Since: 23-09-2009

  Latest News :
क्रेडिट कार्ड से रेंट भरने पर लगेगा एक्स्ट्रा चार्ज .   कनाडा में हिंदू मंदिर की दीवारों पर भारत विरोधी नारे .   बाइडेन ने दिया मोदी को न्यौता .   7 लाख से कम आये वालों को नहीं देना पड़ेगा कोई टैक्स .   बजट में कुछ सामान हुए सस्ते कुछ महंगा.   पुणे में लग्जरी बस और ट्रक के बीच टक्कर 4 की मौत.   उमा भारती का बड़ा बयान नड्डा जी ने नहीं रोका होता तो खुल जाता शिव मंदिर का ताला.   ट्रक ने आयसर को मारी टक्कर, 5 लोगों की मौत.   मुझे गर्व है प्रदेश के पुलिस प्रशासन पर: शिवराज.   इंदौर में प्रोफेसर सस्पेंड .   मंदिर का ताला नहीं तोड़ने दे रहे है बीजेपी अध्यक्ष .   कमलनाथ झूठे है,जनता से झूठा वादा करते है -शिवराज .   केंद्रीय बजट से छत्तीसगढ़ के मिलेट मिशन को मिलेगा बढ़ावा: अरुण साव.   बजट में महंगाई और बेरोजगारी को कम करने की कोई व्यवस्था नहीं-मुख्यमंत्री बघेल.   देश बिक रहा है,ट्रेने रद्द हो रही है ये है मोदी सरकार की हालत .   पति ने कई सालों से संबंध नहीं बनाये तो पत्नी ने लगाई फांसी .   बीजेपी किसी को निमंत्रण नहीं देती जो आना चाहे आ सकता है-रमन सिंह .   अब बदलेगी ट्रैफिक पुलिस की जैकेट .  

राजनांदगांव News


बीजेपी किसी को निमंत्रण नहीं देती

छत्तीसगढ़ में इस साल होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर बीजेपी अभी से अपनी तैयारियों में जुट गई है। राजनांदगांव जिले के बीजेपी कार्यालय में विधानसभा स्तरीय बैठक का आयोजन मंगलवार को किया गया, जिसमें क्षेत्रीय संगठन मंत्री अजय जामवाल, प्रदेश संगठन मंत्री पवन सिंह, पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह और बड़ी संख्या में भाजपा कार्यकर्ता और पदाधिकारी मौजूद रहे।इस दौरान पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने पत्रकारों से विभिन्न विषयों पर चर्चा की, जिसमें स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव के भाजपा में नहीं जाने वाले बयान और केंद्र में स्थानों का नाम बदलने के मुद्दे पर भी बयान दिया। उन्होंने कहा कि बीजेपी का बड़ा साफ लक्ष्य और साफ सिद्धांत है। बीजेपी के दरवाजे सबके लिए खुले रहते हैं। भारतीय जनता पार्टी निमंत्रण देने नहीं जाती किसी के दरवाजे पर कि आप आइए, लेकिन हां अगर कोई खुले मन से आता है, तो हम उसके लिए दरवाजे खुले रखते हैं। बता दें कि टीएस सिंहदेव ने कुछ दिनों पहले कहा था कि मैं बीजेपी में कभी नहीं जाऊंगा, जो मेरी व्यक्तिगत विचारधारा है, वो मुझे बीजेपी के साथ कभी नहीं जुड़ने देंगी।इसके अलावा लगातार स्थानों के नाम चेंज करने को लेकर रमन सिंह ने कहा कि भारतीय संस्कृति के साथ बहुत छेड़खानी की गई है, बार-बार नाम बदलने का काम किया गया है और भारत के मान-सम्मान और गौरव को ठेस पहुंचाया गया है। अगर इसे फिर से वापस लाने का प्रयास होता है, तो किसी को दिक्कत नहीं होनी चाहिए।उन्होंने कहा कि मुगलसराय का नाम चेंज करके पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी के नाम पर रखा गया। हबीबगंज रेलवे स्टेशन का नाम बदलकर रानी कमलापति रेलवे स्टेशन रखा गया, राष्ट्रपति भवन स्थित मुगल गार्डन अब अमृत उद्यान के नाम से जाना जाएगा, तो इसमें किसी को आपत्ति नहीं होनी चाहिए। ये तो भारत के गौरव को बढ़ाने वाली बात है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  1 February 2023

मेरा घर, मेरा दफ्तर अभियान से शासकीय कार्यालयों में की गई सघन साफ-सफाई

   फाइल व्यवस्थित कर संधारित किया गया वहीं अनुपयोगी वस्तुओं को नष्ट किया गया जिले में शासकीय कार्यालय की सफाई के लिए कलेक्टर  डोमन सिंह के मार्गदर्शन में चलाये जा रहे मेरा घर, मेरा दफ्तर अभियान के तहत सभी शासकीय कार्यालयों में साफ-सफाई की गई। कलेक्टर के आव्हान पर जिले भर में हर माह के पहले शनिवार को शासकीय अधिकारी- कर्मचारी अपने कार्यालय की सफाई कर रहे हैं। कलेक्टोरेट में सभी विभागीय अधिकारी-कर्मचारियों ने फाइल व्यवस्थित कर संधारित किया वहीं अनुपयोगी वस्तुओं को नष्ट किया गया। गौरतलब है कि प्रत्येक माह के तीसरे शनिवार को सुबह 8 बजे से 10 बजे तक शासकीय कार्यालय की साफ-सफाई की जा रही है। सफाई अभियान अंतर्गत रिकार्ड व्यवस्थित रखना है। आज कलेक्टोरेट सहित जिला पंचायत, नगर निगम, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय, संयुक्त जिला कार्यालय भवन, आबकारी कार्यालय, जिला आयुर्वेद अधिकारी कार्यालय, जनसंपर्क कार्यालय, कार्यपालन अभियंता विद्युत, जिला कोषालय, आदिम जाति विभाग, जिला परिवहन कार्यालय, कृषि विभाग, मत्स्य विभाग, पंजीयक कार्यालय, पीएमजीएसवाई कार्यालय, वन विभाग कार्यालय, समस्त एसडीएम कार्यालय, जिले भर के सभी शासकीय कार्यालयों में साफ-सफाई की गई।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 December 2022

आयोजित फोटो प्रदर्शनी के जरिए दी गई सरकारी योजनाओं की जानकारी

  कलेक्टोरेट के सामने छायाचित्र प्रदर्शनी का आयोजन किया गया मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में राज्य सरकार के 4 साल पूर्ण होने पर राज्य शासन की जनकल्याणकारी योजनाओं एवं उपलब्धियों की जानकारी जन-जन तक पहुंचाने के लिए आज सोमवार को जिला मुख्यालय खैरागढ़ के कलेक्टोरेट के सामने छायाचित्र प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। कलेक्टर डॉ. जगदीश कुमार सोनकर के मार्गदर्शन में छायाचित्र प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। सूचना शिविर सह छायाचित्र प्रदर्शनी में राज्य शासन की विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं एवं उपलब्धियों पर आधारित छायाचित्र प्रदर्शनी लगाई गई। जिसका अवलोकन नगर पालिका खैरागढ़ के पार्षद सुमित टांडिया एवं आम नागरिकों ने किया। सूचना शिविर सह छायाचित्र प्रदर्शनी में राज्य सरकार की उपलब्धियों और जन कल्याणकारी योजनाओं के क्रियान्वयन को आकर्षक चित्र और संक्षिप्त जानकारी के साथ प्रदर्शित किया गया। राज्य सरकार की योजनाओं को छायाचित्र में बखूबी तरीके से नागरिकजन समझ रहे है और प्रदर्शनी की सराहना की। प्रदर्शनी को देखने आये लोगों ने कहा कि यह प्रदर्शनी लोगों में एक जागरूकता का माध्यम है, जिसमें मुख्य रूप से गोधन न्याय योजना, सुराजी गांव योजना, राजीव गांधी किसान न्याय योजना, छत्तीसगढ मिलेट मिशन, वनोपज खरीदी, छत्तीसगढ़ न्याय की नई परिभाषा, राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना, स्वामी आत्मानंद सरकारी अंग्रेजी माध्यम स्कूल, राजीव युवा मितान क्लब, बिजली बिल हाफ योजना, कृष्णकुंज, धनवंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर योजना को प्रदर्शित किया गया है। जिससे आम नागरिक शासन की योजनाओं का फायदा उठा सके। इस अवसर पर जनसंपर्क विभाग द्वारा प्रकाशित मासिक पत्रिका जनमन सहित शासकीय योजनाओं पर आधारित पम्पलेट, ब्रोशर का निःशुल्क वितरण किया गया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  19 December 2022

पीएमजीएसवाय सड़क पर किया जा रहा है पैच वर्क

 अचानकपुर-भाटापारा मार्ग पर 5.80 किमी सड़क निर्माण कराया गया राजनांदगांव जिले के अंतर्गत प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत बनाए गए प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना में पैच वर्क का कार्य किया जा रहा है। इसके अंतर्गत अचानकपुर से भाटापारा मार्ग पर 5.80 किलोमीटर पर पैच वर्क का कार्य किया गया है। इससे इस मार्ग पर चलने वाले लोगों को सुविधा पूर्वक आवागमन की सुविधा का लाभ मिलेगा। उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अंतर्गत फेस-1 में इस मार्ग का निर्माण कराया गया था। यह भी उल्लेखनीय है कि जिले में आवागमन सुविधा को दुरूस्त करने की दिशा में लगातार कार्य किया जा रहा है। जिले के प्रमुख सड़कों के साथ-साथ ग्रामीण सड़कों का भी मरम्मत कार्य तेजी से किया जा रहा है। इसी तारतम्य में इस मार्ग का पैच वर्क किया गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  16 December 2022

सीएम हाट बाजार क्लीनिक योजना सुदूर वनांचल क्षेत्रों में स्वास्थ्य सुविधाएं पहुंची

ग्रामवासियों को घर के समीप मिल रही नि:शुल्क चिकित्सा सेवाएं शासन की मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लीनिक योजना सुदूर वनांचल क्षेत्रों में स्वास्थ्य सुविधाएं पहुंचाने की दिशा में कारगर साबित हो रही है। ग्रामीण क्षेत्रों में जनसामान्य के घर के समीप जाकर उन्हें नि:शुल्क चिकित्सा सेवाएं दी जा रही हैं। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा हर हफ्ते हाट बाजार क्लीनिक में जांच और ईलाज की सुविधा से ऐसे मरीजों को त्वरित रूप से आधारभूत स्वास्थ्य सेवाऐं मिल रही हंै। ग्रामीण तथा शहरी स्लम क्षेत्रों में पैथोलाजी प्रयोगशालाएँ नहीं होने के कारण मरीजों को छोटी-छोटी जाँच के लिए भी शहरी क्षेत्रों तक आना पड़ता था। लेकिन अब हाट बाजार क्लीनिक में ही रक्तचाप, मधुमेह, सिकलसेल, एनीमिया, हीमोग्लोबिन, मलेरिया, टाईफाईड जैसी बीमारियों के लिए खून की जांच नि:शुल्क हो रही है। जिससे लोगों का बीमारी की स्थिति में त्वरित ईलाज हो रहा है। जिले में 23 हाट बाजार क्लीनिक के माध्यम से चिकित्सा सुविधा दी जा रही है। जहां चिकित्सा अधिकारी, ग्रामीण चिकित्सा सहायक तथा पैरामेडिकल स्टाफ की साप्ताहिक ड्यूटी लगायी गई है। आवश्यक दवाईयां, जांच किट व उपकरण की उपलब्धता प्रत्येक हाट बाजार क्लीनिक में सुनिश्चित की गई है। 1 अप्रैल 2022 से 8 दिसम्बर 2022 तक 91 हजार 10 लोगों को हाट बाजार क्लीनिक का लाभ मिला है। साथ ही 84 हजार 113 लोगों को दवाई वितरित की गई है। मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लीनिक में मलेरिया, फायलेरिया, टी.बी., डायरिया, डेंगू, कुपोषण, एनिमिया, सिकल सेल, उच्च रक्तचाप, मधुमेह, हिमोग्लोबिन एवं गर्भवती महिलाओं की जांच आवश्यकतानुसार की जा रही है। साथ ही परिवार नियोजन सामग्री का वितरण, दृष्यता परीक्षण, कुष्ठ रोग की जांच, सामान्य चर्मरोग, एचआईव्ही जांच भी किया जा रहा है। आवश्यकता पडऩे पर मरीजों को उच्च अस्पताल में रिफर किया जा रहा है। मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल ने भेंट मुलाकात कार्यक्रम के दौरान जनसामान्य ने इस योजना को सार्थक बताया। मुख्यमंत्री द्वारा जिले में संचालित मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लीनिक योजना की सराहना की गई।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  15 December 2022

राजनांदगांव जिला स्तरीय युवा महोत्सव का हुआ विधिवत समापन

  जिला स्तरीय महोत्सव से 75 प्रतिभागियों का संभागीय युवा महोत्सव कार्यक्रम के लिए हुआ चयन जिला स्तरीय युवा महोत्सव कार्यक्रम का आज पद्मश्री गोविंदराम निर्मलकर ऑडिटोरियम में विधिवत समापन हुआ। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सूर्यमुखी देवी राजगामी संपदा न्यास के अध्यक्ष  विवेक वासनिक ने कहा कि राजनांदगांव जिला साहित्य के क्षेत्र में विख्यात है। यहां अनेक साहित्यकारों ने जन्म लेकर जिले का गौरव बढ़ाया है। उन्होंने कहा कि डॉ. पदुमलाल पुन्नालाल बख्शी, डॉ. बलदेव प्रसाद मिश्र जैसे विख्यात साहित्यकारों ने जिले का गौरव बढ़ाया है। उन्होंने कहा कि उन्हें भी अपने विद्यालय और महाविद्यालय समय में युवा महोत्सव कार्यक्रम में शामिल होने का मौका मिला है। युवा महोत्सव कार्यक्रम का आयोजन होने से सांस्कृतिक गतिविधियों को बल मिलता है और आने वाली पीढ़ी अपनी संस्कृति और विरासत को आगे बढ़ाने का सूत्रधार बनते हैं। इस अवसर पर छत्तीसगढ़ खादी ग्रामोद्योग के सदस्य  किशन खंडेलवाल ने कहा कि मुख्यमंत्री की सोच से छत्तीसगढ़ की संस्कृति को समझने का मौका मिल रहा है। इस अवसर पर सिंधु एकादमी बोर्ड के सदस्य अशोक पंजवानी ने युवा महोत्सव कार्यक्रम को महत्वपूर्ण बताते हुए कहा कि ऐसे कार्यक्रम से युवा पीढ़ी अपनी परंपरागत संस्कृति और विरासत से रूबरू होते हैं। कलेक्टर डोमन सिंह ने महोत्सव में शामिल युवाओं को अपनी शुभकामनाएं देते हुए कहा कि युवाओं ने बड़ी संख्या में हिस्सा लेकर युवा महोत्सव कार्यक्रम को सफल बनाया है। उन्होंने संभागीय स्तर पर चयनित युवाओं को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि वे अपना प्रदर्शन जारी रखें और अपने साथ अपने घर, परिवार और जिले का नाम रोशन करें। इस अवसर पर  निर्णायक मंडल के सदस्यों को भी स्मृति चिह्न भेंट कर सम्मानित किया गया। इस अवस पर जनप्रतिनिधि, पुलिस अधीक्षक  प्रफुल्ल ठाकुर, जिला पंचायत सीईओ अमित कुमार, नगर निगम आयुक्त डॉ. आशुतोष चतुर्वेदी, संयुक्त कलेक्टर  खेमलाल वर्मा, सहायक संचालक खेल एवं युवा कल्याण विभाग  ए एक्का, नोडल अधिकारी  उषा चटर्जी सहित अन्य अधिकारी एवं बड़ी संख्या में प्रतिभागी उपस्थित थे।   उल्लेखनीय है कि जिला स्तरीय युवा महोत्सव कार्यक्रम में ब्लॉक स्तर पर चयनित 1 हजार 338 प्रतिभागियों ने 26 विधाओं में अपनी कला और प्रतिभा का प्रदर्शन किया। जिला स्तर पर इन प्रतिभागियों ने विभिन्न विधाओं में प्रदर्शन करते हुए लोगों का मन मोह लिया। आज जिला स्तर पर चयनित 75 प्रतिभागी संभागीय युवा महोत्सव में अपनी प्रस्तुति देंगे। जिला स्तरीय युवा महोत्सव कार्यक्रम में विजेता प्रतिभागियों को प्रतीक चिन्ह भेंट कर उनका हौसला बढ़ाने के साथ ही उन्हें आगे बढऩे की शुभकामनाएं दी। इनमें शास्त्रीय गायन, तबला वादन, कथक नृत्य, वाद विवाद प्रतियोगिता, निबंध प्रतियोगिता, गीत प्रतियोगिता,  पारंपरिक वेशभूषा, लोक नृत्य, लोक गीत, सुआ नृत्य, पंथी नृत्य, राउत नाचा, सरहुल नृत्य,  गेड़ी नृत्य,  एकांकी नाटक, खो-खो एवं कबड्डी विधा में प्रथम एवं द्वितीय स्थान पर रहे प्रतिभागियों को पुरस्कृत किया गया। इन सभी विधाओं में 2 आयु वर्ग में युवा महोत्सव कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इनमें 15 से 40 वर्ष एवं 40 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के प्रतिभागियों के बीच महोत्सव का आयोजन हुआ ।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  10 December 2022

