Since: 23-09-2009

  Latest News :
क्रेडिट कार्ड से रेंट भरने पर लगेगा एक्स्ट्रा चार्ज .   कनाडा में हिंदू मंदिर की दीवारों पर भारत विरोधी नारे .   बाइडेन ने दिया मोदी को न्यौता .   7 लाख से कम आये वालों को नहीं देना पड़ेगा कोई टैक्स .   बजट में कुछ सामान हुए सस्ते कुछ महंगा.   पुणे में लग्जरी बस और ट्रक के बीच टक्कर 4 की मौत.   उमा भारती का बड़ा बयान नड्डा जी ने नहीं रोका होता तो खुल जाता शिव मंदिर का ताला.   ट्रक ने आयसर को मारी टक्कर, 5 लोगों की मौत.   मुझे गर्व है प्रदेश के पुलिस प्रशासन पर: शिवराज.   इंदौर में प्रोफेसर सस्पेंड .   मंदिर का ताला नहीं तोड़ने दे रहे है बीजेपी अध्यक्ष .   कमलनाथ झूठे है,जनता से झूठा वादा करते है -शिवराज .   केंद्रीय बजट से छत्तीसगढ़ के मिलेट मिशन को मिलेगा बढ़ावा: अरुण साव.   बजट में महंगाई और बेरोजगारी को कम करने की कोई व्यवस्था नहीं-मुख्यमंत्री बघेल.   देश बिक रहा है,ट्रेने रद्द हो रही है ये है मोदी सरकार की हालत .   पति ने कई सालों से संबंध नहीं बनाये तो पत्नी ने लगाई फांसी .   बीजेपी किसी को निमंत्रण नहीं देती जो आना चाहे आ सकता है-रमन सिंह .   अब बदलेगी ट्रैफिक पुलिस की जैकेट .  

कोरिया News


शासन के चार साल पूरे होने के मौके पर सीएम का सम्बोधित

   'मुख्यमंत्री बघेल ने की तीन महत्वपूर्ण घोषणाएं’ ’सोनहत के घुघरा गौठान में आयोजित कार्यक्रम में शामिल हुए सविप्रा उपाध्यक्ष कमरो, सीसी सड़क तथा रूरल इंडस्ट्रियल पार्क का किया भूमिपूजन’ ’शासन की जनकल्याणकारी योजनाओं ने चहुंमुखी विकास की परिकल्पना को किया साकार - कमरो’ ’विभिन्न विभागों के योजनाओं के तहत हितग्राहीमूलक सामग्रियों से लाभान्वित हुए लोग’ छत्तीसगढ़ सरकार के चार साल पूर्ण होने के उपलक्ष्य में पूरे प्रदेश में आज छत्तीसगढ़ गौरव दिवस कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज अपने निवास कार्यालय रायपुर में छत्तीसगढ़ गौरव दिवस के अवसर पर आयोजित वर्चुअल कार्यक्रम में संबोधित करते हुए प्रदेश की जनता के नाम अपना संदेश दिया।  छत्तीसगढ़ गौरव दिवस पर विकासखंड सोनहत के घुघरा ग्राम गौठान में आयोजित कार्यक्रम में सरगुजा विकास प्राधिकरण उपाध्यक्ष एवं विधायक भरतपुर सोनहत गुलाब कमरो शामिल हुए। कलेक्टर विनय कुमार लंगेह, पुलिस अधीक्षक  त्रिलोक बंसल, सीईओ जिला पंचायत  नम्रता जैन, स्थानीय जनप्रतिनिधि एवं समूह की दीदियां तथा बड़ी संख्या में ग्रामीण जन भी मौजूद रहे। उत्सुकता और उत्साह के साथ मुख्यमंत्री बघेल के संदेश का श्रवण किया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि कमरो ने जनता को संबोधित करते हुए कहा कि छत्तीसगढ सरकार के सफलतम 4 साल पूरे होने पर छत्तीसगढ़ गौरव दिवस का आयोजन किया जा रहा है। इन चार वर्षों में मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल के नेतृत्व में प्रदेश ने निरंतर प्रगति हासिल की है। कोरोना काल के बावजूद शासन की जनकल्याणकारी नीतियों और योजनाओं ने चहुंमुखी विकास की परिकल्पना को साकार किया है।  कलेक्टर लंगेह ने इस दौरान चार सालों में शासन की योजनाओं के जिले में बेहतर क्रियान्वयन और संचालन की प्रगति साझा की। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन आम जन तक बेहतर सुविधाएं पहुंचाने निरंतर प्रयासरत है। कार्यक्रम में  कमरो ने विकासखण्ड सोनहत की जनता के आवागमन की सुविधा के लिए 5 लाख रुपए की लागत से अटल चौक से मेन रोड पहुंच मार्ग तक सीसी सड़क का भूमिपूजन किया। इसके साथ ही लगभग 2 करोड़ की लागत से महात्मा गांधी ग्रामीण औद्योगिक पार्क (रीपा) अधोसंरचना कार्य का भी भूमिपूजन किया गया। कार्यक्रम में विभिन्न विभागों के स्टॉल लगाए गए, जिसमें कृषि विभाग द्वारा 08 हितग्राहियों को रागी बीज तथा 06 हितग्राहियों को स्प्रे मशीन वितरित किए गए। इसी प्रकार श्रम विभाग द्वारा 02 हितग्राहियों को मुख्यमंत्री नोनी सशक्तिकरण सहायता योजना के तहत 20-20 हजार का चेक, मछली पालन विभाग द्वारा 02 हितग्राहियों को महाजाल तथा आइसबॉक्स दिया गया। इस दौरान पशु चिकित्सा विभाग द्वारा भी स्टॉल लगाकर पशुओं का जांच तथा उपचार किया गया। उल्लेखनीय है को इस अवसर पर मुख्यमंत्री  बघेल ने ’मुख्यमंत्री वृक्ष सम्पदा’ की घोषणा करते हुए इस योजना के लिए 100 करोड़ रूपए, सभी शालाओं, छात्रावासों, आश्रमों, शासकीय भवनों के रख रखाव और उन्नयन के लिए एक हजार करोड़ रूपए एवं तकनीकी शिक्षा के स्तर में सुधार हेतु औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थाओं के उन्नयन के लिए ’स्वामी आत्मानंद उत्कृष्ट आईटीआई योजना’ की घोषणा करते हुए इस योजना के लिए 1200 करोड़ रूपए देने की घोषणा की है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 December 2022

राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन बिहान के तहत मिली मदद

 अब अपना जनरल स्टोर चलाती हैं राधना  कहते हैं जहां कुछ कर गुजरने का जज़्बा होता है वहां मुश्किलें भी घुटने टेक देती हैं। ऐसी ही कहानी है विकासखण्ड मनेन्द्रगढ़ के ग्राम पसौरी की राधना दीदी की। पसौरी की रहने वाली राधना को घरेलू काम-काज से फुर्सत नही मिलती थी, 10 सदस्यीय परिवार में अतिरिक्त आमदनी की बहुत आवश्यकता थी। राधना बतातीं हैं कि पिछले कुछ समय से अपना खुद का कुछ काम शुरू करने की इच्छा थी, लेकिन आर्थिक स्थिति उतनी मजबूत नहीं होने के कारण काम शुरू करने के लिए पूंजी की व्यवस्था नहीं हो पा रही थी। जैसे ही राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन बिहान के तहत आजीविका शुरू करने की जानकारी मिली, ग्राम के एकता महिला स्व सहायता समूह से जुड़कर मंजिल की ओर अपना कदम बढ़ाया। वे आगे बताती हैं कि इस समूह में 10 महिला सदस्य हैं बिहान के अंतर्गत पीआरपी दीदियों के द्वारा हमें आजीविका गतिविधियों हेतु मार्गदर्शन दिया गया, जिससे सभी अपने-अपने सुविधा अनुसार गतिविधि का चयन कर आज सफलतापूर्वक संचालन कर रहीं हैं। मैंने जनरल स्टोर शुरू करने की इच्छा जाहिर की, तो मुझे ग्राम संगठन के द्वारा सीआईएफ की राशि 60 हजार रुपए प्राप्त हुए। इन पैसों से मैंने पिछले साल घर पर ही जनरल स्टोर शुरू किया जिससे मुझे प्रतिमाह 4 से 5 हजार रुपए तक का लाभ मिल रहा था। बिहान से मिली मदद से एक आधार बन गया तो दुकान को बड़ा करने का सोचा। अब 10 हज़ार तक का अच्छा फायदा हो रहा है। वे कहती हैं कि घर पर ही दुकान होने से दुकान संचालन के साथ घर-परिवार की देखभाल भी हो जाती है। उन्होंने बताया कि दुकान के लिए सामान वगैरह मनेन्द्रगढ़ में आसानी से मिल जाता है, इस त्यौहारी सीजन में अच्छी बिक्री हुई, जिससे मनोबल और बढ़ा है। अच्छी आमदनी से मैं और पूरा परिवार बहुत खुश हैं, अब परिवार की अतिरिक्त आवश्यकताएं, बच्चों की पढ़ाई के खर्च की चिंता से राहत भी मिली है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  10 December 2022

गौठान स्थित तालाब में मछली पालन को बनाया कमाई का जरिया

पिछला मुनाफा 50 हज़ार से ज्यादा, इस बार अधिक की उम्मीद कलेक्टर विनय कुमार लंगेह के मार्गदर्शन में जिले के गौठानो में स्थित तालाबों में मत्स्य पालन को प्रोत्साहन दिया जा रहा है। स्व सहायता समूह की महिलाओं को प्रशिक्षित कर मत्स्य पालन कार्य से जोड़ा गया है। घरेलू काम-काज में व्यस्त रहने वाली महिलाओं के लिए गौठान आर्थिक उन्नति का नवीन माध्यम बनकर उभरे हैं, आजीविकामूलक गतिविधियों से महिलाओं के जीवन में बदलाव आया है। इसी कड़ी में विकासखण्ड बैकुण्ठपुर के ग्राम चेरवापारा की मातेश्वरी महिला स्व सहायता समूह की महिलाओं के जीवन में तब बदलाव आया जब उन्होंने मत्स्य पालन का कार्य शुरू किया। समूह की अध्यक्ष प्रमिना बताती हैं कि हमारे समूह में 10 महिलाएं हैं। हम आर्थिक रूप से मजबूत बनाने के लिए कुछ काम करना चाहते थे, पर मार्गदर्शन के अभाव में बात नहीं बन पा रही थी। जब जिला प्रशासन के अंतर्गत मत्स्य विभाग के अधिकारियों द्वारा हमें मत्स्य पालन के विषय में जानकारी दी गई, तो महिलाओं में यह काम करने की जिज्ञासा जागी। समूह ने मत्स्य पालन का कार्य शुरू करने के लिए विधिवत इसकी कार्ययोजना को समझा और पूरी जानकारी मिलने के बाद मत्स्य पालन का कार्य शुरू किया। प्रमिना ने बताया कि मत्स्य पालन से समूह को विगत वर्ष 50 हजार रुपए से ज्यादा तक का शुद्ध लाभ प्राप्त हुआ और इस वर्ष उन्हें इससे अधिक लाभ की उम्मीद है। मत्स्य विभाग के सहायक संचालक  सूर्यमणि द्विवेदी ने बताया कि इस समूह द्वारा विगत 3 वर्षों से गौठान स्थित तालाब के 0.50 हेक्टेयर जलक्षेत्र में मत्स्य पालन किया जा रहा है। मत्स्य विभाग द्वारा मत्स्य पालन प्रसार योजना के तहत समूह को 25 लाख मत्स्य स्पॉन तथा एक मत्स्य जाल प्रदाय किया गया है। जिस पर शत प्रतिशत अनुदान शामिल है। समूह को मत्स्य पालन कार्य हेतु विधिवत पूरी जानकारी भी दी गयी। जिससे वे बेहतर तरीके से कार्य कर सकें और लाभ अर्जित कर सकें।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 December 2022

