ हैं, भिलाई इस्पात सयंत्र अपने फायदे के लिए यहां खनन करके पर्यावरण को नुकसान पहुचायेंगे। उन्होने कहा कि अंजरेल की पहाड़ियों से बहने वाला पानी अबूझमाड़ से लेकर नारायणपुर तक बहता है। जब खनन होने लगेगा तो पानी दूषित होगा जिसका नुकसान इलाके को होगा। जिससे यहां के लोगों का जीवन यापन करना दूभर हो जाएगा इसलिए खनन काम बंद होना चाहिए।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  15 March 2022

narayanpur, ASI martyred , IED blast , Naxalites

नारायणपुर। जिले के सोनपुर थाना क्षेत्र अंर्तगत ग्राम ढ़ोडरीबेड़ा इलाके में आईटीबीपी 53 बटालियन के जवानों को सड़क निर्माण कार्य की सुरक्षा के लिए रवाना किया गया था। नक्सलियों ने आज सुबह साढ़े 8 बजे आईईडी धमाका किया , जिसकी चपेट में आने से आईटीबीपी 53 बटालियन का एएसआई शहीद हो गया, वहीं एक जवान घायल हुआ है। प्राप्त जानकारी के अनुसार रोड सुरक्षा के लिए टुकड़ी रवाना हुई थी। रूटीन गश्त के दौरान जवानों को निशाना बनाते हुए नक्सलियों ने आईईडी ब्लास्ट किया। इस ब्लास्ट में एएसआई राजेन्द्र सिंह शहीद हो गए। वहीं हेड कॉन्स्टेबल महेश घायल है। घायल जवान को बेहतर उपचार के लिए हेलिकाप्टर से राजधानी रायपुर रवाना किया गया है। इसकी पुष्टि नारायणपुर के एसपी सदानंद कुमार ने की है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 March 2022

 Naxalite

तीन जवान और एक वहां चालक हुए शहीद   नक्सलियों ने एक बार फिर बड़ी वारदात को अंजाम दिया और विस्फोट कर जवानों की बस को  उड़ा दिया गया | इस हमले में पांच जवान शहीद हो गए और कई जख्मी हुए हैं  | सुरक्षा बालों ने इलाके में सर्चिंग तेज कर दी है |  नारायणपुर के जंगलों से  नक्सल विरोधी अभियान के पश्चात् डीआरजी बल जिला मुख्यालय नारायणपुर वापस लौट रहा था  |  उसी  वक्त एक आई ई डी विस्फोट  से इस बस को नक्सलियों ने निशाना बनाया |   जिसमे वाहन चालक सहित 04  जवान शहीद हो गये  | इस घटना में अन्य  2 जवान गंभीर रूप से घायल  हुए हैं  | 12 अन्य जवानों को चोटें लगी हैं  | घटनास्थल  पर  अतिरिक्त रिइन्फोर्समेंट पार्टी भेजी गई है एवं घायल जवानों को उपचार हेतु भारतीय वायुसेना के हेलीकॉप्टर के माध्यम से रायपुर भेजा गया  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  24 March 2021

 Abujhmad Marathon

पूरे बस्तर को वैश्विक स्तर पर पहचान दिला रहा मैराथन     वैलेंटाइन्स डे के मौके पर  नारायणपुर में अबूझमाड़ महोत्सव  तृतीय अंतरराष्ट्रीय माड़ मैराथन 2021 का आयोजन किया गया | जिसमे प्रतिभागियों ने  5 किलोमीटर प्रमोशनल सायकल रैली में बढ़चढ़कर हिंसा लिया |  नारायणपुर में अबूझमाड़ महोत्सव के आयोजन में  प्रतिभागियों ने साइकिल रैली में हिस्सा लिया | 5 किलोमीटर प्रमोशनल सायकल रैली का आयोजन कलेक्टर कार्यालय से किया गया |  जिसमें आईजी बस्तर सुंदरराज पी. , कलेक्टर धर्मेश साहू, पुलिस अधीक्षक  मोहित गर्ग,  सहित जिले के कई वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे | इस मौके पर  माड़ मैराथन 2021 के धावकों और वालेंटियर्स के लिए टी-शर्ट व मेडल का विमोचन किया गया | और 12 फरवरी को  हुए पेंटिंग प्रतियोगिता के प्रतिभागियों को इनाम राशि का चेक, सर्टिफिकेट और गिफ्ट दिया गया |  इस दौरान सुंदरराज ने  कहा कि यह माड़ मैराथन जिला नारायणपुर ही नहीं वरन पूरे बस्तर को वैश्विक स्तर पर पहचान दिलाने में कारगर साबित हो रहा है  | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  15 February 2021