अतिवृष्टि से प्रभावित पीड़ितों की सहायता

753 पीडितों को 63 लाख 50 हजार 700 रूपए आर्थिक भुगतान कलेक्टर डोमन सिंह के निर्देश पर 18 नवम्बर 2022 को अतिवृष्टि से मकान पूर्णत: क्षति होने पर 43 पीडि़तों को 40 लाख 89 हजार रूपए एवं अतिवृष्टि से मकान आंशिक क्षति होने पर 674 पीडि़तों को 21 लाख 90 हजार 700 रूपए तथा अतिवृष्टि से पशु कोठा क्षति होने पर 34 पीडि़तों को 51 हजार रूपए एवं अतिवृष्टि से 2 पीडि़तों का बैल गाड़ी क्षति होने पर 20 हजार रूपए इस तरह कुल 753 पीडितों को 63 लाख 50 हजार 700 रूपए तहसीलदार छुरिया, डोंगरगांव, मोहला, मानपुर, राजनांदगांव, खैरागढ़, डोंगरगढ़, छुईखदान द्वारा पीडि़तों को आर्थिक सहायता अनुदान राशि का भुगतान किया गया।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  29 November 2022

स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूल छुईखदान में बाल मेले का हुआ आयोजन

संविधान दिवस के उपलक्ष्य में मंच से सभी को संविधान की शपथ दिलाई गई  स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूल छुईखदान परिसर में आज स्कूल प्रबंधन द्वारा बाल मेले का आयोजन किया गया l कार्यक्रम में मुख्य अतिथि  यशोदा नीलाम्बर वर्मा जी (विधायक विधानसभा खैरागढ़) व अध्यक्षता  पार्तीका संजय महोबिया (अध्यक्ष नगर पंचायत छुईखदान) द्वारा किया गया l कार्यक्रम में विशेष अतिथि के रूप में जिला खैरागढ़ छुईखदान गंडई के कलेक्टर डॉ।  जगदीश कुमार सोनकर जी ,छुईखदान जनपद पंचायत अध्यक्ष  नीना विनोद ताम्रकार जी,  ललित महोबिया जी (उपाध्यक्ष जनपद पंचायत छुईखदान) गिरवर जंघेल (पूर्व विधायक)  मोतीलाल जंघेल,  राम कुमार पटेल,  हेमंत वैष्णव व अन्य सम्मानीय , जनप्रतिनिधि गणों के साथ साथ, शाला प्रबंधन की पूरी टीम, शिक्षक शिक्षिकाएं और कार्यक्रम के विशेष आकर्षण स्कूल के विद्यार्थी कार्यक्रम में उपस्थित थे l   बाल मेला के रूप में आयोजित इस कार्यक्रम में बच्चो द्वारा करीब 50 स्टॉल लगाया गया था जिसमे बच्चे अपनी पाककला का प्रदर्शन करते हुए विभिन्न तरह के स्वादिष्ट व्यंजन उपलब्ध करा रहे थे, अतिथियों ने पूर्ण स्टॉल का निरीक्षण करते हुए बच्चों की इस कला का हौसला अफजाई किया व बच्चों के बनाए गए व्यंजनों का लुत्फ उठाया , और आने वाले उज्ज्वल भविष्य की कामना की l   विधायक यशोदा नीलाम्बर वर्मा द्वारा अपने उद्बोधन में बच्चों को शिक्षा का महत्त्व बताते हुए इस पर प्रकाश डाला गया कि किसी भी विषम परिस्थिति में विद्या को आपसे कोई नहीं छीन सकता और आपकी भविष्य की बुलंदियों को छूने में इस का अपना विशेष महत्त्व है l कार्यक्रम की अध्यक्ष पार्तिका संजय महोविया जी द्वारा बच्चों को उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना के साथ साथ स्वामी आत्मानंद स्कूल में नगर पंचायत छुईखदान द्वारा कराएँ गए विकास कार्यों की जानकारी दी गई और भविष्य में बच्चों के विकास के लिए और स्कूल प्रबंधन के लिए पूरा सहयोग करने की बात कही l  मा कलेक्टर डॉ जगदीश सोनकर ने आज संविधान दिवस के उपलक्ष्य में मंच से सभी को संविधान की शपथ दिलाई और बच्चो को बाबा साहब के महत्ता के बारे में बताया, संविधान और उसका जीवन में तथा भविष्य में क्या योगदान है इसके बारे में विद्यार्थियों को विस्तार से बताकर, विद्यार्थियों की उज्ज्वल भविष्य की कामना के साथ कलेक्टर     ने अपना उद्बोधन समाप्त किया l कार्यक्रम का विशेष आकर्षण कलेक्टर डॉ जगदीश थे जो बच्चों के बीच में पूर्ण रूप से घुल मिल गए थे तथा विद्यार्थी अपने बीच जिले के कलेक्टर को पाकर फूले न समाते हुए उस क्षण को सेल्फी व् फोटो के साथ में समेटने में लगे हुए थे l.इस अवसर पर विद्यार्थियों द्वारा नृत्य में प्रस्तुति कर गांधीजी के आदर्शों व कत्थक नृत्य की विलुप्त होती विद्या को उजागर करने का प्रयास किया गया

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  27 November 2022

राजनांदगांव स्थित रेस्ट हाउस में अधिकारियों की समीक्षा बैठक प्रारंभ

गौठानों में कुक्कट पालन एवं फ्लाई ऐश ब्रिक्स जैसी आयमूलक गतिविधियों को बढ़ावा देने के निर्देश   अधिकारियों को निर्देश दिया गया कि रूलर इंडस्ट्रियल पार्क में इंडस्ट्रियल एवं उत्पादन से जुड़े यूनिट को लिया जाना है, इस बात का विशेष ध्यान रखें।रीपा का उद्देश्य उद्यमियों को आगे लाना है ताकि बड़े पैमाने पर रोजगार सृजन की गतिविधि बढ़ सके। कल भेंट मुलाकात में आए भू-अर्जन के प्रकरणों के बारे में पूछा गया- नोटिफिकेशन के बाद किसी को भी पूर्व दर पर भू-अर्जन हुआ तो बताएं, इस पर एसडीएम ने कहा कि ऐसा नहीं हुआ है।क्रॉप कटिंग एक्सपेरिमेंट के बारे में पूछने पर अधिकारी ने बताया कि क्रॉप कटिंग लगातार जारी है।  इस मामले में अधिकारियों को फील्ड असिंचित और सिंचित वाले प्रकरण पर ध्यान देने के निर्देश ताकि असिंचित किसानों को दिक्कत न हो। उद्यानिकी अधिकारी ने बीमा के बारे में पूछने पर बताया कि शत-प्रतिशत प्रकरण में मुआवजा वितरित हो चुका है। कल सुरगी में दो महीने से नमक नहीं मिलने की वजह पूछने पर खाद्य अधिकारी ने बताया कि जांच की गई, महिला का बेटा दो दिन पूर्व ही नमक ले गया था। इसका ऑनलाइन स्टेटस भी है।अधिकारियों को बताया गया कि भूमिहीन मजदूर न्याय योजना में रेजिस्ट्रेशन 13000 हैं, इसके बढ़ने की गुंजाइश है। कृषि के अलावा अन्य कार्य करने वाली ग्रामीण जातियां भी यदि पात्र हैं तो उन्हें इसका लाभ दें। जनपद में जाकर ऐसे समुदाय जो कृषि के अलावा अन्य कार्य करते हैं उनका चिन्हांकन कर उनका नाम भूमिहीन मजदूर न्याय योजना के रजिस्ट्रेशन में जोड़ें। बैठक में अधिकारियों से पूछा गया कि स्वामी आत्मानंद इंग्लिश मीडियम स्कूल के अलावा अन्य स्कूलों में सिलेबस पूर्ण करने में क्या प्रगति है, कोर्स को पूरा करने का औसत क्या है, इस पर डीईओ ने बताया कि 65 प्रतिशत है। अधिकारियों को कहा गया कि कलेक्टर को इसकी जानकारी दें। इसकी मॉनिटरिंग जरूरी है। मध्याह्न भोजन के बारे में पूछने पर डीईओ ने बताया कि इसकी जांच निरंतर हो रही है।  वृहद सर्वे करने  और दीवारों पर लिखित मेनू अद्यतन करने का कार्य सर्वोच्च प्राथमिकता में करने के निर्देश। जाति प्रमाण पत्र के संबंध में निर्देश : साक्ष्य या अभिलेख की कमी होने की स्थिति में आवेदक को स्पष्ट वस्तुस्थिति की जानकारी मुहैया कराएं। प्रमाण पत्र नहीं बनने की स्थिति में रिपोर्ट में स्पष्ट अंकित करें। स्कूल के बच्चों के नाम के साथ साथ उनकी जाति की सूची बनाएं और उन्हें ग्राम पंचायत में पारित करने के लिए भेजें। इस तरीके से बेहतर समन्वय स्थापित करें। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल राजनांदगांव स्थित रेस्ट हाउस में अधिकारियों की समीक्षा बैठक ले रहे हैं। उनके साथ बैठक में संस्कृति मंत्री श्री अमरजीत भगत उपस्थित।  मुख्यमंत्री बघेल ने अधिकारियों से धान खरीदी की स्थिति जानी, उन्होंने बारदाने और भुगतान के संदर्भ में जानकारी पूछी- अधिकारियों ने बताया कि बारदाने का पर्याप्त प्रबंध है और भुगतान भी 48 घंटे के भीतर हुआ है। मुख्यमंत्री ने राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना के बारे में कहा कि एक 80 साल के बुजुर्ग ने मुझे बताया कि उसे लाभ हुआ है।उसके चेहरे में जो संतोष था मुझे राहत मिली। देखिए ये कितनी महत्वपूर्ण योजना है। इसके लाभ का दायरा बढ़ना चाहिए। लोगों तक इसका लाभ मिले, यह सुनिश्चित करें। जितना ध्यान देंगे, उतनी ही बेहतर स्थिति होगी। तेंदूपत्ता संग्राहकों को हुए भुगतान के विषय में भी उन्होंने पूछा- चिल्हाटी में जो प्रकरण आये थे, उस पर डीएफओ ने विस्तार से जानकारी दी। सुरगी में आए नमक के मामले पर मुख्यमंत्री ने पूछा -अधिकारी ने बताया कि 15 मिनट ट्रेस करने में लगा, उनका बेटा नमक ले जा चुका था। मुख्यमंत्री ने कहा कि ऐसी बातों को तुरंत क्लियर करें ताकि जनता को वस्तुस्थिति की जानकारी मिल पाए और भ्रम न रहे।सड़क कब बनी, संधारण कब हुआ था, विस्तार से पूछा-  इस पर पीडब्लूडी के अधिकारियों से कहा कि ग्रामीण सड़क बढ़िया होनी चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह सर्वोच्च प्राथमिकता का कार्य है। मुख्यमंत्री ने जाति प्रमाण पत्र के बारे में पूछा- अधिकारी ने इस बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए कहा कि 15 प्रतिशत लक्ष्य बचा है। इसे मिशन मोड में पूरा कर रहे हैं। एक केमिकल फैक्ट्री से हो रहे नुकसान की शिकायत कल सुकुलदैहान में आई। मुख्यमंत्री ने इस बारे में वस्तुस्थिति पूछी-मुख्यमंत्री ने कहा कि एग्रीमेंट देख लें और यह देखें कि धान फसल जब लगी हो ऐसा न करें। वायलेशन पर कार्रवाई के निर्देश।  शहरी स्वास्थ्य मिशन के बारे में बात करते हुए मुख्यमंत्री ने एवरेज पूछा- अधिकारी ने बताया कि एवरेज फुट फॉल 88 है जो प्रदेश में तीसरे स्थान पर है। मुख्यमंत्री ने नगरीय निकाय के बारे में जानकारी ली और कहा स्ट्रीट लाइट भी बढ़िया होनी चाहिए। सुधार की स्थिति की निरंतर मॉनिटरिंग करें। अधिकारियों से पूछा गया-विद्युत विभाग में एक प्रकरण आया जिसमें मुआवजा माँगा गया। दुर्घटना हुई और मुआवजा नहीं मिल पाया। अधिकारी ने बताया कि उत्तराधिकार प्रमाण पत्र नहीं दिया गया था।   सचिव ने कहा कि इस तरह के मामले जिसमें अपंगता हुई है। उसकी रिपोर्ट दीजिये। इस संबंध में समीक्षा की जाएगी।मुख्यमंत्री ने बीएनसी मिल के सम्बन्ध में  कहा कि कुछ एक्टिविटी शुरू कराएं। जूट मिल शुरू कर सकते हैं। अधिकारियों ने कहा कि नेशनल टेक्सटाइल कारपोरेशन की जमीन है। मुख्यमंत्री ने कहा कि इसका बेहतर उपयोग हो। शीघ्र ही इसके लिए कार्ययोजना बनाएं। कारपोरेशन से भी चर्चा करें।चिटफण्ड कंपनियों पर हुई कार्रवाई का स्टेटस भी उन्होंने पूछा- अधिकारी ने विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि अब तक 15 करोड़ रुपये निवेशकों को वितरित हो चुके हैं।6 करोड़ 92 लाख रुपये शीघ्र वितरित होंगे। डायरेक्टर्स पर क्या कार्रवाई हुई- मुख्यमंत्री ने पूछा। नामांतरण, बंटवारा जैसे राजस्व प्रकरणों की स्थिति के बारे में भी उन्होंने पूछा- मुख्यमंत्री ने कहा कि बिल्कुल पारदर्शिता होनी चाहिए। लोगों को अपने काम के लिए भटकना न पड़े। हमारे सबसे ज्यादा सरोकार इस बात से है कि लोग संतुष्ट हों। यह तब होगा जब इसकी मॉनिटरिंग बारीकी से होती रहेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि भेंट-मुलाकात का यह लाभ होता है कि हम सीधे जनसमस्याओं से रूबरू हो पाते हैं और उन्हें ठीक करते हैं। इसे सर्वोच्च प्राथमिकता दें मुख्यमंत्री ने स्कूलों में पढ़ाई की स्थिति पूछी - कहा कि अभी कुछ ही महीने शेष हैं। पूरा जोर लगाएं। पेरेंट्स को भी शामिल करें ताकि सामूहिक रूप से बच्चों की बढ़िया पढ़ाई पर ध्यान दिया जा सके। मुख्यमंत्री ने पेंशन और छात्रवृत्ति के बारे में भी पूछा- कहा कि आप लोग अच्छा काम करें। जनहित सर्वोपरि है। मैं आता रहूंगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 November 2022