किसानों के लिए मीठा एवं लाभप्रद साबित हो रहा अब वनांचल का खारी नाला

  भौता में निर्मित अर्दन डेम से 100 एकड़ रकबा में सिंचाई की सुविधा उपलब्ध राज्य सरकार द्वारा संचालित सुराजी गांव योजना के तहत नरवा विकास कार्यक्रम अंतर्गत मनेन्द्रगढ़ वनमंडल के खारी नाला में लगभग 01 करोड़ रूपए की लागत राशि से अर्दन डेम का निर्माण किया गया है। इसके निर्माण से वन क्षेत्रों में जल के स्तर में वृद्धि के साथ-साथ 100 एकड़ रकबा में सिंचाई की सुविधा निर्मित हुई है। उक्त सुविधा के उपलब्ध होने पर वनांचल के किसानों के लिए खारी नाला अब मीठा एवं लाभप्रद साबित होने लगा है।  गौरतलब है कि वनमंडल मनेन्द्रगढ़ अंतर्गत ग्राम पंचायत भौता के खारी नाला में 210 मीटर चौड़ाई एवं 10 मीटर ऊंचाई के अर्दन डेम निर्मित की गई है, जिसकी कुल लागत 01 करोड़ रूपए है।  इसका कैचमेंट एरिया 55.00 हेक्टेयर है। उक्त अर्दन डेम के निर्माण से निकटतम ग्रामों के लगभग 40 परिवार प्रत्यक्ष रूप से लाभान्वित होने लगे हैं। जिसमें से 5 सीमांत एवं 35 लघु किसानों के कुल 100 एकड़ रकबा सिंचित होगा एवं जल संरक्षण संरचनाओं के निर्माण से ग्रामों के आसपास क्षेत्रों एवं वन क्षेत्रों में जल के स्तर में वृद्धि होगी। इसके फलस्वरूप वनों के पुनरूत्पादन एवं घनत्व में सघन वृद्धि के साथ-साथ वन्यप्राणियों के लिए पेयजल की व्यवस्था सुनिश्चित हुई है। अन्य परिवारों द्वारा निस्तार के साथ-साथ मछली पालन से संबंधित आजीविका कार्य किया जा सकेगा। निर्मित अर्दन डेम से लगा गौठान बना हुआ है जो पशुधन हेतु लाभप्रद होगा।  गौरतलब है कि वनमंत्री मोहम्मद अकबर के कुशल मार्गदर्शन में वनांचल स्थित नालों में कैम्पा मद के तहत भू-जल संवर्धन संबंधी संरचनाओं का निर्माण तेजी से जारी है। इस तारतम्य में प्रधान मुख्य वन संरक्षक एवं वनबल प्रमुख संजय शुक्ला ने बताया कि मनेन्द्रगढ़ वनमंडल स्थित 15 किमी लम्बाई के खारी नाला में कैम्पा मद से वर्तमान में 435 भू-जल संवर्धन संबंधी संरचनाओं का निर्माण प्रगति पर है। इनमें से अब तक 385 भू-जल संवर्धन संबंधी संरचनाओं का निर्माण पूर्ण हो चुका है। इनके निर्माण के लिए कैम्पा की वार्षिक कार्ययोजना 2021-22 के तहत 4 करोड़ 10 लाख रूपए की राशि स्वीकृत है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 November 2022

बैंक एवं प्रशासनिक अधिकारी आम जन के हित में बेहतर समन्वय के साथ काम करें

केसीसी ऋण, योजनाओं के हितग्राहियों के ऋण प्रकरण, समूहों के बैंक लिंकेज, बीमा क्लेम के शीघ्र निराकरण के निर्देश कलेक्टर विनय कुमार की अध्यक्षता में जिला स्तरीय पुनरीक्षण समिति (डीएलआरसी) एवं जिला स्तरीय स्तरीय सलाहकार समिति (डीएलसीसी) की बैठक गत दिवस 28 नवंबर को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में सम्पन्न हुई। बैठक में कलेक्टर ने किसान क्रेडिट कार्ड जारी करने के प्रकरणों की प्रगति की समीक्षा करते हुए कहा कि कृषि व संबद्ध विभागों के अधिकारी और बैंक इस प्रक्रिया में बेहतर समन्वय एवं सक्रिय भागीदारी दर्ज करते हुए निर्धारित लक्ष्य की पूर्ति में सहयोग करें।  कलेक्टर ने जिले के अभी बैंकों के क्रेडिट डेबिट अनुपात की जानकारी ली। इस दौरान जिन बैंकों का परफॉर्मेंस आशानुरूप नहीं, उन्हें प्रगति के निर्देश कलेक्टर ने दिए। उन्होंने कहा कि विकासखंड स्तर पर होने वाली बैठक में अधिकारी सक्रियता से भाग लें जिससे विकासखंड स्तर पर भी आवेदनों का समाधान हो सके। कलेक्टर ने एनआरएलएम और एनयूएलएम के तहत हितग्राही समूहों के बैंक लिंकेज एवं विभिन्न शासकीय योजनाओं के तहत ऋण प्रकरणों पर त्वरित कार्यवाही करते हुए ऋण स्वीकृत एवं वितरण सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। इसी तरह उन्होंने मुद्रा लोन के आवेदनों, दोहरी प्रामाणिकता, और बीमा क्लेम जैसे प्रकरणों पर भी शीघ्र कार्यवाही कर हितग्राहियों को मदद सुनिश्चित करने के आवश्यक दिशा निर्देश दिए। बैठक में सीईओ जिला पंचायत  नम्रता जैन, लीड बैंक मैनेजर विकास गुप्ता एवं समस्त बैंक के अधिकारीगण उपस्थित रहे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  29 November 2022

जिला स्तरीय छत्तीसगढ़िया ओलंपिक खेलों का होगा शुभारंभ’

कोरिया : ’जिला स्तरीय छत्तीसगढ़िया ओलंपिक खेलों का होगा शुभारंभ’ युवाओं को शारीरिक और मानसिक रुप से मजबूत बनाए रखने के साथ ही अपने अंचल की परंपरागत खेलों के संरक्षण के लिए छत्तीसगढ़ शासन ने छत्तीसगढ़िया ओलंपिक खेलों की शुरुआत की है और इस प्रतियोगिता में लोगों का अपार उत्साह देखने को मिल रहा है। जिले में कलेक्टर विनय कुमार लंगेह के मार्गदर्शन में क्लब, जोन और विकासखंड स्तरीय ओलंपिक के आयोजन के बाद अब 21 से 26 नवंबर जिला स्तरीय खेलों का आयोजन किया जा रहा है। जिला खेल अधिकारी ने बताया कि जिला स्तरीय आयोजन स्वामी आत्मानंद हिंदी माध्यम स्कूल खरवत में आयोजित किया जाएगा। उन्होंने बताया कि ओलंपिक में निर्धारित 14 विधाओं में जिला स्तर पर कुल 944 प्रतिभागी भाग लेंगे। हर विधा में लगभग 3 टीम में मुकाबला होगा। हर दिन 3 से 4 खेलों का आयोजन होगा। जिसमें विजेताओं का चयन किया जाएगा। उल्लेखनीय है कि छत्तीसगढ़ के पारंपरिक खेल गतिविधियों को प्रोत्साहित करने तथा प्रतिभागियों को मंच प्रदान करने, उनमें खेलों के प्रति जागरूकता बढ़ाने और खेल भावना का विकास करने हेतु मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में छत्तीसगढ़िया ओलम्पिक 2022-23 का आयोजन किया जा रहा है। ’छत्तीसगढ़िया ओलम्पिक’ गांव से लेकर राज्य स्तर तक 6 जनवरी 2023 तक चलेगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 November 2022