 Young bloody struggle

गोली लगने से दो जवानों की मौत   छत्तीसगढ़ के नारायणपुर में जवानों के बीच  आपस में खूनी संघर्ष हो गया  | इस दौरान जमकर गोलीबारी भी हुई जिसमें  दो जवानों की मौत हो गई |  एक जवान गंभीर रूप से जख्मी हुआ है  | घटना के बाद कैंप में अफसरों ने  बड़ी मुश्किल से आरोपी  जवान का हथियार  छीना और उसे   गिरफ्तार कर लिया    नारायणपुर से 38 किमी दूर आमदई कैंप में शुक्रवार रात  जवानों के बीच आपसी विवाद  हो गया  |  नक्सल मोर्चे पर कैंप में सुरक्षा जवानों के बीच हुई गोलीबारी में दो जवानों की मौत हो गई  वहीं एक जवान गंभीर रूप से घायल हुआ  तो उसे उपचार के लिए रायपुर रेफर किया गया है |  सूत्रों के मुताबिक कैंप में एपीसी घनश्याम कुमेटी ने अपने तीन साथियों पर फायरिंग कर दी | जिसमें लक्षराम प्रेमी कमर में गोली लगने से बुरी तरह घायल हो गया | वहीं पीसी बिन्देश्वर साहनी और प्रधान आरक्षक रामेश्वर साहू  की  गर्दन में गोली लगने से मौके पर ही मौत हो गई  | कडेनार कैंप में छह जवानों की मौत के बाद इस क्षेत्र में यह दूसरी बार जवानों के बीच खूनी संघर्ष हुआ है |  इससे पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया है | ये जवान सीएएफ नौ बटालियन के हैं |   आरोपी जवान घनश्याम कुमेटी को छोटेडोंगर थाना में गिरफ्तार कर घटना के संदर्भ में पूछताछ की जा रही है  | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  1 June 2020

 ITBP JAWAN

सब को मारने वाले जवान ने खुद को भी गोली मारी   छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित नारायणपुर जिले में तैनात आईटीबीपी के जवान किसी बात पर आपस में ही भिड़ गए और गोलीबारी शुरू कर दी  |  जवानों की आपसी गोलीबारी में 6 जवानों की मौत हो गई है और 2 जवान गंभीर घायल हो गए हैं, जिन्हें इलाज के लिए रायपुर भेजा गया  |  नारायणपुर जिला मुख्यालय से 60 किमी दूर कड़ेनार इलाके में आईटीबीपी के जवान नक्सल प्रभावित इलाकों में तैनात थे |  यहां कैंप में आपसी विवाद इतना बढ़ा कि उन्होंने आपस में ही गोलीबारी शुरू कर दी |  घटना की पुष्टि करते एसपी मोहित गर्ग ने बताया कि बुधवार की सुबह कैंप में जवानों के बीच आपस में गोलीबारी होने से छह जवानों की मौके पर मौत हो गई है | वही दो जवान घायल हुए हैं, जिन्हें बेहतर इलाज के लिए हेलीकॉप्टर से रायपुर  भेजा गया है  |  मरने वाले जवानों में शामिल  कांस्टेबल मसुदुल रहमान ने ही गुस्से में आकर फायरिंग शुरू की, जिसमें सभी जवान मारे गए | आखिर में रहमान ने खुद को भी गोली मार ली  | मरने वाले जवानों के नाम हेड कॉन्सटेबल महेंद्र सिंह  | हेड कॉन्सटेबल दलजीत सिंह  | कॉन्सटेबल मसुदुल रहमान | कॉन्सटेबल सुरजीत सरकार,   कॉन्सटेबल बिश्वरूप महतो | कॉन्सटेबल बिजेस बताये गए हैं |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 December 2019