मुख्यमंत्री ने कहा कि 43 विधानसभा में भेंट-मुलाकात हो चुकी है

  जनता का उत्साह देखकर बहुत अच्छा लगता है। हमारी योजनाएं लोगों तक पहुंच रही हैं    कल पैरादान भी हुआ, इससे अन्य किसान भी उत्साहित होंगे। मैं आपसे भी अनुरोध करता हूँ कि पैरादान को प्रेरित करें। सड़कों को लेकर कुछ शिकायत आई है। दिसंबर तक इनके संधारण के निर्देश दिए हैं। नई सड़कों के लिए भी कहा है। 15 करोड़ रुपये अब तक 19 हजार चिटफंड के निवेशकों को दिए जा चुके हैं। कल डायलिसिस यूनिट भी आरम्भ किया। राजनांदगांव शहर के सौंदर्यीकरण के लिए 4 करोड़, मोहरा पुन्नी मेला स्थल विकास के लिए 2 करोड़ और शहर के भीतर  अन्य विकास कार्यों के लिए एक करोड़ रुपये, कुल मिलाकर शहर के विकास के लिए 7 करोड़ रुपये दिए हैं। कोदो कुटकी जैसे वनोपजों का वैल्यू एडिशन कर रहे हैं।  सरगुजा में देखें तो जवाफूल होता है, वहां हालर मिल लगा दी गई है, किसानों को जवाफूल का दाम अच्छा मिल रहा है। गौठान में बहुत सी गतिविधि शुरू की गई हैं । रूरल इंडस्ट्रियल पार्क के माध्यम से 600 करोड़ निवेश किये जा रहे हैं ताकि ग्रामीण उद्यमियों को बढ़ावा दे सके।  युवा उद्यमियों के लिए बड़ी संभावना है। अब 300 रीपा के माध्यम से इसे बढ़ावा मिलेगा। हमारे आईटीआई पुराने ट्रेड पर काम कर रहे थे। हमने नए ट्रेड भी जोड़े हैं ताकि नए समय के मुताबिक युवाओं का कौशल संवर्धन कर सकें। टाटा समूह से भी अभी बात हुई है। हम उद्यम का शानदार माहौल बना रहे हैं। मेडिकल कॉलेज तक लोगों को ले जाने ई-रिक्शा के लिए स्व-सहायता समूहों को मदद करने के प्रश्न पर मुख्यमंत्री ने कहा कि आपका सुझाव अच्छा है, व्यवस्था कराई जाएगी।राजनांदगांव में तहसील कार्यालय में सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं और अधिकारियों के मोबाइल नंबर साझा किए गए हैं। क्या यह व्यवस्था अन्य तहसीलों में भी होगी। इस प्रश्न के उत्तर पर उन्होंने कहा कि पारदर्शिता का यह काम बहुत अच्छा है। इसे अन्य जगहों पर भी फॉलो करना चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारा सबसे ज्यादा जोर मेडिकल एजुकेशन पर है। चार साल में ही हमने मेडिकल एजुकेशन का विस्तार किया। इससे हेल्थ का बढ़िया इन्फ्रास्ट्रक्चर प्रदेश में खड़ा होगा। शहरी युवाओं के बारे में आए एक प्रश्न पर उन्होंने कहा कि हमारी परंपरा है कि सुदृढ गांवों के आधार पर विकसित शहर तैयार आते हैं। पहले लोग गांव से शहर की ओर जाते थे अब किसान हितैषी योजनाओं से यह उलट गया है। शहरों पर दबाव घटा है। आर्थिक रूप से गुलज़ार होने से गांव शहरी अर्थव्यवस्था को पंप कर रहे हैं।  रीपा में हम सभी उद्यमियों को बढ़ावा दे रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि अपनी संस्कृति का संरक्षण भी अहम जरूरत है। इसके लिए कार्य कर रहे हैं। आदिवासी महोत्सव के माध्यम से और अन्य माध्यम से हम ये कर रहे हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 November 2022

मुख्यमंत्री ने भेंट-मुलाकात के दौरान राजनांदगांव क्षेत्र पहुंचे

   63 करोड़ 61 लाख 21 हजार रूपए के 22 विकास कार्यों का लोकार्पण एवं भूमिपूजन किया  46 करोड़ 88 लाख 39 हजार रूपए के 17 कार्यों का भूमिपूजन एवं 16 करोड़ 72 लाख 82 हजार रूपए के 5 कार्यों का किया लोकार्पण मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भेंट-मुलाकात कार्यक्रम के दौरान राजनांदगांव विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत 63 करोड़ 61 लाख 21 हजार रूपए के। 22 विकास कार्यों का लोकार्पण एवं भूमिपूजन किया। जिनमें 46 करोड़ 88 लाख 39 हजार रूपए के 17 कार्यों का भूमिपूजन एवं 16 करोड़ 72 लाख 82 हजार रूपए के 5 कार्यों का लोकार्पण किया गया। जिसमें कार्यपालन अभियंता लोक निर्माण विभाग राजनांदगांव के अंतर्गत 7 करोड़ 96 लाख 79 हजार रूपए के 3 कार्य, कार्यपालन अभियंता जल संसाधन संभाग के अंतर्गत 2 करोड़ 65 लाख रूपए का एक कार्य एवं कार्यपालन अभियंता सेतु निर्माण लोक निर्माण विभाग दुर्ग के अंतर्गत 6 करोड़ 11 लाख 3 हजार रूपए के कार्य का लोकार्पण किया गया। इसी तरह मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी खण्ड राजनांदगांव के अंतर्गत 6 करोड़ 26 लाख 55 हजार रूपए के 7 कार्य, कार्यपालन अभियंताा जल संसाधन संभाग राजनांदगांव के अंतर्गत 2 करोड़ 67 लाख 25 हजार रूपए का 1 कार्य, कार्यपालन अभियंता ग्रामीण यांत्रिकी सेवा संभाग राजनांदगांव के अंतर्गत 15 लाख रूपए का 1 कार्य, कार्यपालन अभियंता लोक निर्माण विभाग राजनांदगांव के अंतर्गत 14 करोड़ 4 लाख 59 हजार रूपए के 7 कार्य तथा मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी जिला राजनांदगांव के अंतर्गत 23 करोड़ 75 लाख रूपए के एक कार्य का भूमिपूजन किया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 November 2022

मुख्यमंत्री ने सुकुल दैहान के किसान लिल्लू दास खरे के घर आत्मीय भाव से किया भोजन

  लाखड़ी भाजी, चना भाजी , गुलगुला भजिया एवं पारंपरिक छत्तीसगढ़ी व्यंजनों का लिया स्वाद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भेंट मुलाकात के क्रम में आज  राजनंदगांव विधानसभा के ग्राम सुकुल दैहान पहुंचे । मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल ने दोपहर का भोजन किसान लिल्लू दास खरे के घर में किया। घर पहुंचने पर लिल्लू दास और उनके परिवारवालों ने उत्साह  एवं आत्मीय भाव से मुख्यमंत्री का स्वागत पारंपरिक तरीके  के साथ किया । मुख्यमंत्री को कांसे की थाली में पारंपरिक छत्तीसगढ़ी भोजन परोसा गया  भोजन में लाखड़ी भाजी, चना भाजी, जीरा फूल चटनी, मूंनगा दाल ,बैगन टमाटर , चीला , दूध फरा, भजिया कढ़ी, गुलगुला एवं अन्य पारंपरिक छत्तीसगढ़ी व्यंजन मुख्यमंत्री ने  सादगी के साथ  ग्रहण किया। सादगीपूर्वक भोजन ग्रहण कर मुख्यमंत्री ने  लिल्लू दास खरे के परिवार के सदस्यों का कुशलक्षेम पूछा एवं स्नेह के साथ भोजन कराने के लिए धन्यवाद दिया। मुख्यमंत्री के साथ खुज्जी विधायक  छन्नी साहू, डोंगरगांव विधायक  दलेश्वर साहू , महापौर  हेमा देशमुख एवं अन्य जनप्रतिनिधियों ने भोजन ग्रहण किया ।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 November 2022

खुज्जी विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत 42 करोड़ 61 लाख रूपए का लोकार्पण एवं भूमिपूजन

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के 43 विकास कार्यों का किया लोकार्पण एवं भूमिपूजन मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज भेंट-मुलाकात कार्यक्रम के दौरान अम्बागढ़ चौकी रेस्ट हाउस में खुज्जी विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत 42 करोड़ 61 लाख रूपए के 43 विकास कार्यों का लोकार्पण एवं भूमिपूजन किया। जिसमें 25 करोड़ 91 लाख  रूपए के 38 कार्य का भूमिपूजन एवं 16 करोड़ 69 लाख रूपए के 5 कार्य का लोकार्पण शामिल है। मुख्यमंत्री ने लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी खण्ड राजनांदगांव अंतर्गत 12 करोड़ 87 लाख 6 हजार रूपए के 16 कार्य, कार्यपालन अभियंता जल संसाधन संभाग राजनांदगांव अंतर्गत 2 करोड़ 92 लाख 86 हजार रूपए के एक कार्य, कार्यपालन अभियंता ग्रामीण यांत्रिकी सेवा संभाग राजनांदगांव अंतर्गत 15 लाख रूपए के एक कार्य, कार्यपालन अभियंता लोक निर्माण विभाग राजनांदगांव अंतर्गत 5 करोड़ 95 लाख 29 हजार रूपए के 5 कार्य, आदिम जाति तथा अनुसूचित जाति विकास राजनांदगांव अंतर्गत 1 करोड़ 52 लाख 97 हजार रूपए के एक कार्य, कृषि विभाग मोहला-मानपुर-अम्बागढ़ चौकी अंतर्गत 2 करोड़ 48 लाख 67 हजार रूपए के 14 कार्य का भूमिपूजन किया।   इसी तरह मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कार्यपालन अभियंता लोक निर्माण विभाग राजनांदगांव अंतर्गत 75 लाख 23 हजार रूपए के एक कार्य, कार्यपालन अभियंता ग्रामीण विकास संभाग राजनांदगांव मुख्यमंत्री ग्राम सड़क योजना अंतर्गत 78 लाख 40 हजार रूपए के एक कार्य, छत्तीसगढ़ गृह राज्य मण्डल राजनांदगांव अंतर्गत 6 करोड़ 17 लाख 66 हजार रूपए के एक कार्य, लोक निर्माण विभाग सेतु राजनांदगांव अंतर्गत 8 करोड़ 98 लाख 8 हजार रूपए के दो कार्य का लोकार्पण किया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  17 November 2022

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने डोंगरगांव विधानसभा क्षेत्र के लिए दी करोड़ो रुपए की सौगात

  मुख्यमंत्री ने 80 करोड़ 27 लाख रूपए के विकास कार्यों का किया लोकार्पण एवं भूमिपूजन मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भेंट-मुलाकात कार्यक्रम के दौरान डोंगरगांव विधानसभा क्षेत्र के विकास के लिए करोड़ों रुपए की सौगात दी। मुख्यमंत्री बघेल ने रेस्ट हाऊस डोंगरगांव में विधानसभा क्षेत्र के लिए 80 करोड़ 27 लाख रूपए के विकास कार्यों का लोकार्पण एवं भूमिपूजन किया। जिनमें 74 करोड़ 80 लाख 96 हजार रूपए के 61 कार्यों का भूमिपूजन एवं 5 करोड़ 46 लाख 9 हजार रूपए के 5 कार्यों का लोकार्पण किया। जिसमें लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी खण्ड राजनांदगांव विभाग के जल जीवन मिशन अंतर्गत 40 करोड़ 39 लाख 92 हजार रूपए के 50 कार्य, कार्यपालन अभियंता ग्रामीण यांत्रिकी सेवा संभाग राजनांदगांव विभाग अंतर्गत 15 लाख रूपए के एक कार्य, कार्यपालन अभियंता जल संसाधन संभाग राजनांदगांव विभाग अंतर्गत 2 करोड़ 8 लाख 60 हजार रूपए के एक कार्य, कार्यपालन अभियंता लोक निर्माण विभाग अंतर्गत 18 करोड़ 66 लाख 86 हजार रूपए के एक कार्य, कार्यपालन अभियंता लोक निर्माण विभाग अंतर्गत 10 करोड़ 60 लाख 20 हजार रूपए के एक कार्य, कार्यपालन अभियंता लोक निर्माण विभाग अंतर्गत 68 लाख 37 हजार रूपए के एक कार्य, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी विभाग अंतर्गत 1 करोड़ 3 लाख 64 हजार रूपए के 3 कार्य एवं कार्यपालन अभियंता परियोजना क्रियान्वयन इकाई क्रमांक-1 राजनांदगांव विभाग अंतर्गत 93 लाख 52 हजार रूपए के 3 कार्य का भूमिपूजन किया। इसी तरह मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कार्यपालन अभियंता जल संसाधन संभाग राजनांदगांव विभाग अंतर्गत 2 करोड़ 85 लाख 62 हजार रूपए के एक कार्य, कार्यपालन अभियंता मुख्यमंत्री ग्राम सड़क विकास योजना (ग्रामीण विकास संभाग) विभाग के मुख्यमंत्री ग्राम गौरवपथ योजना अंतर्गत 49 लाख 51 हजार रूपए, कार्यपालन अभियंता लोक निर्माण विभाग अंतर्गत 75 लाख 23 हजार रूपए के एक कार्य, कार्यपालन अभियंता लोक निर्माण विभाग अंतर्गत 73 लाख 73 हजार रूपए के एक कार्य एवं मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी विभाग अंतर्गत 62 लाख रूपए के कार्यों का लोकार्पण किया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 November 2022

जिला छोटा हुआ, प्रशासनिक कसावट लाकर आम जनता को लाभ पहुंचाएं अधिकारी : भूपेश बघेल

धान की खरीदी से लेकर उसके उठाओ के नियमित प्रबंधन के लिए सफल कार्य योजना बनाने के निर्देश नवीन जिलों के गठन के साथ राजनांदगांव जिले का क्षेत्रफल छोटा हुआ है, जिससे प्रशासनिक कसावट लाकर निचले स्तर पर आम जनता को शासन की योजनाओं का लाभ अधिकारियों द्वारा दिया जाना सुनिश्चित होना चाहिए। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने प्रदेशव्यापी भेंट-मुलाकात कार्यक्रम के दौरान आज डोंगरगांव में अधिकारियों की समीक्षा बैठक में ये निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि जिले के छोटे होने से अधिकारी अपने कार्यों की सतत मॉनिटरिंग और क्रियान्वयन बेहतर तरीके से कर सकते हैं। उन्होंने अधिकारियों से 1 नवंबर से शुरू हुई धान खरीदी को लेकर चर्चा की जिसमें उन्होंने धान खरीदी को चुनौतीपूर्ण बताते हुए संबंधित अधिकारियों को धान की खरीदी से लेकर उसके उठाओ के नियमित प्रबंधन के लिए सफल कार्य योजना बनाने के निर्देश दिए, इसके साथ ही उन्होंने पैरादान के लिए संबंधित अधिकारियों को सही तरीके से प्रचार-प्रसार कर, ज्यादा से ज्यादा पैरा इकट्ठा करने के निर्देश दिए ताकि पर्यावरण को सुरक्षित करने के साथ-साथ पशुधन के लिए चारे की व्यवस्था हो सकेगी। सड़कों की स्थिति को लेकर भी उन्हें पीडब्ल्यूडी के अभियंता से जानकारी मांगी और दिसंबर तक  मरम्मत और नवीन सड़क से संबंधित सभी कार्य को पूर्ण करने के लिए निर्देशित किया और इसे प्राथमिकता की श्रेणी में रखने के लिए कहा।    भेंट-मुलाकात  अवैध शराब को लेकर मिलने वाली शिकायत पर भी मुख्यमंत्री काफी सख्त दिखाई दिए जिसमें उन्होंने आबकारी अधिकारी को क्षेत्र के अंदरूनी स्थानों पर सतत मॉनिटरिंग कर विधिपूर्ण कार्यवाही करने के लिए निर्देशित किया। उन्होंने शिक्षा, स्वास्थ्य और राजस्व संबंधी मामलों में बेहतर स्थिति निर्मित करने के लिए और छोटी से छोटी शिकायतों को भी गंभीरता से लेने और उसका निराकरण करने के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 November 2022