किसानों तथा पशुपालकों के चेहरे पर छायी खुशी

 मुख्यमंत्री के सौगात से दिपावली त्यौहार की ख़ुशी हुई दोगुनी   राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत जिले के 14 हजार 288 किसानों तथा गोधन न्याय योजनांतर्गत 979 पशुपालकों के खाते में हुआ राशि का अंतरण हुआ। प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 17 अक्टूबर को राजधानी रायपुर स्थित अपने निवास कार्यालय में आयोजित वर्चुअल कार्यक्रम में जिले के किसानों तथा पशुपालकों को दीपावली त्योहार के पूर्व बड़ी सौगात दी है। वर्चुअल कार्यक्रम के जरिए कोरिया ज़िले में राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत 14 हजार 288 किसानों के खाते में कुल 10.89 करोड़ रूपए की राशि का अंतरण किया गया। इसके साथ ही उन्होंने जिले के कुल 113 सक्रिय गौठानो के 979 गोबर विक्रेताओं को गोधन न्याय योजनांतर्गत 1 अक्टूबर से 14 अक्टूबर तक किए गए विक्रय हेतु 6.08 लाख रुपए की राशि उनके खाते में अन्तरित की। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि दीपावली त्यौहार के पहले सभी वर्गों के खाते में राशि अंतरित की जा रही है। ताकि सभी खुशी पूर्वक त्यौहार मना सकें।  उल्लेखनीय है कि कार्यक्रम के जरिए विभिन्न योजनाओं राजीव गांधी किसान न्याय योजना, गोधन न्याय योजना तथा राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना के हितग्राहियों को लगभग 1900 करोड़ की राशि अंतरित की गई, जिससे प्रदेश के किसानों, मजदूरों, पशुपालकों, स्व सहायता समूहों की महिलाओं और गौठान समितियों को लाभ प्राप्त होगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 October 2022

नरवा विकास योजना कर्रा नाला उपचार से सिंचित भूमि रकबे में हुई वृद्धि

   60 से ज्यादा किसानों के खेतों में लहलहाने लगी फसल   शासन की महत्वाकांक्षी योजना नरवा, गरवा, घुरवा और बाड़ी योजनांतर्गत नरवा विकास के जरिये राज्य में भू-जल संरक्षण तथा संवर्धन सुनिश्चित करने सहित नदी-नालों को पुनर्जीवित किया जा रहा है। इस दिशा में नरवा विकास योजना बहुपयोगी योजना साबित हो रही है। नरवा एवं जल स्त्रोतो को उपचारित करने, भूमिगत जल स्तर सुधार एवं मृदा क्षरण रोकने में यह योजना महती भूमिका निभा रही है। सिंचाई क्षेत्र में वृद्धि से किसानों को खेती किसानी में अच्छा लाभ भी मिलने लगा है। कोरिया जिले के विकासखण्ड बैकुण्ठपुर के ग्राम पंचायत उमझर तथा रटगा में कर्रा नाला बहता है, उमझर के आश्रित ग्राम तिलवनड़ांड के हडही नाला से शुरू होकर यह रटगा होते हुए कुल 9.39 किलोमीटर बहते हुए ग्राम अमरपुर के धनुहर नाला में मिल जाता है। खेती-किसानी के लिए आस-पास के किसान कर्रा नाला पर आश्रित हैं। नरवा विकास योजना से वर्ष 2020-21 में कुल 22.45 लाख रुपए की स्वीकृति पर 650 हेक्टेयर क्षेत्र में नरवा का उपचार किया गया। उपचार से सिंचित भूमि के रकबे में 35.5 फीसदी वृद्धि हुई है, वहीं भूजल स्तर में औसत 1 से 1.5  मीटर वृद्धि दर्ज की गई। कर्रा नाला विकास के तहत कुल 193 संरचनाओं का निर्माण किया गया है, जिसमें 15 अर्थन गलीप्लग, 25 ब्रशवुड चेक डेम, 30 एलबीसीडी, 100 कंटूरट्रेंच, 18 फार्म बन्डिंग तथा 05 फार्म पोंड निर्मित किए गए हैं।   62 किसानों के खेतों में लहलहाने लगी फसल, रामरूप तथा बुधनीबाई ने बताया नरवा उपचार से पानी की समस्या हुई दूर नरवा पुनर्जीवन के लिए किए गए योजनाबद्ध कार्यों ने क्षेत्र के 62 किसानों की खुशहाली और समृद्धि का रास्ता खोल दिया है। विभिन्न संरचनाओं के बन जाने से जल स्तर बढ़ा एवं सिंचाई के रकबे में वृद्धि हुई है, जिससे धान के साथ सब्जी उत्पादन, उड़द, मुगफली, गेहूँ इत्यादि का पैदावार होने से किसानों के वार्षिक आय में वृद्धि हुई है। ग्राम रटगा के किसान रामरूप बताते हैं कि उनके पास 12 एकड़ कृषि भूमि है, पहले क्षेत्र में खेती के लिए पानी की बहुत समस्या होती थी, नरवा उपचार से सिंचाई के लिए पर्याप्त मात्रा में पानी मिल रहा है और अब वह धान के साथ सब्जी भी लगा रहे हैं। इसी ग्राम के ही बुधनीबाई ने बताया कि 2 एकड़ में मैंने मक्के की खेती की है, साथ में अतिरिक्त आय के लिए कुछ सब्जियां भी लगायी है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  16 October 2022