bastar naxli

  छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित सुकमा जिले में मंगलवार को पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ में तीन नक्सली ढेर हो गए। मिली जानकारी के मुताबिक सुकमा जिले के मर्कागुड़ा और मुलेर के जंगल में डीआरजी और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ की सूचना मिली है। स्थानीय सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक इस मुठभेड़ में तीन नक्सलियों के मारे जाने की सूचना है। हालांकि उनके शव बरामद नहीं हुए हैं। इसके अलावा कई नक्सलियों के घायल होने की भी सूचना है। पुलिस ने एक नक्सली को जिंदा गिरफ्तार कर लिया है। फूल बगड़ी थाना क्षेत्र में हुई इस वारदात में पुलिस को घटना स्थल से एक 315 बोर पिस्टल, 4 भरमार, एक पाइप बम और दैनिक उपयोगी सामग्री बरामद हुई है। 5 लाख की इनामी महिला नक्सली ने किया समर्पण पुलिस और सुरक्षा बलों द्वारा बस्तर में चलाए जा रहे प्रभावी अभियान और शासन की पुनर्वास नीति से प्रभावित होकर बस्तर क्षेत्र में लगातार नक्सली आत्मसमर्पण कर रहे हैं। इसी कड़ी में बुधवार को बस्तर रेंज के आईजी विवेकानंद सिन्हा के समक्ष 3 नक्सलियों ने आत्म समर्पण किया। आत्मसर्पण करने वाले नक्सलियों में एक 10 लाख का इनामी कमाण्डर सहित एक 5 लाख की इनामी महिला नक्सली शामिल है। आत्मसर्पण करने वाले नक्सलियों का बस्तर आईजी विवेकानंद सिन्हा ने समाज की मुख्यधारा में स्वागत किया है साथ ही उन्हें सहयोग और पुनर्वास का आश्वासन दिया गया है। जानकारी के मुताबिक आत्मसर्पण करने वाला 10 लाख का इनामी सोभी उर्फ नागू कतलाम नारायणपुर जिले के अंतर्गत अमदईघाट में एरिया कमाण्डर के रूप में पिछले कई वर्षों से काम कर रहा था। साल 2004 में सोभी को बाल नक्सली के रूप में संगठन में बलपूर्वक शामिल किया गया था। सोभी पर नारायणपुर जिले में कई बड़ी वारदातों में शामिल होने का आरोप है। वहीं आत्मसर्पण करने वाली महिला नक्सली सुमित्रा साहू पर भी पांच लाख का इनाम घोषित है। सुमित्रा अपने पति सोभी के साथ अमदईघाट क्षेत्र में एरिया कमेटी सदस्य के रूप में कार्यरत थी। उसके खिलाफ भी कई गंभीर अपराधिक मामले दर्ज हैं। इनके साथ ही एक अन्य नक्सली बुधसन उर्फ भारत पदामि ने भी आत्मसमर्पण किया है। बुधसन इरकानार डीलएकेएमएस का सदस्य था।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 October 2018

नक्सली  गिरफ्तार

छत्तीसगढ़ पुलिस ने गुरुवार को दो नक्सलियों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की। मिली जानकारी के मुताबिक पुलिस को नारायणपुर जिले के बागझर के जंगलों में नक्सलियों की संदिग्ध गतिविधियों की सूचना मिली थी। इसी सूचना के आधार पर पुलिस टीम ने इलाके को घेरकर सर्चिंग अभियान शुरू किया, जिसमें दो नक्सलियों को गिरफ्तार करने में सफलता मिली। पुलिस ने बताया कि दोनों नक्सलियों पर छेरीबेड़ा में बम लगाने का आरोप है। पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  6 July 2017

दस नक्सली मारे गए

नारायणपुर के आकाबेड़ा पुलिस कैंप पर सोमवार देर रात नक्सलियों ने हमला कर दिया। दोनों ओर से दो घंटे चली गोलीबारी में पुलिस ने 10 नक्सलियों के मारे जाने की आशंका जताई है। घटना की पुष्टि एसपी अभिषेक मीणा ने की है। जानकारी के मुताबिक नक्सलियों ने पुलिस कैंप पर अचानक फायरिंग कर दी, इस पर पुलिस जवानों ने भी जवाबी फायरिंग की। रात में लगातार करीब दो घंटे तक गोलीबारी चलती रही। इस दौरान कमजोर पड़ रहे नक्सली भाग निकले। नक्सलियों के भागने के बाद जब पुलिस ने सर्चिंग की तो वहां खून के धब्बे मिले और हथियार बरामद किए गए हैं। आकाबेड़ा में जिला स्तरीय जन समस्या निवारण शिविर का आयोजन किया जाना है। इसी को लेकर नक्सली विरोध कर रहे थे। उन्होंने आस-पास के गांव में बैठके कर ग्रामीणों को चेताया था कि जो भी शिविर में जाएगा उन्हें जन अदालत में सजा दी जाएगी। उन्होंने यह चेतावनी भी जारी कि थी कि ग्रामीण शिविर से दूरी बनाए रखें। दरअसल यह नक्सलियों का आधार क्षेत्र माना जाता है, जो अबूझमाड़ के बीच में स्थित है। यहां तीन महीने पहले ही पुलिस ने अपना कैंप लगाकर डीआरजी फोर्स को तैनात किया था। कैंप पर हमले से पहले नक्सलियों ने यहां रेकी भी की थी। पुलिस के अनुसार करीब 40-50 की संख्या में थे। हमले के दौरान उन्होंने हाई एक्सप्लोसिव बम और मोर्टार भी दागे। इसके बाद जवानों ने जवाब में ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी तब नक्सली भाग खड़े हुए। हमले के बाद पुलिस सर्चिंग में नक्सलियों द्वारा उपयोग किए गए हथियार मिले हैं, वहीं पूरे इलाके में खून के धब्बे मिले है। पुलिस ने आशंका जताई है कि जवाबी फायरिंग में करीब 10 नक्सली मारे गए हैं, जिनके शवों को उनके साथी अपने साथ लेकर फरार हो गए। इसके पहले भी कस्तूरमेटा में होने वाले जनसमस्या निवारण शिविर का नक्सली विरोध कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने शिविर के शुरू होने के कुछ समय पहले ही यहां विस्फोट कर दिया। घटना के बाद आकाबेड़ा और आस-पास के गांवों में दहशत का माहौल है। अब अधिकारी-कर्मचारी और ग्रामीण भी जनसमस्या निवारण शिविर में जाने को लेकर डरे हुए है। उधर पुलिस का कहना है कि हम सुरक्षा व्यवस्था उपलब्ध कराएंगे और शिविर होकर रहेगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 February 2017