भेंट मुलाकात कार्यक्रम : विधानसभा क्षेत्र जांजगीर-चांपा

  मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल ने 56 करोड़ रुपए से अधिक के विकास कार्यों की दी सौगात मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने विधानसभा क्षेत्र जांजगीर-चांपा भेंट-मुलाकात अभियान के तहत आज कुल 107 कार्यों के लिए लागत राशि 56 करोड़ रुपए से अधिक के विकास कार्यों की सौगात दी। उन्होंने लगभग 25 करोड़ रुपए के 81 विकास कार्यों का भूमिपूजन और लगभग 31 करोड़ रुपए के 26 विकास कार्यों का लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा लोकार्पण किये जाने वाले कार्यों में नगर पालिका परिषद चांपा के 7 कार्य लागत राशि 19.0 करोड़ रुपए, ग्राम पंचायत के 14 कार्य लागत राशि 1.46 करोड़ रुपए, लोक निर्माण विभाग के 1 कार्य लागत 6.17 करोड़ रुपए, ग्रामीण यांत्रिकी सेवा विभाग के 1 कार्य लागत राशि 0.65 करोड़ रुपए और सी.जी.एम.एस.सी के 3 कार्य लागत राशि 3.91 करोड़ रुपए के कार्यों का लोकार्पण किया गया। 25.08 करोड़ रुपए लागत के विभिन्न कार्यों का हुआ भूमिपूजन इसी प्रकार सहकारिता बैंक के 6 कार्य लागत राशि 1.53 करोड़ रुपए, ग्रामीण यांत्रिकी सेवा के 3 कार्य लागत राशि 0.66 करोड़ रुपए, नगर पालिका परिषद जांजगीर-नैला के 54 कार्य लागत राशि 9.82 करोड़ रुपए, हसदेव नहर जल प्रबंध संभाग जांजगीर के 1 कार्य लागत राशि 0.78 करोड़ रुपए, नगर पालिका परिषद चांपा के 1 कार्य लागत राशि 3 करोड़ रुपए, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के 3 कार्य लागत राशि 3.17 करोड़ रुपए, कार्यपालन अभियंता प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के 9 कार्य लागत राशि 5.04 करोड़ रुपए, सी.जी.एम.एस.सी के 1 कार्य लागत राशि 0.61 करोड़ रुपए, ग्राम पंचायत के 3 कार्य लागत राशि 0.43 करोड़ रुपए के कार्यों का भूमिपूजन किया गया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 November 2022

धान उपार्जन के दौरान किसानों को न हो किसी प्रकार की परेशानी

  कलेक्टर ने ली नोडल अधिकारीयों की बैठक धान का उपार्जन राज्य सरकार की सर्वाेच्च प्राथमिकता का कार्य है। इस कार्य मे उदासीनता एवं लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जायेगी। समर्थन मुल्य पर धान खरीदी के दौरान किसानों को किसी प्रकार की असुविधा न हो इस बात का विशेष ध्यान रखें। कलेक्टर डॉ. जगदीश कुमार सोनकर ने आज शुक्रवार को कलेक्टोरेट सभाकक्ष मे पटवारियों, ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी, कम्प्यूटर ऑपरेटरों की बैठक लेकर इस आशय के उदगार व्यक्त किये। ज्ञात हो कि खैरागढ़-छुईखदान दृगंडई जिले की 39 सहकारी समितियों के अन्तर्गत 42 धान उपार्जन केन्द्र बनाये गये हैं। कृषि विपणन वर्ष 2022-23 मे 01 नवम्बर 2022 से धान का उपार्जन किया जायेगा। खरीदी के पूर्व उपार्जन केन्द्रों मे किसानों को टोकन जारी किया जायेगा। खरीफ विपणन वर्ष 2022-23 में समर्थन मूल्य पर किसानों से धान की खरीदी की अधिकतम सीमा पिछले वर्ष के अनुसार 15 क्वि. प्रति एकड़ लिंकिंग सहित निर्धारित की गई है। धान खरीदी हेतु बारदाने की व्यवस्था कर ली गई है। बैठक के दौरान कलेक्टर डॉ. सोनकर ने किसानों का पंजीयन की जानकारी, बारदानों की उपलब्धता, फड़ चबुतरा, जनरेटर, डनेज सिस्टम, बारिश से बचने तिरपाल आदि की व्यवस्था के संबंध मे आवश्यक निर्देश दिए। जिलधीश ने खरीदी केन्द्रों मे मानव संसाधन, आर्द्रतामापी यंत्र, उपार्जन केन्द्र मे तौल-बांट, पेयजल विद्युत व्यवस्था, कैप कव्हर आदि का भौतिक सत्यापन करने के निर्देश एवं शासकीय उचित मुल्य की दुकानों और मिलर्स से प्राप्त बारदानों की जानकारी ली और बारदानों के सत्यापन करने के निर्देश अधिकारियों को दिए। कलेक्टर ने यह भी चेतावनी देते हुए कहा कि कोचिया और बिचौलियों द्वारा अपना धान न खपायें इसका विशेष ध्यान रखें। इस संबंध मे खरीदी केन्द्रों मे यदि किसी प्रकार की शिकायत प्राप्त होती है तो संबंधित समिति प्रबंधकों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जायेगी। बैठक मे अनुविभागीय अधिकारी राजस्व  प्रकाश सिंह राजपूत, उप संचालक कृषि आर.के. सोलंकी, सहायक पंजीयक सहकारिता विभाग रघुराज सिंह, नोडल अधिकारी जिला सहकारी केंद्रीय बैंक  अलोक शर्मा सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  28 October 2022

अनिश्चतकालीन बंद एवं चक्काजाम का निर्णय वापस

  जिला निर्माण संयुक्त मोर्चा मानपुर ने लिए निर्णय    जिला निर्माण संयुक्त मोर्चा मानपुर द्वारा मानपुर में कार्यालय खोलने की मांग को लेकर 31 अगस्त एवं 1 सितंबर को अनिश्चितकालीन बंद तथा 2 सितंबर को चक्काजाम का आव्हान किया गया था। व्यापारिक संघ के सदस्य श्री विकास जैन ने बताया कि कलेक्टर श्री डोमन सिंह द्वारा जानकारी एवं बयान देने के बाद कि आने वाले समय में जनप्रतिनिधि एवं अधिकारी चर्चा कर शेष विभागों के कार्यालयों के लिए स्थान निर्धारित करेंगे। शासन जिले के समग्र एवं समुचित विकास के लिए दृढ़ संकल्पित है। साथ ही मोहला-मानपुर-अम्बागढ़ चौकी के ओएसडी श्री एस जयवर्धन को ज्ञापन देने के बाद आश्वासन मिलने पर जिला निर्माण संयुक्त मोर्चा मानपुर द्वारा अनिश्चतकालीन बंद एवं चक्काजाम करने के निर्णय को वापस ले लिया है। जिला निर्माण संयुक्त मोर्चा मानपुर के प्रतिनिधियों ने यह भी कहा कि वे नवनिर्मित जिले के कार्यक्रम में शामिल होंगे तथा शासन- प्रशासन का सहयोग करेंगे। - कलेक्टर के बयान के बाद तथा ओएसडी से आश्वासन मिलने पर निर्णय लिया गया वापस - जनप्रतिनिधि एवं अधिकारी चर्चा कर शेष विभागों के कार्यालयों के लिए स्थान करेंगे निर्धारित  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  31 August 2022

महंगाई भत्ता और गृह भाड़ा को लेकर हड़ताल

  ढ़ाई लाख से अधिक अधिकारी-कर्मचारी हड़ताल पर    छत्तीसगढ़ में महंगाई भत्ता और गृह भाड़ा भत्ता की मांग को लेकर  ढ़ाई लाख से अधिक अधिकारी-कर्मचारी प्रदेशभर में हड़ताल में शामिल रहे। जिसके चलते  सरकारी कार्यालयों में कामकाज बुरी तरह प्रभावित रहा। तहसील लेकर पंजीयन, विधिक सेवाएं, खाद्य और राजस्व संबंधित कार्यालयों में अधिकारी-कर्मचारियों ने हड़ताल को समर्थन दिया है। इसका असर रायपुर, बिलासपुर, दुर्ग-भिलाई, राजनांदगांव, कोरबा, रायगढ़, अंबिकापुर, सरगुजा, जगदलपुर, दंतेवाड़ा, कर्वधा सहित अन्य जिलों में देखा गया। जिले के साथ ही ब्लाक मुख्यालयों में अधिकारी-कर्मचारी धरना-प्रदर्शन में शामिल हुए। अधिकारी-कर्मचारी फेडरेशन के मुताबिक अगर मांगों पर ध्यान नहीं दिया गया तो अनिश्चितकालीन हड़ताल आगे भी जारी रहेगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 August 2022

rajnandgaon, Five people, same family ,died ,fire car

राजनांदगांव।बीती रात राजनांदगांव-खैरागढ़ रोड पर ठेलकाडीह थानांतर्गत ग्राम सिंगारपुर में कार में आग लगने से एक ही परिवार के पांच लोगों की जलकर मृत्यु हो गई। मृतक खैरागढ़ के प्रतिष्ठित व्यापारी परिवार से है, जो शादी समारोह से घर लौट रहा था। इस हादसे में व्यापारी, उसकी पत्नी और तीन बेटियों की जिंदा जलकर मौत हो गयी। हादसे के वक्त सभी शादी समारोह से घर लौट रहे थे। जानकारी के मुताबिक हादसे में खैरागढ़ नगर के प्रतिष्ठित व्यापारी कोचर परिवार के सुभाष कोचर, कांति देवी कोचर, भावना (रानी) कोचर, कुमारी वृद्धि (गोलू) कोचर और कुमारी पूजा कोचर कार से बालोद से वापस लौट रही थी। रात 2 बजे के आसपास सिंगारपुर के गणेश मंदिर के पास कार एक पुलिया से टकरा गयी और फिर उसमें भीषण आग लग गयी। थाना ठेलकाडीह व एसडीओपी खैरागढ़ रात में घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचे। राजनांदगांव एसपी संतोष सिंह ने बताया की पुलिस और फॉरेंसिक टीम घटना की जांच में लगी है। एसपी ने बताया की प्रथम दृष्टिया हादसा कार के पलटने के बाद आग लगने से होना प्रतीत हो रहा है। घटना की जांच की जा रही है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 April 2022

rajnandgaon, Discharge , responsibilities seriously,Collector

राजनांदगांव। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी तारन प्रकाश सिन्हा ने शुक्रवार को विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 73 खैरागढ़ उप निर्वाचन के मतगणना के संबंध में नोडल अधिकारियों की बैठक ली। उन्होंने कहा कि 16 अप्रैल को सुबह 8 बजे से मतगणना का कार्य राज्य बीज विकास निगम के गोदाम में प्रारम्भ होगा। जिसके लिए सभी अधिकारी-कर्मचारी सुबह 6 बजे से ड्यूटी पर अनिवार्य रूप से उपस्थित रहेंगे और मतगणना की पूरी तैयारी सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने कहा कि मतगणना के महत्वपूर्ण कार्य में सौंपे गए दायित्वों का सभी अधिकारी निर्वहन गंभीरतापूर्वक करें। डाक मतपत्र एवं सर्विस वोटर्स के मतपत्र एकत्रित कर मतगणना कार्य, टेबुलेशन से संबंधित महत्वपूर्ण कार्य सुचारू रूप से होने चाहिए। मतगणना हाल में जिनकी भी ड्यूटी लगी है, वे मोबाइल लेकर नहीं जाएंगे। उन्होंने मतगणना के महत्वपूर्ण कार्य के लिए स्ट्रांग रूम से ईवीएम को सुरक्षित लाने तथा सुरक्षित वापस ले जाने के लिए ड्यूटी लगाने के निर्देश दिए। मतगणना स्थल पर कम्प्यूटर, टेलीफोन, इंटरनेट कनेक्शन, फैक्स की व्यवस्था करने के निर्देश दिए। मतगणना स्थल पर जाली लगाना, टेबल-कुर्सी की व्यवस्था की समुचित व्यवस्था होनी चाहिए। उन्होंने मतगणना स्थल पर चाय, नाश्ता, भोजन एवं पेयजल समुचित व्यवस्था करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि विद्युत की व्यवस्था के साथ ही जनरेटर रखे। लाईट, फोटोकापी मशीन, टीवी आदि की संपूर्ण व्यवस्था करने के निर्देश दिए। उन्होंने पार्किंग स्थल एवं सुरक्षा व्यवस्था के संबंध में आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।   कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी सिन्हा ने मतगणना स्थल में बनाए गए मीडिया सेन्टर में की जा रही व्यवस्था के संबंध में जानकारी ली। मतगणना कार्य में लगे अधिकारियों-कर्मचारियों को पास जारी कर दें। मतगणना स्थल में स्मार्टवॉच भी प्रतिबंधित है। मतगणना स्थल की हर गतिविधि की फोटोग्राफी एवं वीडियोग्राफी अनिवार्य रूप से की जाएगी। उन्होंंने गर्मी को ध्यान में रखते हुए रिजर्व टीम भी रखने को कहा। उन्होंने अभ्यर्थियों के अभिकर्ताओं के लिए व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। मतगणना स्थल पर चिकित्सा दल एवं एम्बुलेंस सेफ हाऊस की भी व्यवस्था करें। मतगणना स्थल में साफ-सफाई सुनिश्चित करें। इस अवसर पर जिला पंचायत सीईओ एवं रिटर्निंग ऑफिसर लोकेश चंद्राकर, अपर कलेक्टर सीएल मारकण्डेय, नगर निगम आयुक्त आशुतोष चतुर्वेदी, संयुक्त कलेक्टर इंदिरा देवहारी, संयुक्त कलेक्टर निष्ठा पाण्डेय, उप जिला निर्वाचन अधिकारी खेमलाल वर्मा, एसडीएम राजनांदगांव अरूण वर्मा सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  15 April 2022