शांति बनाये रखने के लिए जिले में तैनात रहेंगे कार्यपालिक दण्डाधिकारी

दशहरा एवं ईद-ए-मिलाद त्यौहार पर शांति व्यवस्था के लिए तैनाती       कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी  कुलदीप शर्मा ने 5 अक्टूबर 2022 दशहरा (विजयादशमी) एवं 09 अक्टूबर 2022 को ईद-ए-मिलाद (मिलाद-उन-नवी)  त्यौहार को देखते हुए जिले में शांति एवं कानून व्यवस्था बनाये रखने के लिए कार्यपालिक दण्डाधिकारियों को दायित्व सौंपा है। कलेक्टर शर्मा ने तहसीलदार एवं कार्यपालिक दण्डाधिकारी बैकुण्ठपुर  मनहरण सिंह राठिया को थाना बैकुण्ठपुर, नायब तहसीलदार एवं कार्यपालिक दण्डाधिकारी बैकुण्ठपुर समीर शर्मा को थाना चरचा, नायब तहसीलदार एवं कार्यपालिक दण्डाधिकारी पटना भीष्म पटेल को थाना पटना, कटकोना, पण्डोपारा चौकी के लिए लिए कार्यपालिक दण्डाधिकारी नियुक्त किया है। वहीं तहसीलदार एवं कार्यपालिक दण्डाधिकारी सोनहत अमरनाथ श्याम को थाना सोनहत, रामगढ़ चौकी तथा नायब तहसीलदार एवं कार्यपालिक दण्डाधिकारी बचरा पोड़ी मनोज पैकरा बचरा पोड़ी में शांति एवं कानून व्यवस्था बनाये रखने के लिए कार्यपालिक दण्डाधिकारी नियुक्त किया है। अनुविभागीय दण्डाधिकारी बैकुण्ठपुर  तथा सोनहत शांति एवं कानून व्यवस्था बनाये रखने हेतु अपने-अपने अनुभाग क्षेत्र के सम्पूर्ण प्रभार में रहेंगे ।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 October 2022

कोरिया में फिर भूकंप के झटके

  गोफ गिरने से 5 मजदूर घायल   छत्तीसगढ़ के कोरिया में  देर रात फिर भूकंप के झटके महसूस किए गए। रिएक्टर स्केल पर इसकी क्षमता 4.6 थी। 18 दिन में यहां दूसरी बार भूकंप के झटके लगे हैं। भूकंप का केंद्र बैकुंठपुर में जमीन से 16 किमी अंदर बताया जा रहा है। ये झटका दो सेकेंड के लिए महसूस हुआ। इसके चलते चरचा अंडरग्राउंड माइंस में गोफ गिरने से 5 मजदूर घायल हो गए। इनमें से 3 को बिलासपुर रेफर किया गया है। जबकि 2 स्थानीय अस्पताल में भर्ती हैं। बताया जा रहा है कि चरचा कालरी क्षेत्र में रात 12.58 बजे भूकंप के झटके महसूस किए गए।  झटकों की वजह से चरचा अंडर ग्राउंड कोल माइंस में गोफ गिर गया। इस दौरान 15 मजदूर काम कर रहे थे। भागते समय 5 मजदूर घायल हो गए। इनमें से तीन मजदूरों को अपोलो अस्पताल रेफर किया गया है।  जुलाई में दूसरी बार बैकुंठपुर में भूकंप के झटके महससू किए गए। इससे पहले 11 जुलाई को 4.3 तीव्रता का झटका आया था।  छत्तीसगढ़ में भूकंपीय गतिविधि की जो दर है, वह बहुत कम है। वजह ये है कि छत्तीसगढ़ के अधिकांश हिस्से में भूगर्भ में बेहद सख्त आग्नेय चट्टानें हैं। केवल उत्तर छत्तीसगढ़ के कुछ हिस्से भूगर्भीय संरचना के कारण संवेदनशील हैं। यहां 2-3 तीव्रता वाले भूकंप आते रहे हैं। इस बार चेतावनी वाली बात यह है कि दूसरी बार 4 तीव्रता से ऊपर का भूकंप आया है। कोरिया जिले में इससे पहले 11 जुलाई को 4.3 तीव्रता का भूकंप आया। 12 दिसंबर 2021 को सुबह 9.30 बजे 3.4 तीव्रता के झटके आए थे। 11 अप्रैल 2021 की दोपहर 12.52 बजे उत्तर व मध्य छत्तीसगढ़ में 3.7 तीव्रता का भूकंप आया। 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  29 July 2022

अंबिकापुर सरगुजा संभाग में भूकंप के झटके

  भूकंप की तीव्रता 4.3 मापी गई    अंबिकापुर सरगुजा संभाग के कोरिया जिले में सोमवार सुबह आठ बजकर 10 मिनट पर भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए। हालांकि  कोरिया जिले में सुबह भूकंप का हल्का झटका लोगों ने महसूस किया। रिक्टर पैमाने पर भूकंप की तीव्रता 4.3 मापी गई है। जानकारी के मुताबिक़ अंबिकापुर में भूकंप का  मामूली झटका था।  सरगुजा जिले में इसे तो लोगों ने महसूस भी नहीं किया। कोरिया जिले में भूकंप की तीव्रता थी वह रिक्टर पैमाने में 4.3 बताई जा रही है। यह जमीन के 10 किमी अंदर सक्रिय होना बताया जा रहा है। कोरिया जिले में भूकंप से किसी तरह की नुकसान की जानकारी नहीं मिली है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  11 July 2022

TEEN TALAQ

तीन तलाक पर पति हुआ गिरफ्तार    तीन तलाक पर नया कानून बनाये जाने के बाद छत्तीसगढ़ में पहली बार तीन तलाक का मामला सामने आया है  |  कोरिया ज़िले के मनेन्द्रगढ़  में रहने वाली एक मुस्लिम महिला ने पति द्वारा तीन तलाक लिए जाने पर थाना पहुँच कर अपनी शिकायत दर्ज कराई |  महिला की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी पति को गिरफ्तार कर लिया है  |  उत्तरप्रदेश के मऊ में रहने वाली उजमा परवीन का निकाह वर्ष 2013 में मनेन्द्रगढ़ निवासी दिलशाद के साथ हुआ था | शादी के कुछ दिनों बाद तक तो सब ठीक ठाक था लेकिन कुछ दिनों के बाद से ही ससुराल पक्ष के लोग दहेज की मांग को लेकर उजमा के साथ मारपीट करने लगे  |  पीड़िता जो कि काफी गरीब घर की थी इसलिए वह ससुराल पक्ष  की मारपीट को बर्दाश्त करती रही इस दौरान उजमा के चार बेटे भी हो गए और वह अभी भी  गर्भवती है | दिलशाद ने अपनी पत्नी के साथ मारपीट की और उसे तीन तलाक कह कर घर से निकाल दिया| पीड़ित महिला ने पुलिस को  अपनी आपबीती बताई |   पुलिस ने पीड़िता की शिकायत पर द मुस्लिम वूमेन प्रोटेक्शन आफ़ राइट आन मैरिज सेकेंड ऑर्डिनेंस 2019 की धारा 4 एक्ट के तहत अपराध दर्ज कर आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया है  |