 हाथियों ने ली दो लोगों की जान

नारायणपुर थाना क्षेत्र में दो अलग-अलग घटनाओं में हाथियों ने दो लोगों की कुचलकर जान ले ली। यहां से 3 किमी दूर महुआ टोली में 20-25 हाथियों के दल ने महिला कुंवारी देवी(45) पति जगदेव यादव की कुचलकर जान ले ली। घटना के बाद से ग्रामीण दहशत में हैं। वहीं कोटियां गांव में फसल काटने के लिए मजदूर खोज कर वापस लौट रहे थियोफिल लकड़ा को हाथी ने कुचल दिया। उसके साथ मौजूद एक व्यक्ति ने पु‍ल के नीचे छिपकर अपनी जान बचाई। गौरतलब है कि इलाके में पिछले कुछ दिनों से हाथियों का आतंक बढ़ता जा रहा है, जिससे इलाके के ग्रामीण दहशत में है। घटना की सूचना मिलने के बाद पुलिस और वन विभाग का दल मौके पर पहुंचा।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 November 2016

haevan pati

  पत्नी को सलाखों से दागा, जुबान काटी, कमर भी तोड़ी   आदर्श विधायक ग्राम बेनूर की रहने वाली महिला सखावती अपने पति के हैवानियत की शिकार हो गई है। मायके जाने के विवाद में आरोपी पति ने गर्म लोहे से जलाने के बाद उसकी जुबान तक काट दी  है। इतने में ही उसका गुस्सा शांत नहीं हुआ और उसने पत्नी के कमर की हड्डी तोड़ डाली। इस मामले में अभी तक पुलिस में रिपोर्ट दर्ज नहीं हुई है।   महिला एवं बाल विकास विभाग को सूचना देकर प्रशासन की टीम के साथ महिला के घर में दबिश दी गई। बेनूर थाना से कुछ दूरी पर मुख्य सड़क से लगे पीड़ित महिला के झोपड़ीनुमा घर में प्रवेश करने पर महिला अचेत अवस्था में जमीन पर पड़ी मिली। उसके पास रखे भोजन में कीड़े तक पड़ गए थे। उसके पूरे कपड़े मूत्र से गीले पड़े थे। महिला के दयनीय हालत को देखते बेनूर पुलिस की मदद से उसे वाहन में बिठाकर जिला अस्पताल में भर्ती किया गया।   पीड़ित महिला की माता बुधमती सलाम ने बताया कि उनकी बेटी की शादी बड़ेडोंगर थाना क्षेत्र के भंडारसिवनी गांव में की गई थी। उसका पति दयाराम विश्वकर्मा आए दिन उनकी बेटी से मारपीट करता था। उन्होंने बताया कि परिवार में दुख होने पर उनकी बेटी बेनूर आ रही थी तभी आरोपी पति ने उसे रास्ते में रोककर मारपीट करते घर ले गया और गर्म लोहे से पूरे शरीर को दाग दिया।   इसके बाद उनकी बेटी की जुबान काट दी। उन्होंने बताया कि कमर की हड्डी तक टूट गई है। परिवार का कहना है कि गरीबी के चलते वे अपनी बेटी का इलाज कराने में असमर्थ हैं इसलिए उसे अस्पताल में भर्ती नहीं कराया था।   नारायणपुर की महिला संरक्षण अधिकारी किरण नैलवाल  ने बताया पीड़ित महिला के मेडिकल रिपोर्ट का इंतजार है। इसके बाद आरोपी पति के खिलाफ एफआईआर कराई जाएगी। पीड़ित महिला के परिजनों का बयान लिया जा रहा है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 August 2016

Video

Page Views

  • Last day : 8641
  • Last 7 days : 45219
  • Last 30 days : 64212
Advertisement
x
This website is using cookies. More info. Accept
All Rights Reserved ©2022 MadhyaBharat News.