rajnandgaon,Khairagarh assembly by-election,Two independent candidates

राजनांदगांव। खैरागढ़ विधानसभा क्रमांक 73 के उपचुनाव को लेकर सोमवार को नाम वापसी की प्रक्रिया के अंतिम दिन 12 उम्मीदवारों में से दो निर्दलीय उम्मीदवारों ने अपना नामांकन वापस ले लिया है। अब खैरागढ़ विधानसभा उपचुनाव में 10 उम्मीदवार ही मैदान में हैं, जिन्हे चुनाव चिन्ह का आवंटन किया गया है। खैरागढ़ विधानसभा उपचुनाव के तहत 28 मार्च को नाम वापसी के अंतिम दिन 12 उम्मीदवारों में से दो निर्दलीय उम्मीदवारों ने अपना नाम वापस ले लिया है। खैरागढ़ विधानसभा उपचुनाव के लिए 10 उम्मीदवार मैदान पर हैं। स्थानीय कलेक्ट्रेट कार्यालय में आज उम्मीदवारों को उनके चुनाव चिन्ह का आवंटन किया गया। जिला निर्वाचन अधिकारी तारण प्रकाश सिन्हा ने कहा कि नामांकन वापसी के अंतिम दिन दो उम्मीदवारों ने अपना नाम वापस ले लिया है, बाकी के शेष 10 उम्मीदवारों को उनके चुनाव चिन्ह का आवंटन किया गया है।   नाम वापसी प्रक्रिया के अंतिम दिन निर्दलीय उम्मीदवार अमरदास मन्हारे और सुनील पांडे़ ने अपना नाम निर्देशन पत्र वापस ले लिया है। वहीं अब चुरणदास साहू, फारवर्ड डेमोक्रेटिक लेबर पार्टी, संतोषी प्रधान, गोंडवाना गणतंत्र पार्टी, ढालचंद साहू, अंबेडकराइट पार्टी ऑफ इंडिया, यशोदा वर्मा इंडियन नेशनल कांग्रेस, नरेंद्र सोनी जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़, नितिन भंडारेकर शिवसेना, कोमल जंघेल भारतीय जनता पार्टी, संतोष धुर्वे निर्दलीय, अरुण बनाफर निर्दलीय और मोहन भारती ने राष्ट्रीय जनसभा पार्टी से चुनाव मैदान में मौजूद हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  28 March 2022

rajnandgaon,  city congress ,committee secretary ,accused of rape

राजनांदगांव।चिखली चौकी क्षेत्र अंतर्गत रहने वाले शहर कांग्रेस कमेटी के सचिव पर दुष्कर्म का आरोप एक विवाहिता ने लगाया है । जिस पर त्वरित कार्यवाही करते है चिखली पुलिस ने शुक्रवार की देर शाम आरोपित को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। मामला सामने आने के बाद आरोपित ने पीड़िता के पति को भी जान से मारने की धमकी दी है। शहर कांग्रेस कमेटी के सचिव और दिग्विजय कॉलेज जनभागीदारी के सदस्य विकास गजभिये के खिलाफ चिखली थाना चौकी में एक विवाहिता महिला ने शिकायत दर्ज कराई है कि उक्त व्यक्ति द्वारा उनके साथ दुष्कर्म किया है। जिस पर चिखली पुलिस की टीम ने जांच की और दुष्कर्म का मामला दर्ज किया। आरोपित विकास गजभिये लंबे समय से कांग्रेस पार्टी से जुड़ा हुआ है और कई बड़े नेताओं के संपर्क में भी रहा है। इसलिए मामला सामने आने के बाद राजनीतिक दबाव भी बनाया जा रहा था। लेकिन पुलिस ने निष्पक्ष कार्यवाही करते हुए अंततः कांग्रेस नेता को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। जिसके बाद राजनीतिक गलियारों में हलचल तेज हो गई है। महिला ने कांग्रेस नेता पर उसके पति को भी जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाया है। उसका कहना था कि विकास ने उसके पति को भी जान से मारने की धमकी दी है और कहा है कि यदि किसी से इस घटनाक्रम के बारे में कुछ बताओगे को तुमको पीटा भी जाएगा। जिसके चलते वह परेशान है और अब उसने शिकायत की है। विकास गजभिये लंबे समय से कांग्रेस से जुड़ा रहा है। विकास वर्तमान में शहर कांग्रेस कमेटी का का सचिव भी है। साध ही शहर के दिग्विजय कॉलेज में जनभागीदारी समिति का सदस्य भी है। ये समिति कॉलेज के विकास के लिए काम करती है। इस केस में चिखली चौकी प्रभारी शक्ति सिंह का कहना है कि शुक्रवार को महिला ने शिकायत दर्ज कराई थी। जिसके बाद आरोपित को गिरफ्तार किया गया है। आरोपित के खिलाफ धारा 376 के तहत केस दर्ज किया गया है। मामले की जांच की जा रही है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  26 March 2022

 banned drug

पर्चे में मरीज का नाम पता नहीं होने की शिकायत   डोंगरगांव में फार्मासिस्ट ने  एक चिकित्सक द्वारा पर्ची में मरीजों का नाम- पता लिखे बिना प्रतिबंधित दवाइयां लिखने की  शिकायत की  |  जिसके बाद चिकित्सक पर मामला दर्ज कर कार्यवाई की गई  |   बताया जा रहा है की  चिकित्सक की डिग्रियां छत्तीसगढ़ में मान्य नहीं हैं  |  फिर भी वे यहाँ प्रैक्टिस कर रहे हैं  |  वहीँ डॉक्टर ने इस मामले में  सभी डॉक्यूमेंट दिखाए जाने की बात कही  |  डोंगरगांव क्षेत्र के डॉ रतन कुमार मंडल द्वारा प्रतिबंधित दवाइयां मरीजों को लिखे जाने के मामले की शिकायत विजय श्री मेडिकल स्टोर के संचालक हरिशंकर साहू ने प्रशासन से  की थी |  शिकायतकर्ता हरिशंकर साहू ने बताया  कि  डॉ रतन कुमार मंडल  अपने निवास में क्लीनिक संचालित करते हैं  | और वहां अपने मरीजों को प्रतिबंधित दवाइयों की पर्ची लिख कर देते हैं  | जबकि उन्हें  इन दवाइयों को लिखने में पात्रता नहीं है  |   वही अपनी पर्ची में रोगी का नाम- पता भी नहीं लिखते हैं | . जो मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया के नियमों के खिलाफ है  |  और कानूनन अपराध है  |  डॉ रतन कुमार मंडल द्वारा दिए गए दस्तावेजों में उनके पास वैद्य विशारद प्रमाण पत्र की उपाधि है | जो कि छत्तीसगढ़ मेडिकल काउंसिल के तहत अधिकृत नहीं है  |  इस मामले में  बीएमओ ने अपने प्रतिवेदन में कहा है कि मेडिकल विशेषज्ञों द्वारा लिखे जाने वाली दवाइयां इन्हें मरीजों को लिखने की पात्रता नियमानुसार नहीं है |  डॉ रतन कुमार मंडल के खिलाफ पूर्व में भी कार्यवाई हो चुकी है  | इस मामले में डॉ रतन कुमार मंडल ने कहा कि वह विगत 30 वर्षों से आयुर्वेदिक पद्धति से प्रैक्टिस कर रहे हैं |  शिकायत के जवाब में उन्होंने अपने कागजात उपलब्ध करा दिए हैं |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 June 2021

 banned drug

पर्चे में मरीज का नाम पता नहीं होने की शिकायत   डोंगरगांव में फार्मासिस्ट ने  एक चिकित्सक द्वारा पर्ची में मरीजों का नाम- पता लिखे बिना प्रतिबंधित दवाइयां लिखने की  शिकायत की  |  जिसके बाद चिकित्सक पर मामला दर्ज कर कार्यवाई की गई  |   बताया जा रहा है की  चिकित्सक की डिग्रियां छत्तीसगढ़ में मान्य नहीं हैं  |  फिर भी वे यहाँ प्रैक्टिस कर रहे हैं  |  वहीँ डॉक्टर ने इस मामले में  सभी डॉक्यूमेंट दिखाए जाने की बात कही  |  डोंगरगांव क्षेत्र के डॉ रतन कुमार मंडल द्वारा प्रतिबंधित दवाइयां मरीजों को लिखे जाने के मामले की शिकायत विजय श्री मेडिकल स्टोर के संचालक हरिशंकर साहू ने प्रशासन से  की थी |  शिकायतकर्ता हरिशंकर साहू ने बताया  कि  डॉ रतन कुमार मंडल  अपने निवास में क्लीनिक संचालित करते हैं  | और वहां अपने मरीजों को प्रतिबंधित दवाइयों की पर्ची लिख कर देते हैं  | जबकि उन्हें  इन दवाइयों को लिखने में पात्रता नहीं है  |   वही अपनी पर्ची में रोगी का नाम- पता भी नहीं लिखते हैं | . जो मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया के नियमों के खिलाफ है  |  और कानूनन अपराध है  |  डॉ रतन कुमार मंडल द्वारा दिए गए दस्तावेजों में उनके पास वैद्य विशारद प्रमाण पत्र की उपाधि है | जो कि छत्तीसगढ़ मेडिकल काउंसिल के तहत अधिकृत नहीं है  |  इस मामले में  बीएमओ ने अपने प्रतिवेदन में कहा है कि मेडिकल विशेषज्ञों द्वारा लिखे जाने वाली दवाइयां इन्हें मरीजों को लिखने की पात्रता नियमानुसार नहीं है |  डॉ रतन कुमार मंडल के खिलाफ पूर्व में भी कार्यवाई हो चुकी है  | इस मामले में डॉ रतन कुमार मंडल ने कहा कि वह विगत 30 वर्षों से आयुर्वेदिक पद्धति से प्रैक्टिस कर रहे हैं |  शिकायत के जवाब में उन्होंने अपने कागजात उपलब्ध करा दिए हैं |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 June 2021

 IED bomb recovered

पुलिस और आईटीबीपी को बड़ी सफलता मिली   राजनांदगांव  पुलिस और आईटीबीपी के संयुक्त टीम को  एक बड़ी  सफलता  मिली | इस टीम ने नक्सलियों के 5 किलो व 15 किलो के दो आईईडी बम बरामद किये  | नक्सलियों द्वारा पुलिस फोर्स को नुकसान पहुंचाने के लिए इन्हे  लगाया गया था |  राजनांदगांव जिले के नक्सल प्रभावित क्षेत्र  काशीबहरा एवं नवागांव के बीच जंगल के रास्ते से 5 किलो एवं ग्राम मरकाटोला एवं कुम्ही के बीच जंगल  से 15 किलो का आईईडी  बरामद किया गया | नक्सलियों द्वारा सुरक्षा बलों को नुकसान पहुंचाने की नियत से यह आईईडी लगाया गया था |  जिला पुलिस बल  एवं आइटीबीपी की संयुक्त टीम के द्वारा कार्रवाई करते हुए आईईडी को बरामद कर निष्क्रिय किया गया है |  जिला पुलिस बल और आईटीबीपी के जवान  सर्चिंग पर निकले हुए थे  | सर्चिंग के दौरान पुलिस ने बीच जंगल  में वायर देखा और सावधानीपूर्वक सुरक्षा कारणों को ध्यान में रखते हुए उसे बाहर निकाला  और आईडी को निष्क्रिय किया  | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 April 2021

 घोटाला

सवा करोड़ रुपये का घोटाला ,मामले में  गोलमोल जवाब   राजनांदगांव में कोरोना काल के दौरान शिक्षा विभाग ने  करोड़ो के किचन डिवाइस  की खरीदी की  | और कई  प्रायमरी और मिडिल स्कूल को  बांट दिए | अब बर्तनों की गुणवत्ता और वजन को लेकर शिक्षा विभाग पूरी तरह भ्र्ष्टाचार के मामले में घिरता  नजर आ रहा है |  कोरोना काल मे जहां पूरे स्कूल बंद पड़े थे  वहीँ शिक्षा विभाग द्वारा एक करोड़ 78 लाख के किचन डिवाइस  , बर्तन , की खरीदी  महासमुंद  के एक बर्तन फैक्ट्री से की गई  |  इन बर्तनों को जिले के 1211 प्राइमरी और मिडिल स्कूलों को दिया गया  |  जहां बच्चों के लिए मध्यान भोजन बनाया जाता है |   एक स्कूल में कुल 4 बर्तन दिए गए | और एक कुकर 7 लीटर का  लोकल मेड दिया गया |   बर्तनों का वजन एक स्कूल के दिये अनुसार 12 से 15 किलो तक ही आता है |  जबकि खुले बाजार में स्टील की कीमत 200 रुपये किलो बताई जा रही है |   बाज़ार की माने तो एक स्कूल में केवल 3700 रुपये के ही बर्तनों की सप्लाई की गई | जबकि 1211 स्कूल के लिए 1 करोड़ 78 लाख रुपये में प्रति स्कूल को करीब 14 सौ रुपयों के बर्तन दिए जाने थे  | मामले की पड़ताल की गईतो  छुरिया विकासखण्ड में स्कूलों के केवल कुकर का ही वितरण किया गया|  बाकी के बर्तन स्कूल में डंप कर रखें रहे  | मामला सामने आने के बाद  आनन-फानन में सप्लाई के 6 महीने बाद  बर्तन बाटे गए  | ब्लॉक शिक्षा अधिकारी का कहना था कि बर्तनों को बांटने के लिए  जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा मना किया गया था |  पूरे  मामले में करीब सवा करोड़ रुपये का घोटाला देखने को मिल रहा  | मामले में जिला शिक्षा अधिकारी अब लीपापोती करते नजर आ रहे है |  जिला शिक्षा अधिकारी आबंटन कम बता रहे है, जबकि डीईओ द्वारा आदेश जारी |  किया गया है उसमें किचन डिवाइस रिफ्लेशमेंट का उल्लेख किया गया है  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 February 2021

 Vaccination center

फ्रंट लाइनर को दी गई डमी वैक्सीन   राजनाँदगाँव  में  कोविड-19 वैक्सिनेशन सेंटर बनाये गए है  | जहां मॉक ड्रील किया गया और फ्रंट लाइनर को सबसे पहले डमी वैक्सीन दी गई |  जिसका निरीक्षण कलेक्टर टीके वर्मा ने किया |  सीएमएचओ ने बताया कि शासन के निर्देशानुसार राजनांदगांव शहर के पदुमलाल पुन्नालाल बक्शी स्कूल ,शंकरपुर हाईस्कूल और डोंगरगढ़ में खालसा स्कूल में वैक्सिनेशन सेंटर बनाया गया है |   स्कूल के अलग- अलग कमरों में वैक्सिनेशन लगाने के लिए व्यवस्था की गई है  |  जिसमे सबसे पहले फ्रंट लाइन में स्वास्थ्य विभाग के वे कर्मी है  | जो लगातार कोविड में काम करते आ रहे है  |  इन्हें मॉक ड्रील के अंतर डमी वैक्सिनेशन दिया गया  |  इस दौरान मेल-फीमेल के लिए अलग-अलग व्यवस्था की गई है | इमरजेंसी की व्यवस्था भी की गई है  | सेंटर में 7 कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है |  जिसमे स्वास्थ्य विभाग के अलावा पुलिस, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता रहेंगे  | बताया जा रहा है की वैक्सीन लगने के बाद 30 मिनट व्यक्ति को रुकना पड़ेगा | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 January 2021