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 August 2019

 BHUPESH BAGHEL

महिला सफाईकर्मी को घसीटकर बाहर निकाला आम लोगों के साथ क्या सलूक हो रहा है   महिला को घसीटकर बाहर फेंका  कन्या आश्रम में एक अधिकारी पति की गुंडागर्दी    छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी यह खबर जानना आपके लिए बहुत जरुरी है  | आपके राज में सफाई कर्मचारियों के साथ क्या व्यवहार किया जाता है  | एक कन्या आश्रम में अधीक्षक के पति ने घुस कर गुंडागर्दी की और एक महिला सफाई कर्मचारी को घसीट कर बाहर निकाल दिया  | आम लोगों ने बहुत उम्मीदों के साथ आपको सत्ता में बैठाया है  |  अब तो इन गरीब गुरबों पर हो रहे इस अत्याचार को रोकिये जनाब  |  भूपेश बघेल जी आपके राज में छत्तीसगढ़ में एक रसूखदार ने अमानवीयता की सारी हदें पार कर दीं  |  इस शख्स को गौर से देख लीजिये इसका नाम रंगलाल है |  ये दृश्य कोरिया  के वनांचल क्षेत्र बडवाही के कन्या छात्रावास आश्रम का है   | कन्या छात्रावास में  घुसकर गुंडागर्दी कर रहा ये शख्स  आश्रम अधीक्षिका सुमिला सिंह का पति है   | इसने पहले तो आश्रम की बच्चियों को डाटकर महिला सफाईकर्मी का सारा सामान कमरे के बाहर पटकवाया |  फिर इस महिला के छोटे से बच्चे  को उठाकर बहार रखवा दिया  | जैसे बच्चा न कोई सामान हो   | इतने से भी जब इसका मन नहीं भरा तो इस  ने सभी हदें तोड़ते हुए महिला को घसीटकर कमरे से बाहर फैंक दिया  |  इस गुंडे की गुंडागर्दी का शिकार महिला सफाईकर्मचारी  चंद्रकांता है   |  चंद्रकांता के साथ यह घटना बीती 10 अगस्त की है   | पीड़ित महिला ने मामले की एफआईआर जनकपुर थाने में दर्ज करवाई तो पता चला  |महिला शिक्षिका सुमिला सिंह का पति रंगलाल प्राथमिक शाला कर्री माडीसरई में पदस्थ है | और गलत तरीके से कन्या छात्रावास  में रहकर वहां इस तरह की हरकतें करता है | इस घटना का वीडिओ सामने आने के बाद से  रंगलाल  फरार हो गया है  | आदिवासी विभाग ने मामले की जाँच शुरू कर दी है  | इस मामले के तूल पकड़ते ही  | कलेक्टर डोमन सिंह ने कन्या आश्रम की अधीक्षिका व उसके पति रंगलाल को  निलंबित कर दिया है  | मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी इस घटना का तो वीडियो वायरल हो गया और सारा काला सच सबके सामने आ गया  |  न जाने ऐसी कितनी घटनाएं होंगी जो सामने नहीं आ पातीं  | समय रहते आप ऐसी व्यवस्था कीजिये ताकि ऐसी गुंडागर्दी करने से पहले लोग सौ बार विचार करें |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  19 August 2019

नक्सली ब्यूटी क्रीम

पहाड़ों व जंगलों में गर्मी, ठंड व बारिश का ज्यादातर समय बिताने वाले नक्सली अब अपनी खूबसूरती को लेकर भी सजग हो गए हैं। रविवार को इरपानार में हुई मुठभेड़ के बाद पहली बार बरामद स्किन शाइन क्रीम तो यही संकेत दे रही है। नक्सलियों के बीच प्रेम-प्रसंग नई बात नहीं है। ऐसी खबरें आती रही हैं। ऐसे में भला कोई दूसरे से कम सुंदर क्यूं दिखना चाहेगा। इरपानार मुठभेड़ के बाद फोर्स ने जब घटनास्थल की सर्चिंग की तो कुकर बम समेत नक्सलियों के दैनिक उपयोग की सामग्रियों के साथ ही एक कंपनी की स्किन शाइन क्रीम भी उसके हाथ लगी है। इससे पुलिस के आला अधिकारी भी चौंके हैं। जिला अस्पताल के एक डॉक्टर ने बताया कि 130 रुपए कीमत वाली इस क्रीम का उपयोग सामान्यत: लोग चेहरे पर निखार लाने, मुंहासे दूर करने व गोरापन के लिए करते हैं। नक्सली मुठभेड़ के बाद घटनास्थल से दवाइयां बरामद होती रही हैं। इनमें सामान्य बुखार, खांसी, उल्टी-दस्त, मलेरिया के साथ ही शक्तिवर्द्धक दवाइयां भी होती हैं। इतना ही नहीं, ये दवाइयां सरकारी आपूर्ति वाली भी निकली हैं, जिनकी जांच चल रही है। नक्सलियों द्वारा हर घर से एक युवा मांगने का फरमान नया नहीं है। नक्सली जानते हैं कि युवाओं को ही अच्छा योद्धा बनाया जा सकता है। उनके जोश व जुनून का उपयोग किया जा सकता है। युवावस्था होने के कारण महिला नक्सली ही नहीं, पुरुष नक्सली भी खुद को सुंदर दिखाने में दूसरों से पीछे नहीं रहना चाहते। हालात विपरीत होते हुए भी वे इसके लिए वक्त निकाल ही लेते हैं। नारायणपुर के एसपी जितेंद्र शुक्ल ने बताया कि मुठभेड़ स्थल से पहली बार स्किन शाइन क्रीम बरामद हुई है। इससे साफ है कि नक्सली भी अब अपनी खूबसूरती पर ध्यान दे रहे हैं।   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  31 July 2018

छत्तीसगढ़  कोरिया

  छत्तीसगढ़ के कोरिया जिले में गुरुवार को एक हादसे में 20 बच्चों की जान बाल-बाल बच गई। मिली जानकारी के मुताबिक कोरिया जिले के बैकुंठपुर इलाके के बदरिया गांव में एक स्कूली वैन में भीषण आग लग गई। यह हादसा तब हुआ जब उसमें करीब 20 स्कूली बच्चे बैठे हुए थे। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक स्कूल वैन कटकोना से पटना ऐरो किड्स स्कूल जा रही थी, तब शार्ट सर्किट के कारण वैन में आग लग गई। ड्राइवर और स्थानीय लोगों की तत्परता के कारण वैन में बैठे 20 लोगों को तत्काल बाहर निकाल लिया गया और आग बुझाने का प्रयास किया गया। हालांकि जब तक आग पर काबू पाया गया, तब तक वैन पूरी तरह से जलकर खाक हो चुकी थी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 July 2017

chattisgadh news

कोरिया जिले में बहने वाली गुड़घेला नदी पर पुल बन जाने से दो जिले के दर्जनों गांव जुड़ सकते हैं। वहीं ग्राम पंचायत गीरजापुर में बरसाती नाले पर करोड़ों रुपए की लागत से महज 20 परिवार के लिए पुल बनाया जा रहा है। कोरिया- सूरजपुर जिले के सरहद पर स्थित ग्राम पंचायत डूमरिया स्थित है। यहां के ग्रामीणों को सड़क व पुलिया की समस्या जूझना पड़ रहा है पुलिया के लिए ग्रामीण एवं जनप्रतिनिधियों ने कई बार आंदोलन भी किया, तब भी इस ओर ध्यान नहीं दिया गया । जबकि इस पुल के बनने से दो जिले के दर्जनों गांव जुड़ सकते हैं। डुमरिया के बगल गांव गिरजापुर स्टेट हाईवे पर नाले के ऊपर सिर्फ एक मुहल्ला के लिए सेतु विभाग द्वारा करोड़ों की लागत से पुल बनाया जा रहा है, जबकि इस नाले पर छोटे पुल से भी काम चल सकता है। खास बात यह कि सिर्फ एक किलोमीटर के अंतराल में एक और पुल का निर्माण हो रहा है। डुमरिया से पंड़री छापरपारा पोंड़ी, रामानुज नगर तक ढ़ाई किमी सड़क बननी थी। यहां पुल बनने से सूरजपुर जिले के पोंड़ी, पंड़री, छापरपारा, मोरगा, बरहोल, नावापारा, तेलईमुड़ा, धनेद्गापुर, श्रीनगर, देवनगर 10 गांव एवं कोरिया जिले के डूमरिया, आंजो कला, तेंदुआ, आंजो खुर्द, पीपरा, रनई, कुड़ेली सहित 10 से अधिक गांव जुड़ते हैं। पुल नहीं होने से लोग 6 महीने ऐसे ही आवागमन करते हैं ।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  1 July 2017

महामाया लूटकांड

राजहरा थाना क्षेत्र के हितकसा जंगल से 16 फरवरी को पकड़े गए दो हार्डकोर व 5-5 लाख के इनामी नक्सलियों की निशानदेही पर पुलिस ने महामाया खदान से लूटे गए विस्फोटकों का जखीरा बरामद कर लिया है। इस उपलब्धि को हासिल करने वाली पुलिस टीम को 10 लाख 70 हजार रुपए का इनाम दिया जाएगा। साथ ही दो सहायक आरक्षक को आरक्षक पद पर पदोन्नति दी जाएगी। पूछताछ में गिरफ्तार माओवादियों ने एक ट्रेड यूनियन के नक्सलियों से रिश्ते का जिक्र किया है, जिससे बड़ा खुलासा हो सकता है। 27 मार्च 2008 को नक्सली महामाया खदान से 1750 किग्रा विस्फोटक लूट ले गए थे। एएसपी जेआर ठाकुर ने बताया कि पकड़े गए नक्सलियों खड़गांव एरिया कमेटी कमांडर उमेश गावड़े 28 की निशानदेही पर कट्टापार व कोपेनकड़का की पहाड़ी से 16.06 किग्रा जेलेटिन व मोहला (रामगढ़) एरिया कमेटी कमांडर महिला नक्सली अनिला उर्फ धनाय मरकाम 26 की निशानदेही पर 5 किग्रा अमोनिया नाइट्रेट, स्टील के डिब्बे व नक्सल साहित्य बरामद किया गया है। उमेश मूलत: मानपुर जिले के मदनवाड़ा के समीप उरझे गांव का व अनिला मानपुर कोर्सेकला की निवासी है। उमेश अशिक्षित व अनिला 8वीं तक पढ़ी है। साथ काम करते हुए दोनों में प्यार हो गया था। शादी करना चाहते थे। इसी दौरान पकड़ा गए।  दोनों पकड़े गए नक्सलियों पर शासन से 5-5 लाख रुपए, पुलिस महानिरीक्षक द्वारा 30-30 हजार रुपए तथा पुलिस अधीक्षक द्वारा 5-5 हजार रुपए कुल 10 लाख 70 हजार की इनाम राशि पुलिस टीम को मिलेगी। टीम में राजहरा नगर पुलिस अधीक्षक भारतेन्दु द्विवेदी, थाना प्रभारी व प्रशिक्षु उप पुलिस अधीक्षक ऐश्वर्य चन्द्राकर, ई-30 का बल, थाना महामाया से मनोज बंजारे एवं बल, खड़गांव थाना प्रभारी सोनल ग्वाला एवं बल, आईटीबीपी 44वीं बटालियन बी कम्पनी पल्लेमाड़ी असिस्टेंट कमांडेंट अरविंद शामिल थे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  24 February 2017