 Farming woman

सालाना  कमा रही दो लाख रुपए    शादी के बाद से घर पर चूल्हा-चौका के साथ स्वजनों संग घरेलू कामकाज में ही व्यस्त रहने वाली  पेमीन साहू कृषि कार्य कर रही हैं   केला और पपीता की खेती से वह आत्मनिर्भरता की मिसाल पेश कर रहीं हैं। लगन व मेहनत के साथ ही दृढ़ इच्छाशक्ति ने इस महिला को वनांचल में महिलाओं के लिए आदर्श बना दिया है। वह हर साल दो लाख रुपए की आय अर्जित करती रहीं हैं। राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत बिहान से जुडऩे पर पेमीन के आत्मविश्वास में वृद्धि हुई है और आर्थिक स्थिति मजबूत हुई  पेमीन साहू ने बताया की  वे एक गृहिणी हैं और उनके पास छह एकड़ जमीन है, जिसमें व स्वजनों की मदद से धान की फसल लगाती थीं। साथ ही घर का पूरा कामकाज भी संभालती थीं। इस कारण दिनभर काम करने के बाद भी उन्हें समय नहीं मिल पा रहा था। उन्होंने उद्यानिकी फसल लेने के लिए समूह से एक लाख 50 हजार रुपये का ऋण लिया और केले एवं पपीते की खेती प्रारंभ की।महिला ने बताया कि उनके यहां का केला और पपीता गंडई, राजनांदगांव, दुर्ग, भिलाई एवं महाराष्ट्र तक जा रहा है। उन्हें प्रतिवर्ष लगभग दो लाख रूपए की आय हो रही है। पेमीन साहू ने बताया की  वे अपने बच्चों को अच्छी शिक्षा देना के साथ  जेसीबी मशीन खरीदना चाहती हैं एवं  मिनी राईस मिल खोलना चाहती हैं।। यहां दो लाख से अधिक महिलाों का विशाल समूह है, जो नित नई मिसालें पेश कर रहीं हैं। स्व-सहायता समूह की नींव रखने वाली महिलाों की रोल माडल पद्मश्री फुलबासन यादव ने पिछले दिनों बहुचर्चित टीवी कार्यक्रम कौन बनेगा करोड़पित में बतौर कर्मवीर सहभागिता की थी। वहां उन्होंने 50 लाख रुपए जीतकर इतिहास भी रचा था।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 December 2020

  Second marriage

शहीद की बहन के साथ की धोखा देकर शादी   राजनांदगाव में बैलगाड़ी से बारात लेकर दुल्हन के घर पहुंचने वाला दूल्हा धोखेबाज निकला  | महज 3 दिनों बाद ही  इस दूल्हे की हकीकत समाज के सामने आ गई | और शादी टूट गई | दुल्हन के घर वालो को पता चला कि दूल्हा पहले ही 2 बच्चों का पिता है, पूरा मामला थाने पहुंचा जिसमे दुल्हन की तरफ से दूल्हे  के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई  | राजनांदगांव  के  अर्जुनी गांव  में  अमेरिका में कार्यरत युवक  छत्तीसगढ़ी परम्परानुसार 11 बैलगाड़ियों में बारात लेकर पहुंचा था | क्षेत्र के अलावा पूरे जिले में इस ऐतिहासिक शादी के चर्चे होने लगे |  लेकिन  इस शादी को तीन दिन हुए थे कि धोखेबाज दूल्हे की साड़ी हकीकत समाज के सामने आ गई और दुल्हन को शादी तोड़ने पर मजबूर होना पड़ा |  दरअसल दुल्हन के घर वालो को पता चल गया कि दूल्हे ने अमेरिका में भी ग्रीन कार्ड के चक्कर मे वहीं की एक युवती से ब्याह रचाया   जिससे  उसके 2 बच्चे भी हैं | मौके पर दूल्हे के घर मे लड़के के दस्तावेज खंगाले गए पासपोर्ट में लड़के ने अपनी अमरीकन पत्नी का नाम लिखवाया है  | इस दूल्हे ने अमेरिका से अपने घर  पहुँचते ही   समाज की ही युवती से बिना अपनी पहली शादी की बात बताए धोखे से शादी रचा ली..हाल ही में दुल्हन का भाई जो पैरामिलिट्री फोर्स सीआरपीएफ में तैनात  था,नक्सली विस्फोट में शहीद हुआ था |  शहीद की बहन का विवाह पारम्परिक रीती रिवाजों से ही हुआ था  | लड़की अब ये सब जानने के बाद दूल्हे के साथ नही रहना चाहती  | बीती  रात दुल्हन अपने पिता और रिश्तेदारों  के साथ थाने  पहुंची और दूल्हे के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 December 2020

  Bullock cart

बैलगाड़ी से बारात लेकर पहुंचे बाराती ,शहीद को दी श्रद्धांजलि   आधुनिकता के इस दौर  में भी लोग बैलगाड़ी की सवारी करना नहीं भूले हैं | मामला  राजनांदगांव का है जहाँ शादी में दूल्हा बैलगाड़ी से बारात लेकर पहुंचा  | ख़ास बात यह है की दूल्हा अमेरिका में जॉब करता है  | बताया जा रहा है की नक्सली हमले में शहीद हुए पूर्णानंद की  इच्छा  थी की उनकी बहन की शादी छत्तीसगढ़ी रीतिरिवाज से हो | जिसको देखते हुए बहन के आमंत्रण पर दूल्हे पक्ष ने बैलगाड़ी से बरात निकाली  |  अमेरिका में जॉब करने के बाद भी आधुनिकता के इस समय में एक दूल्हा बैलगाड़ी से बरात लेकर पहुंचा  |  मामला   राजनांदगाव  के  ग्राम जंगलपुर का है  |  जंगलपुर में शहीद पूर्णानंद साहू के बहन की शादी में दूल्हा  बैलगाड़ी  से बारात लेकर पहुंचा  | जिसके बाद यह चर्चा का विषय बन गया |   पुराने जमाने की  परम्परा अनुसार 11 बैलगाड़ी के साथ बाराती शादी में पहुंची  |  डोंगरगाँव मेन रोड में जब बैलगाड़ी से बाराती चलने लगी तो कौतूहल का विषय बन गया |  गाँव पहुंचने पर देखने वालो की भीड़ लग गयी |  गौरतलब  है कि हाल ही नक्सल विस्फोट में शहीद हुए दुल्हन के भाई पूर्णानन्द साहू की इच्छा थी कि | उनके यहाँ  बारात पुराने परिवेश के तहत छत्तीसगढ़ी परम्परा के अनुसार बैलगाड़ी में  आये  |  लेकिन शहीद पूर्णानन्द की इच्छा अधूरी रह गई थी |  जिसे आज शहीद की बहन ने अपने घर दूल्हे और बारातियों को बैलगाड़ी में विवाह हेतु आमंत्रित किया  | और अपने शहीद भाई को श्रधांजलि दी |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  11 December 2020

 Suicide

सोसायटी कर्मचारियों ने किसान से की थी पैसे की मांगी किसान की मौत पर सियायत शुरू हुई       छत्तीसगढ़ में किसानों के मौत का सिलसिला  थमता  नजर नही आ रहा है |  बस्तर के कोण्डागांव मे कम धान खरीदी के चलते एक किसान ने आत्महत्या कर ली  थी |  जिसके बाद एक और घटना में राजनांदगांव में सोसायटी की मनमानी के चलते एक किसान की मौत हो गई |  जिससे अब  सरकार की कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान खड़ा हो गया है |  राजनांदगांव जिले के घुमका सोसायटी में कल देर शाम धान बेचने गए किसान ने दम तोड़ दिया  | बताया जा रहा है ,  किसान करण साहू गिधवा से धान खरीदने के लिए सोसायटी में कार्यरत कर्मचारियों ने किसान को उसका धान खराब बताकर पैसों की मांग की  | जिससे किसान को सोसायटी परिसर में ही हार्टअटैक आ गया  |  और किसान ने दम तोड़ दिया  |  उधर किसान की मौत पर अब राजनीती भी शुरू हो गई है  | मृतक किसान का पोस्ट मार्टम करवाने पहुंचे, भाजपा के जिला अध्यक्ष ने  मामले में कांग्रेस को आड़े हाथ लेते हुए, प्रदेश सरकार को किसानों का दुश्मन बताया | भाजपा का कहना है की  किसानो को परेशानी का सामना ना करना पड़े इसके लिए वे निगरानी समिति बनाकर |  जिले के सभी सोसायटियों में अपने कार्यकर्ता बैठाएंगे | और  किसानों को होने वाली अव्यवस्था से निजात दिलएंगे |  उधर पूर्व सीएम रमन सिंह ने किसानो की मौत के लिए कांग्रेस सरकार को जिम्मेदार ठहराया है |  उन्होंने कहा अगर किसान आत्महत्या कर रहा है तो यह सरकार की विफलता है  | घटना के बाद जिला कलेक्टर द्वारा जांच के आदेश दे दिए गए हैं | और दोषियों पर कार्यवाई की बात कही गई है  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 December 2020

 Gas leak

पुलिस के जवान की सूझबूझ से बड़ा हादसा टला   राजनांदगांव में  शासकीय अस्पताल  के आईसीयू वार्ड में  सिलेंडर से ऑक्सीजन निकलने की वजह से  अफरा तफरी का माहौल बन गया  |  जिसके बाद वार्ड में भर्ती मरीजों को बाहर निकाला गया  | वहीं हॉस्पिटल  में तैनात जवान की  सूझबूझ की वजह से एक बड़ा हादसा होने से बच गया  |  अस्पताल में उस वक़्त अफरा-तफरी का माहौल बन गया जब एक ऑक्सीजन गैस सिलेंडर से गैस का रिसाव तेजी से होने लगा  |  रात डेढ़  बजे  ऑक्सीजन गैस के रिसाव से वार्ड में भर्ती 9 अति गम्भीर मरीजों को तत्काल वार्ड से बाहर निकाला गया  |  वहीं हॉस्पिटल पुलिस चौकी में तैनात जवान अमित समुन्द्रे ने सूझबूझ का परिचय देते हुए  | विपरीत परिस्थितियों को काबू में किया  |  पूरे घटनाक्रम के दौरान एक गम्भीर मरीज की इलाज के दौरान मौत हो गई  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 December 2020

  human trafficking

महिला को बेचने का मामला सामने आया   राजनांदगांव जिले के डोंगरगढ़  पुलिस स्टेशन में लगातार  लोगों के लापता होने की रिपोर्ट दर्ज हो रही थी | पुलिस ने इन मामलों की जाँच मानव तस्करी के ऐंगल से की और कुछ मानव तस्करों को पकड़ने में सफलता हांसिल की  |  गुम इंसान की रिपोर्ट पर उच्च अधिकारियों के मार्ग दर्शन में थाना प्रभारी अलेक्जेंडर किरो द्वारा टीम बना कर  जांच की जिसमें डोंगरगढ़ पुलिस को मानव तस्करो को पकड़ने में बड़ी सफलता मिली है  | पिछले दिनों एक महिला  और उसके 3 वर्षीय पुत्र  के गुम होने की शिकायत उसके पति  ने डोंगरगढ़ थाने में दर्ज कराई गई थी | इस मामले में लम्बी पड़ताल के बाद  लापता हुई महिला और उसके पुत्र का सुराग लगा | पीड़िता और उसके पुत्र को साथ लेकर पीड़िता का पति  थाने पहुंचा | पीड़िता महिला के   बयान के आधार पर पुलिस ने चार आरोपियों सलमान खान,जुनैद खान,शुभम तिवारी और साजदा सय्यद  को गिरफ्तार किया  | पीड़िता ने पुलिस को बताया कि आरोपियों द्वारा पीड़िता महिला को बहला फुसलाकर पहले  रायपुर फिर रायपुर से हवाई जहाज से दिल्ली और दिल्ली से हरियाणा ले जाया गया जहां |  जहा पीड़िता के बच्चे को जान से मारने की धमकी दे कर आरोपियों द्वारा उसके साथ दुष्कर्म  किया गया. | पीड़िता को हरियाणा ले जा कर किसी सुरेश को बेच दिया गया | पर जब पीड़िता ने अपने पहले से शादी शुदा होने की बात सुरेश को बताई तो सुरेश ने पीड़िता को चारो आरोपियों को वापस दे दिया, जिसके बाद आरोपियों द्वारा पीड़िता को राजेश नाम के व्यक्ति  के साथ शादी करा दी ...परंतु जब शादी के बाद पीड़िता ने राजेश को अपने पहले से शादी शुदा होने की बात बताई तो राजेश ने स्थानीय पार्षद के साथ मिल कर पीड़िता को पुलिस थाने ले कर गया..जहा से उसे सुरक्षित ट्रेन से बैठकर दुर्ग भेज दिया गया |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 November 2020

 Woman beating

महिला रायपुर की रहने वाली   राजनांदगाव में चुपचाप एक बच्चे को ले जा रही है महिला को ग्रामीणों ने पकड़ लिया और महिला की पिटाई लगा दी  .| बाद में इस महिला को पुलिस के हवाले किया गया | डोंगरगांव थाना क्षेत्र के ग्राम जंतर में एक अज्ञात महिला एक डेढ़ साल के बच्चे को अकेला खेलता  देख उठाकर ले जा रही थी | अचानक गांव के ही एक युवक की नजर इस महिला पर पडी   | बच्चे को ले जाते देखा  युवक ने  शोर मचाया |  इतने में  कई ग्रामीण इकठ्ठा हो गए  और  महिला की पिटाई शुरू कर दी | बताया  जा  रहा है, की जिस समय अज्ञात महिला  बच्चे को चुरा कर ले जा रही थी  | तब  बच्चे की माँ खेत के काम करने गए थी, और पिता स्कूल भवन की  पुताई कर रहा था, बच्चा अपने दादा ले साथ घर के बाहर खेल रहा था | बाद में बच्चा चोर महिला को पुलिस के हवाले कर दिया गया |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 August 2020

 NAKSALI

पुलिस को मिला हथियारों का जखीरा   नक्सली की डायरी से  मिले सुराग के कारण  पुलिस को   हथियारों का जखीरा मिला है  | डेविड नाम के नक्सली ने अपनी  डायरी में  नक्सलियों द्वारा जंगल में डंप किए गए हथियारों का लेखा जोखा लिख रखा था   जिसके आधार पर यह  जखीरा पकड़ने में पुलिस को बड़ी सफलता मिली  |  राजनांदगांव  में 1 जुलाई को छूरिया के जोक और कटेगा के समीप जंगल में हुई मुठभेड़ में पुलिस को बड़ी सफलता मिली थी |  एक नक्सली को पुलिस ने दूसरे दिन सुबह झोपड़ी से घायल अवस्था में पकड़ा था  | जिसका नाम डेविड बताया गया था  |  इसके बाद उससे बरामद डायरी में पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी   | डेविड की डायरी की बदौलत नक्सलियों द्वारा जंगल में जमीन में गाढ़े गए हथियारों का जखीरा पकड़ने में पुलिस को बड़ी सफलता मिली  | डेविड छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र के दर्रेकसा एरिया में सक्रिय होकर काम कर रहा था  | डेविड के पास से एक एके 47, पिस्टल, मैगजीन सहित कई अन्य सामान भी बरामद हुए थे  | डेविड के पास से एक डायरी भी बरामद की गई है  | जिसमें कुछ महत्वपूर्ण सुराग पुलिस के हाथ लगे हैं  | डेविड के निशानदेही पर पुलिस ने सामानों का जखीरा बरामद किया है | डेविड उर्फ उमेश ने बताया कि ग्राम घोबेदल्ली- मांगीखोली- छुईपानी के बीच जंगल पहाड़ी में 4 अलग-अलग जंगल एम्युनेशन, डेटोनेटर, वायरलेस सेट एवं नक्सली साहित्य को स्टील के डिब्बेे में जमीन में गढ़ा कर रखा है  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 July 2020

 Road Construction

भ्र्ष्टाचार के चलते होता हैं घटिया निर्माण,साल भर नहीं चलता   माओवादी प्रभावित क्षेत्रों में पुल- पुलिया- एनिकट- शासकीय भवन, सड़क निर्माण कार्य मे  | सरकार से आई राशि का जैम कर बन्दर बाट होता हैं जिसका नतीजा हैं की कोई भी निर्माण कार्य साल भर भी नहीं टिकता और धराशी हो जाता हैं  |  और फिर रिपेयरिंग के नाम हर साल लाखों का खेल किया जाता हैं    राजनांदगांव के माओवादी प्रभावित क्षेत्रों में 3.75 करोड़ की लागत से बने घटिया एनिकट में हर साल रिपेयरिंग के नाम से लाखों रुपए निकाले जाते हैं |  इस वर्ष भी रिपेयरिंग के लिए हुए है 50 लाख रुपयें स्वीकृत हुए हैं |  मगर काम शुरू नहीं हुआ |  बारिश शुरू हो गई मगर रिपेयरिंग का काम शुरू ही नही हुआ  | पैसे की इस बंदरबांट में ये लोग इस लिए भी कामयाब हो जाते हैं क्यूंकि  |  नक्सलियों के ख़ौफ़ चलते कोई भी अधिकारी कार्य को देखने नहीं आता हैं |  माओवादी प्रभावित क्षेत्रों में पुल- पुलिया- एनिकट- शासकीय भवन, सड़क निर्माण के कामो में  शासकीय राशि की बंदरबाट के चलते इतना घटिया किया जाता हैं की इस  |  भ्र्ष्टाचार के चलते साल भर भी निर्माण नही टिक पता  |  और फिर शुरू होता है, रिपेयरिंग के नाम पर हर साल लाखों रुपयों का खेल |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 June 2020

 Corona patient tick talk

हो रहा अच्छा इलाज ,ठीक होकर लौटेंगे घर     राजनांदगांव के मेडिकल कॉलेज अस्पताल से  कोरोना मरीजों  ने वीडियो बनाकर अपने परिजनों को भेजा है |  जिसमे मरीजों ने बताया है की वे उनकी चिंता ना करें  | अस्पताल में उनका बेहतर इलाज चल रहा है  | वे जल्द ठीक होकर घर आएंगे  |  छत्तीसगढ़ में कोरोना मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है |   इसी बीच कोरोना मरीजों  ने अपने परिवारजनो का हौसला बढ़ाने के लिए वीडियो बनाया | जिसमे वे कह रहें हैं की  | किसी को घबराने की जरूरत नहीं |  हम यहां पर सुरक्षित हैं  | हम ठीक होकर घर आएंगे |  कोरोना मरीजों द्वारा  सभी को  संदेश दिया जा रहा है की  कोरोना से डरना नहीं है  | कोरोना से हमें लड़ना है  | और कोरोना की यह जंग हम जीत कर आएंगे  |     

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 June 2020

 Mandira lover

न सोशल डिस्टेंसिंग न जान  जाने का खतरा   छत्तीसगढ़ में शराब की दुकाने जैसे ही खुली  | मानो शराब प्रेमियों के चेहरे खिल उठे  | लोग सुबह से ही अपनी बारी के इंतज़ार में लम्बी कतारों में खड़े  रहे  | भीड़ और उत्साह देखकर ऐसा लगा जैसे  | रोटी , कपड़ा , मकान और जान से ज्यादा शराब  जरूरी है  |  राजनांदगांव की ये तस्वीरें बताती हैं की  | शराब प्रेमी किस कदर शराब दुकाने खुलने का इंतज़ार कर रहे थे  |  शराब ठेकेदार , सरकार से ज्यादा तो ये शराब प्रेमी दुकाने खुलने के इंतज़ार में  थे  |  ये तस्वीरें बताती है की इनको कोरोना से कोई डर नहीं  .| शराबियों में ख़ुशी  की लहर इस कदर थी कि वे शराब दूकान खुलने से पहले ही दुकान के बाहर इंतजार करने लगे  | और जैसे ही शराब खुली वो टूट पड़े  |  सरकार ने तो शराब दुकाने खोलकर आमजन के घर को बर्बाद करने का ठेका इन शराब ठेकेदारों को तो दे दिया है |  पर क्या जनता  खुद  और खुद के परिवार की जान की कीमत नहीं समझती  |  क्या शराब का शौक परिवार की जान से ज्यादा बड़ा है  | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  6 May 2020

 NAKSALI

सड़क कार्य में लगे 7 वाहनों में लगाई आग   एक तरफ पूरा देश कोरोना संकट से जूझ रहा है |  वहीँ नक्सली गतिविधियां रुकने का नाम नहीं ले रही हैं |  राजनांदगांव के पुगदा में नक्सलियों ने सड़क निर्माण में लगे सात वाहनों में आग लगा दी  | और धमकी भरे   पर्चे भी फेंके |   एक ओर  जहां पूरी दुनिया के लोग कोरोना वायरस जैसी महामारी से जंग लड़ रहे  है |  वहीं दूसरी ओर राजनांदगांव के कोहका थाना क्षेत्र अंतर्गत पुगदा में नक्सलियों की कायराना करतूत सामने आई है | जहां नक्सलियों द्वारा सड़क निर्माण कार्य में लगे  7 वाहनों को आग के हवाले कर दिया  गया |  जिसमें 1 एजाक्स मशीन,2 हाईवा,2 पोकलेन,1 ग्रेटर,1 मोटरसाइकिल सहित 7 गाड़ियों शामिल हैं |  इसके साथ ही  विरोध जताने के लिए नक्सलियों ने  धमकी भरे पर्चे भी फेंके |  नक्सलियों की इस करतूत से क्षेत्र में  दशत  का माहौल  है  | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 April 2020

 NAXALITE MOVEMENT

 घटनास्थल पर नक्सलियों ने पर्चे भी फेंके हैं   छत्तीसगढ़ में नक्सली लगातार खुद की मुखबिरी करने वाले लोगों को मौत के घात उतार रहे हैं  |  राजनांदगॉव में नक्सलियों ने एक युवक को मुखबिर मानते हुए एक युवक की हत्या कर दी  |  नक्सल प्रभावित राजनांदगांव जिले के बागनदी क्षेत्र के  सीतागोटा के कोढीटोला एक नौजवान युवक की नक्सलियों ने हत्या कर दी  | बीती रात को नक्सलियों ने लालजी यादव नामक ग्रामीण को मुखबिरी के शक पर मौत के घाट उतार दिया  |  सूत्रों का कहना है कि पिछले वर्ष तीन अगस्त को शहीद सप्ताह के दौरान इसी इलाके में पुलिस के हाथों सात नक्सलियों के मारे जाने की घटना से भी इस वारदात को जोड़कर देखा जा रहा है   | घटनास्थल पर नक्सलियों ने पर्चे भी फेंके हैं  |  मौके पर पहुंची पुलिस ने वहां से युवक का शव हटवाया और पर्चे जब्त किए हैं  |   जिसको लेकर गांव में दहशत फैल गई है  |  अज्ञात नक्सलियों के खिलाफ अपराध दर्ज कर पुलिस मामले की जांच कर रही है |  घटना के बाद क्षेत्र में गश्त बढ़ा दी गई है  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 January 2020

 Prime Minister\

मोदी ने दिए परीक्षा में तनावमुक्त रहने के टिप्स   प्रधानमंत्री  के  परीक्षा पे चर्चा कार्यक्रम को लेकर  |  शिक्षा विभाग ने प्रोजेक्टर के माध्यम से विद्यार्थियों को प्रधानमंत्री का संबोधन लाइव दिखाया  |  परीक्षा पर चर्चा कार्यक्रम से   विद्यार्थियों को प्रेरणा मिली |  इस कार्यक्रम का मकसद यह सुनिश्चित करना था कि छात्र तनावमुक्त होकर आगामी बोर्ड और प्रवेश परीक्षाएं दे सकें |  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का  देशभर के कक्षा 10वीं और 12वीं के विद्यार्थियों के लिए |   परीक्षा पे चर्चा कार्यक्रम का आयोजन हुआ  | प्रधानमंत्री के इस कार्यक्रम की यह तीसरी कड़ी थी  | जिसे देखने और सुनने  के लिए राजनांदगांव के स्कूलों में भी व्यापक व्यपस्था की गई  | प्रधानमंत्री की परीक्षा पे चर्चा कार्यक्रम को लेकर जिला शिक्षा विभाग ने राजनांदगांव   के विभिन्न स्कूलों में व्यापक तैयारियां की  | प्रोजेक्टर के माध्यम से विद्यार्थियों को प्रधानमंत्री का संबोधन लाइव दिखाया गया  |  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने छात्रों से परीक्षा पे चर्चा करते हुए उनके साथ  मूल्यवान सुझावों को साझा किया  | कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री ने शिक्षकों और अभिभावकों भी  संबोधित किया |  छात्रों  को परीक्षा के दौरान तनावमुक्त रखना इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य था |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 January 2020

 VEHICLES TOLL FREE

महापौर ने टोल प्लाजा के बाजु से बनवाया बायपास   नेशनल हाइवे के टोल प्लाजा पर समय की बर्बादी से बचने के लिए फ़ास्ट टैग की सुबिधा शुरू की गई हैं  | मगर यह सुबिधा आसपास के गावं के लोगो के लिए अब मुसीबत बन चुकी हैं | रोज इस टोल प्लाजा से गुजरने वाले आस-पास के लोगो पर दवाब बनाया जा रहा हैं की वे या तो फ़ास्ट टैग लगाए या फिर टोल पर नगद भुगतान करे  |  जिस कारण रोज विवाद की स्थिति बन रही हैं  |  शहर से महज 11 किलोमीटर दूर हैं अशोका टोल प्लाजा  | जहाँ भाजपा शासनकाल के दौरान अशोका कम्पनी द्वारा टोल प्लाजा स्थापित किया गया था  दरअसल यह टोल अभी जिस स्थान पर लगा है |   उसे ठीक विपरीत दिशा में शहर से 24 किलोमीटर दूर होना था | जिसके विरोध में उस समय भी शहरवासियों ने आंदोलन किया था  |  तब भाजपा सरकार द्वारा जिले के वाहनों को टोल टैक्स  मुक्त किया गया था |  मगर अब जब से केंद्र सरकार द्वारा देश के सभी टोल प्लाजा में फास्ट टैग लागु किया गया |  तब से टोल संचालक द्वारा जिले के वाहनों से भी टोल टैक्स वसूला जाने लगा और जिले वासियों को भी फास्ट टैग लगाने को कहा गया  |  जो अब विवाद का कारण बन गया  | इस मुद्दे को सुलझाने के लिए शहर वासियों ने पहले भी कई बार टोल प्लाजा पहुंचकर जिले के वाहनों को टोल टैक्स मुक्त करने की बात प्रशासन और टोल प्रशासन से की  | लेकिन टोल प्लाजा से किसी भी जिम्मेदार अधिकारी ने कोई रुचि नही ली  |  टोल प्रशासन को शहर के सभी संगठनों ने 15 तारीख तक का समय बातचीत के दिया  | लेकिन टोल अधिकारियों के कानों में जू तक नही रेंगी |  जिससे नाराज होकर हजारों की संख्या में शहर की जनता ने इकठ्ठा हो कर बिरोध दर्ज कराया |  मगर बात बढ़ गई और गुस्साई भीड़ में हंगामा कर तोड़-फोड़ शुरू कर दी  | . भीड़ ने टोल प्लाजा में बने सभी केबिनों में तोड़फोड़ की |  मौके पर पुलिस ने आंदोलनकारियों को समझाने का प्रयास किया  |  लेकिन इस दौरान पुलिस के साथ भी गुस्साई भीड़ की झुमाझटकी हुई  | जिसके चलते पुलिस ने भी किनारा कर लिया और पूरा तमाशा दूर खड़े होकर देखा  | विरोध कर रहे लोगो का कहना हैं की अगर टोल टैक्स मुक्त नही किया गया तो आगे भी आंदोलन जारी रहेगा  | गुस्सए   लोगो की समस्या के निराकरण के लिए |  निगम की महापौर ने तो मौके पर ही टोल प्लाजा के बाजु से जेसीबी मशीन से बाईपास रोड का निर्माण करवा डाला  | जिससे आस - पास के लोग टोल प्लाजा मार्ग से जाने से बच जाए   |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  17 January 2020

 TRINGA YATRA

भारत के नागरिकों के हित में है CAA   नागरिकता संशोधन कानून का विरोध ही नहीं अब समर्थन भी जम कर रो रहा हैं  | पूरे  देश में लोग इस बिल के समर्थन में रैलियां निकाल कर नागरिकता संशोधन बिल का समर्थन कर रहे हैं | राजनंदगांव शहर में नागरिकता संशोधन बिल के समर्थन में  तिरंगा यात्रा निकाली गई और इस अधिनियम को भारत के नागरिकों के हित में बताया  |  नागरिकता संशोधन बिल और एनआरसी को लेकर आम लोगों के मन में कई तरह के सवाल हैं  | एक खेमा इसके विरोध में हैं | एक खेमा पक्ष में हैं |   नागरिकता संशोधन कानून को केंद्र सरकार का एक बेहतर कदम बताते हुए राजनांदगांव शहर में इस बिल के पक्ष में तिरंगा यात्रा निकाली गई  |  जिसमें बड़ी संख्या में लोग शामिल हुए और केंद्र सरकार के द्वारा लाए गए इस अधिनियम को भारत के नागरिकों के पक्ष में बताया  |  इस दौरान यात्रा में शामिल राजनांदगांव के सांसद संतोष पांडे ने कहा कि इस बिल के आने से भारत में पड़ोसी देशों से आये हुए प्रताड़ित लोगों को राहत मिलेगी  |  तिरंगा यात्रा राजनांदगांव शहर के म्यूनिस्पल स्कूल मैदान से निकाली गई |  इस यात्रा में सभी आयु वर्ग के महिला और पुरूष हाथों में भारत की आन-बान और शान का प्रतीक तिरंगा लेकर शामिल हुए  | रैली शहर के विभिन्न मार्गों से गुजरी  | रैली का समापन शहर के जय स्तंभ चैक में आयोजित एक सभा के साथ किया गया  |     

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  27 December 2019

 KHIR VITRAN

तीस हजार लोगों ने खीर का प्रसाद लिया   राजनांदगाव में तीस हजार लोगों ने जड़ीबूटी वाली खीर का प्रसाद लिया  | शरदपूर्णिमा के मौके पर तड़के लोगों ने इस खीर को ग्रहण किया  |  मान्यता है इस खीर के सेवन से बीमारियां दूर रहती हैं  |  बर्फानी धाम आश्रम में माँ पाताल भैरवी मन्दिर प्रांगण में आज 30 हजार से अधिक लोगों में जड़ीबूटी युक्त खीर ग्रहण की |  शिवलिंग के आकार में निर्मित विशालकाय मन्दिर के गर्भ गृह में माँ पाताल भैरवी की मूर्ति स्थापित है  | मध्य भाग में दसमहाविधा  और ऊपर के  भाग में बारह ज्योतिर्लिंगों की स्थापना की गई है |  शरद पूर्णिमा के अवसर पर मन्दिर प्रांगण में विगत 20 वर्षों से जड़ीबूटी युक्त खीर का वितरण किया जा रहा है, आज 30 हजार से अधिक लोगों ने जड़ीबूटी युक्त खीर ग्रहण  की |  आज सुबह चार बजे से प्रसाद के रूप में इस खीर का वितरण किया गया  |  इस खीर के  सेवन से बीमारियां मनुष्य से दूर रहती हैं  | छत्तीसगढ़ के अलावा, महाराष्ट्र,उड़ीसा, पश्चिम बंगाल, मध्यप्रदेश से लोग खीर ग्रहण करने पहुंचे  थे   |  इस जड़ीबूटी युक्त खीर से दमा, अस्थमा,सांस जैसी बीमारी से ग्रसित लोगों को सबसे ज्यादा लाभ होता है  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 October 2019