टमाटर  25 पैसे किलो

  छत्तीसगढ़ में पहले से ही बाजार में टमाटर की मांग न होने से परेशान किसानों को मौसम की दोहरी मार झेलनी पड़ रही है। सोमवार को बागबहार के साप्ताहिक बाजार में टमाटर 25 पैसे किलो में टमाटर बेचना पड़ा। वहीं बाद में जब व्यापारियों ने किसानों से 25 पैसे किलो में भी टमाटर खरीदने से इंकार कर दिया तो कई किसानों को मजबूरन टमाटर को बाजार स्थल पर ही फेंक कर वापस घर लौटना पड़ा। तीन दिनों पहले बारिश के साथ ओलेवृष्टि हुई थी। इससे टमाटर की फसल में कीट लगने की आशंका खड़ी हो गई थी। इससे घबराए किसान सोमवार को बागबहार के साप्ताहिक बाजार में भारी मात्रा में टमाटर लेकर पहुंचे। बाजार में पहले से ही टमाटर की मांग न होने के कारण 1 रुपए प्रतिकिलो बिक रहा था। इधर आवक तेजी से बढ़ने पर व्यापारियों ने सोमवार को 25 पैसे किलो में भी टमाटर खरीदने से इंकार कर दिया। जिस पर किसानों को मजबूरन टमाटर को सड़क पर फेंकना पड़ा। जिसे मवेशी खाते रहे। क्षेत्र के किसानों को कर्ज चुकाने की चिंता सता रही है। किसान अलिंद पटेल, कमलेश भगत, राजकुमार ने बताया कि उन्होंने बीज व्यापारियों से उधार में लिया है और फसल होने पर वे टमाटर बीज, खाद आदि का पैसा पटाते हैं। पुसल की लागत मूल्य भी नहीं मिलने से किसानों को अब इस बात की चिंता सता रही है कि वे व्यापरियों से लिए कर्जज का भुगतान कैसे करेंगे। सहायक संचालक उद्यानिकी रामअवध सिंह भदौरिया का कहना है उत्पादन अधिक होने के कारण देश के कई हिस्सों में यह स्थिति उत्पन्ना हुई है। किसानों को राहत देने के लिए वर्तमान में कोई योजना नहीं है। सूचना जारी की गई है। अगली फसल किसान बीमा योजना का लाभ ले सकेंगे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  10 January 2017

10 rupeey

 रिजर्व बैंक ने 10 रपये के नकली सिक्के के परिचालन में होने की अफवाह को खारिज करते हुए आज लागों से ऐसी झूठी अफवाहों पर ध्यान नहीं देने को कहा। आरबीआई का कहना है कि ‘₹’ के चिह्न वाले और बिना चिह्न वाले 10 रुपए के दोनों सिक्के सही हैं।  केंद्रीय बैंक ने लोगों ने सभी प्रकार के सौदों में बिना किसी झिझक के इन सिक्कों को स्वीकार करने को कहा है।  रिजर्व बैंक ने एक बयान में कहा कि ऐसी सूचना मिली है कि कुछ कम जानकार या गलत जानकारी रखने वाले लोग व्यापार, दुकानदार आदि समेत आम लोगों के बीच इस प्रकार के सिक्कों को लेकर संदेह खड़ा कर रहे हैं।  इससे देश के कुछ भागों में इन सिक्कों का प्रचलन बाधित हो रहा है और इससे भ्रम की स्थिति बन रही है।  बयान के अनुसार, ‘‘रिजर्व बैंक लोगों को सलाह देता है कि वे इस प्रकार की झूठी अफावाह पर ध्यान नहीं दें और उसे अनसूना कर दें और बिना किसी झिझक के अपने सभी सौदों में इन सिक्कों को कानूनी मुद्रा के रूप में स्वीकार करें। ’’

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 November 2016

shiv mahapuran

  धार्मिक ग्रंथ शिव महापुराण-शिव कार्तिक महात्म्य अब आप छत्तीसगढ़ी में भी पढ़ सकेंगे। छत्तीसगढ़ी राजभाषा आयोग इन दोनों धर्मग्रंथों का छत्तीसगढ़ी में अनुवाद करवा रहा है। 28 जनवरी 2017 को राजिम में आयोजित होने जा रहे आयोग के 5वें प्रांतीय सम्मेलन में इनका विमोचन होगा। आयोग ने कुरान का भी छत्तीसगढ़ी में अनुवाद करवाने का फैसला लिया है, इसके लिए साहित्यकारों को ऑफर दिया गया है, फिर उनसे अनुबंध किया जाएगा। शिव महापुराण का अनुवाद साहित्यकार गीता शर्मा और शिव कार्तिक महात्म्य का अनुवाद साहित्यकार गिरजा शर्मा रही हैं। काम लगभग पूरा हो चुका है। आयोग ने बीते वर्ष फैसला लिया था कि प्रत्येक वर्ष 2 धार्मिक ग्रंथ का अनुवाद होगा या फिर किताबें प्रकाशित की जाएंगी। इनका विमोचन छत्तीसगढ़ के साहित्यकारों को समर्पित होगा। 5वां प्रांतीय सम्मेलन पूर्व सांसद एवं संत कवि पवन दीवान को समर्पित होने जा रहा है। बता दें कि यह सारी कवायद छत्तीसगढ़ी भाषा को 8वीं अनुसूचि में शामिल करवाने की है। अब तक इन ग्रंथों का हो चुका प्रकाशन- निषाद उपनिषद, शब्द सागर के साथ-साथ कई किताबें, साहित्य, काव्यों का प्रकाशन हो चुका है। राजभाषा आयोग शिव महापुराण, शिव कार्तिक महात्म्य की एक-एक हजार प्रतियां प्रकाशित करवा रहा है। इनकी बिक्री नहीं होगी, बल्कि ये आयोग कार्यालय से ही उन लोगों को प्रदान की जाएंगी, जो धार्मिक ग्रंथों का महत्व समझते हैं। आयोग इसका चयन अपने पैमाने पर करेगा। आयोग ने डॉ. भीमराव अंबेडकर द्वारा रचित भारतीय संविधान को छत्तीसगढ़ी में अनुवाद करवाने का निर्णय भी लिया है, हालांकि इसमें लंबा वक्त लगेगा। क्योंकि जटिलता बहुत है। अगर यह प्रयास सफल हो जाता है तो आयोग और छत्तीसगढ़ सरकार, भारत सरकार के समक्ष छत्तीसगढ़ी को 8वीं अनुसूची में शामिल करने की दावेदारी प्रमुखता से कर सकती, पक्ष रख सकती है। छत्तीसगढ़ी राजभाषा आयोग  के अध्यक्ष सुरेंद्र दुबे ने बताया छत्तीसगढ़ी को 8वीं अनुसूची में स्थान दिलाना है। अगर हम भारतीय संविधान का छत्तीसगढ़ी में अनुवाद करवाने में सफल होते हैं तो बड़ी उपलब्धि होगी। जब साहित्य समृद्ध होता है तो भाषा भी समृद्ध होती है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  31 October 2016

Video
Advertisement
Advertisement
x
This website is using cookies. More info. Accept
All Rights Reserved ©2023 MadhyaBharat News.