NAKSALI

राजेश चार बड़ी घटनाओं में शामिल रहा है राजेश   एमएमसी जोन के नक्सल लीडर दीपक उर्फ मिलिंद तेलतुम्डे के बाडीगार्ड  मलाजखंड एरिया कमेटी के नक्सली  राजेश तोप्पा उर्फ अजीत उर्फ लच्छु ने  पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया  | करीब दस साल नक्सलियों के साथ रहकर राजेश चार बड़ी घटनाओं में शामिल भी रहा  | छत्तीसगढ़  सरकार ने नक्सली राजेश पर पांच लाख रुपये का इनाम रखा था  |  दुर्ग रेंज आईजी हिमांशु गुप्ता ने  बताया आत्म समर्पित नक्सली राजेश तोप्पा ने नक्सल संगठन पर शोषण करने का आरोप लगाया है  | उन्होंने कहा कि नक्सली संगठन के नेता सदस्यों के साथ मारपीट भी करते हैं  |   जिसके कारण उसने शासन की पुर्नवास नीति और समाज की मुख्य धारा से जुड़ने के लिए समर्पण किया है  | अढाईकट्टा निवासी राजेश तोप्पा उर्फ अजीत मलाजखंड एरिया कमेटी का सदस्य था  | आइजी हिमांशु गुप्ता ने कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा पांच लाख रुपये के अलावा केंद्र शासन से नक्सल उन्मूलन योजना के तहत ढाई लाख रुपये का इनाम आत्मसमर्पित नक्सली को दिया जाएगा |  डीआइजी रतनलाल डांगी ने बताया कि सरेंडर नक्सली राजेश तोप्पा वर्ष 2009 से नक्सल संगठन से जुड़ा था | उन्होंने बताया कि आत्म समर्पित नक्सली राजेश वर्ष 2010 में थाना कोरची के फुलगोंदी जंगल डेरा में पुलिस पार्टी के साथ हुए मुठभेड़ में शामिल था | वहीं वर्ष 2017 में छह अगस्त को गातापारा के भावे घोड़ापाठ  पहाडी जंगल में हुए मुठभेड़ में भी यह  शामिल था |  जिसमें उप निरीक्षक युगल किशोर वर्मा और आरक्षक कृषलाल साहू शहीद हुए थे  |  2018 में तीन जुलाई को गंडई थाना के ग्राम डंडूटोला पहाड़ी जंगल में हुई पुलिस नक्सली मुठभेड़ में भी राजेश शामिल था  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  26 September 2019

 CHEAT FOUND FROUD

अभिषेक के खिलाफ  हुईं एक साथ 5 एफआईआर    छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह के बेटे अभिषेक सिंघके खिलाफ पांच एफआईआर दर्ज की गई हैं  | पुलिस ने अदालत के आदेश पर इस कार्यवाही को अंजाम दिया है  |   चिटफंड कंपनी में निवेशकों से ठगी के मामले में पूर्व सीएम डॉ. रमन के बेटे व पूर्व सांसद अभिषेक सिंह और राजनांदगांव के पूर्व महापौर व पूर्व सांसद मधुसुदन यादव के खिलाफ पांच अलग-अलग शिकायतों पर  गुरुवार को पुलिस ने एफआईआर दर्ज की |  अनमोल इंडिया कंपनी से जुड़े मामले में अभिषेक सिंह व महापौर मधुसूदन यादव समेत कुछ और के खिलाफ राजनांदगांव पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है  | कोर्ट के आदेश पर यह कार्रवाई की गई है  |   इनके खिलाफ पांच अलग-अलग लोगों ने शिकायतें दर्ज कराई थीं | छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर समेत अन्य जिलों में भी पूर्व में इस मामले में अभिषेक सिंह के खिलाफ अपराध दर्ज किए गए हैं  | आरोप है कि इन्होंने बतौर प्रमोटर काम करते हुए लोगों को उक्त चिटफंड कंपनी में निवेश के लिए प्रोत्साहित किया  |  लोग झांसे में आ गए और कंपनी के अधिकारी-कर्मचारी निवेशकों के करोड़ों रुपये लेकर भाग गए |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 August 2019

SWATANTRATA SAMAROH

पद्मश्री गोविंदराम निर्मलकर की प्रतिमा का हुआ अनावरण   स्वतंत्रता संग्राम सेनानी कन्हैया लाल अग्रवाल के जन्म शताब्दी समारोह में शामिल होने पहुंचे  |   मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने स्वतन्त्रता संग्राम सेनानी कन्हैया लाल अग्रवाल का प्रतीक चिन्ह और शाल श्रीफल से सम्मान किया   |  इस अवसर पर पद्मश्री गोविंदराम निर्मलकर की प्रतिमा का अनावरण बजी किस गया  |    देश की आजादी में अपनी भागीदारी निभाने वाले राजनांदगांव शहर के स्वतंत्रता संग्राम सेनानी कन्हैया लाल अग्रवाल के जीवन के 100 वर्ष पूर्ण होने पर जन्म शताब्दी समारोह का आयोजन किया गया  |  आयोजन राजनांदगांव शहर के पद्मश्री गोविन्दराम निर्मलकर आडिटोरियम में किया गया  |  इस आयोजन में मुख्य अतिथि के रूप में प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भी शामिल हुए   |   भूपेश बघेल ने  आयोजित कार्यक्रम में स्वतंत्रता संग्राम सेनानी कन्हैया लाल अग्रवाल को प्रतीक चिन्ह देकर उनका सम्मान  किया  |  इस  दौरान देश भक्ति नृत्य गीत और पेश किये गए  |  कलाओं को  जीवन समर्पण करने वाले नाचा के पुरोधा प्रसिद्ध नाटक चरणदास चोर के  मुख्य पात्र पद्मश्री स्वर्गीय गोविंदराम निर्मलकर की प्रतिमा का ऑडिटोरियम परिसर में अनावरण भी किया गया  |   इस दौरान बड़ी संख्या में शहर के गणमान्य नागरिक और जनप्रतिनिधि  उपस्थित थे | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 August 2019

 NAKSALI

कुकर बम और विस्फोटक भी मिला    छत्तीसगढ़ के राजनांदगाव में तेजी से नक्सलियों के खिलाफ सर्चिंग चल रही है  इस सर्चिंग में पुलिस को नक्सलियों का डंप सामान मिला  इसमें तमाम सामना के साथ कुकर बम भी बरामद किया गया   नक्सल मोर्चे पर तैनात पुलिस को राजनांदगांव जिले में नक्सलियों के खिलाफ लगातार सफलता मिल रही है   जिले के छुईखदान थाना क्षेत्र में पुलिस ने  नक्सलियों के डम्म को जप्त किया  पुलिस को कौरवा कैंप के समीप  नक्सलियों के द्वारा सामान छुपा के रखे जाने की सूचना मिली थी   सूचना के आधार पर  डीआरजी और पुलिस की संयुक्त टीम सूचना स्थल पर सर्चिंग के लिए पहुंची  जहां पर पुलिस ने जमीन के नीचे नक्सलियों के द्वारा रखे गए सामन को बरामद किया  नक्सलियों ने लगभग ढाई सौ लीटर के एक प्लास्टिक टैंक में सारा सामान गाड़ कर रखा था  माना जा रहा  है कि नक्सली  किसी बड़ी घटना को अंजाम देने के लिए इस सामान डंप किया था  पुलिस के हाथ लगे डंप में कुकर बम के अलावा इलेक्ट्रिक वायर   दवाइयां एक टिफिन और काफी मात्रा में  नक्सली  साहित्य बरामद हुए          

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  27 July 2019

  LAAJ CHAPAMAR

संदिग्ध हालत में नौ जोड़े मिले    राजनंदगांव शहर के विभिन्न होटलों और लाज में जिस्मफरोशी का धंधा जोर शोर से चल रहा है  राजनांदगांव पुलिस ने पुराना बस स्टैंड क्षेत्र में छापामार कार्रवाई करते हुए कैलाश लाज और चंद्रा लाज से 9 जोड़ों को पकड़ा है   शहर के पुराना बस स्टैंड स्थित कैलाश लाज और चंद्र लाज में कोतवाली पुलिस को जिस्मफरोशी के मामले की जानकारी मिली  तो  महिला बल के साथ कोतवाली पुलिस ने एक टीम बनाकर इन दोनों लाज में दबिश दी,  जहां संदिग्ध अवस्था में मिले 9 जोड़ों को पकड़ा गया   कोतवाली पुलिस की कार्रवाई में कैलाश लाज में 5 जोडे़ और चंद्र लाज में 4 जुड़े मिले  पुलिस की इस कार्रवाई के बाद क्षेत्र वासियों में भी इन दोनों लाज में चलने वाली इन  गतिविधियों को लेकर काफी आक्रोश है देखने को मिला   लोगों ने इस मामले में लाज संचालक के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग भी की है   इससे पहले  पुलिस ने होटल सोनू में दबिश देकर 3 जोड़ों को संदिग्ध अवस्था में पकड़ा था  जिसमें एक नाबालिग युवती भी शामिल थी   वहीं अब शहर के इन दोनों लाज में फिर से 9 जोडे़ मिले हैं जिससे साबित होता है कि राजनांदगांव शहर के विभिन्न होटलों और लाज में लगातार जिस्मफरोशी का कारोबार चल रहा है  वहीं नियम- कानून को धता बताते हुए होटल और लॉज संचालक के द्वारा ऐसे लोगों को आसानी से कमरा भी उपलब्ध कराया जा रहा है   इस पूरे मामले में लाज संचालकों की संलिप्तता भी स्पष्ट दिखाई देती है   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  16 July 2019

छत्तीसगढ़-मध्यप्रदेश

छत्तीसगढ़-मध्यप्रदेश की सीमा पर राजनांदगांव जिले में शुक्रवार को पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हो गई। इस मुठभेड़ के दौरान दोनों ओर से गोलियां चलीं, लेकिन नक्सली मोर्चा छोड़कर भाग गए। मुठभेड़ स्थल पर नक्सली अपना सामान भी छोड़कर भाग खड़े हुए। घटना स्थल से बड़ी तादात में बम बनाने का सामान और नक्सली कैंप के सामान बरामद किए गए हैं। घटना के बारे में जानकारी देते हुए जिले के पुलिस अधीक्षक कमल लोचन कश्यप ने बताया कि गातापार थाना क्षेत्र में स्थित भावे के जंगल में नक्सलियों के जमावड़े की खबर मिली थी। वे यहां कैंप लगाने की तैयारी में थे। यह क्षेत्र मध्यप्रदेश की सीमा से करीब 10 किलोमीटर पहले है। मौके पर फोर्स भेजी गई। फोर्स की आहट लगते ही नक्सलियों ने दूसरी ओर से फायरिंग शुरू कर दी और वहां से भाग गए, लेकिन कैंप का सारा सामना और बम बनाने की सामग्री छोड़ गए। क्षेत्र में अभी भी सघन सर्चिंग जारी है। फोर्स नक्सलियों का पीछा कर रही है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 January 2019

रमन के राजनांदगांव  में भाजपा को झटका

छत्तीसगढ़ नगरीय निकाय उपचुनाव में भाजपा को करारा झटका लगा है। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के निर्वाचन क्षेत्र राजनांदगांव में पार्षद के उपचुनाव में कांग्रेस उम्मीदवार एजाज अंसारी की जीत हुई है। अंसारी ने भाजपा के घनश्याम ताम्रकार को 107 वोट से हराया। हालांकि नगर पंचायत राहौद में अध्यक्ष की कुर्सी भाजपा की शैलबाई कश्यप ने बचा ली। यहां भाजपा के सीताराम कश्यप के निधन के बाद उपचुनाव हुआ था। नगरीय निकाय की 13 सीटों पर हुए उपचुनाव के परिणाम बुधवार को घोषित हुए। इसमें भाजपा ने छह, कांग्रेस ने पांच और दो सीट पर निर्दलीय उम्मीदवारों ने जीत दर्ज की है। कांग्रेस के अवधेश शुक्ला ने तखतपुर, सीमा सिन्हा ने धमतरी, रश्मि मिश्रा ने नगर पंचायत बेमेतरा में जीत दर्ज की है। बोदरी से निर्दलीय रेखा सोनी व डोंडी से किरणकुमार गुवार्य ने जीत दर्ज की। आदिवासी क्षेत्र में भाजपा उम्मीदवार बाबूराव मरकाम ने कोंटा, बिमला बघेल व भूपेश ठाकुर ने अंतागढ़ में सीट बचाई है। चिरमिरी में भाजपा की चांदनी यादव व झगड़खान से बिंदू वर्मा जीती हैं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  28 June 2018

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह और पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी

  राजनांदगांव में मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह और पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी के सामने कांग्रेस कोई बड़ा चेहरा नहीं उतारेगी। कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया ने यह साफ कर दिया है। पुनिया ने फिर से यह बात दोहराई है कि कांग्रेस में मुख्यमंत्री का कोई चेहरा नहीं होगा। कांग्रेस सत्ता में आती है तो पार्टी का विधायक दल अपना नेता चुनेंगे। गुरुवार को पुनिया राजनांदगांव पहुंचे थे। सर्किट हाउस में बैठक के पहले उन्होंने यह साफ किया कि राजनांदगांव विधानसभा से कांग्रेस स्थानीय नेता को प्रत्याशी बनाएगी, वह कोई बड़ा चेहरा नहीं होगा। पुनिया ने यह भी कहा कि यह निर्देश पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी से मिला है। इसके पहले प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल भी यह बयान दे चुके हैं कि राजनांदगांव से स्थानीय युवा नेता का नाम हाईकमान के सामने रखा जाएगा। राजनांदगांव शहर कांग्रेस अध्यक्ष जितेंद्र मुदलियार और भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन के पूर्व राष्ट्रीय सचिव निखिल द्विवेदी में से किसी एक को मैदान में उतारने की चर्चा है। इससे यह साफ हो गया है कि राजनांदगांव में कांग्रेस की रणनीति क्या रहेगी? अगर, डॉ. रमन सिंह राजनांदगांव से ही चुनाव लड़ेंगे तो वे और जोगी यहीं उलझकर रह जाएंगे। कांग्रेस प्रदेश के दूसरे विधानसभा क्षेत्रों को फोकस करेगी। कांग्रेस में परंपरा रही है कि बहुमत में आने के बाद पार्टी के विधायक तय करते हैं, उनका नेता कौन होगा? नाम तय करके हाईकमान को भेजा जाता है। उस पर मुहर लग जाती है। कांग्रेस में पीसीसी अध्यक्ष भूपेश बघेल, नेता-प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव, पूर्व नेता-प्रतिपक्ष रविंद्र चौबे, पूर्व मंत्री डॉ. चरणदास महंत, पूर्व पीसीसी अध्यक्ष धनेंद्र साहू, विधायक सत्यनारायण शर्मा का नाम सीएम के दावेदारों में शामिल है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  16 February 2018

राजनंदगांव

राजनंदगांव में भवाना टोला गांव के ऊपर स्थित मंदिर में एक प्रेमी युगल ने कीटनाशक पीकर आत्‍महत्‍या कर ली है। जैसे ही लोगों को इस बात की जानकारी लगी मंदिर में भीड़ एकत्र होना शुरू हो गई। इस बात की जानकारी पुलिस को दे दी गई है। आत्‍महत्‍या करने वाले लड़के की पहचान पेडकोडो निवाशी नीरज कुमार पिता आत्‍माराम नेताम के रूप में हुई है। लड़के की उम्र 20 वर्ष बताई जा रही है, वहीं लड़की की पहचान मुरेटिटोला निवासी दामनी कोमर (19 वर्ष) पिता ललित कोमर के रूप में हुई है। दोनों ने कीटनाशक का सेवन कर मौत को गले लगा लिया। मौत के कारणों को अभी खुलासा नहीं हो सका है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 July 2017

naxli

राजनांदगांव के सुकतरा जंगल में एसटीएफ और डीएफ के सर्चिंग अभियान के दौरान मुठभेड़ में दो नक्सली मारे गए हैं। मिली जानकारी के मुताबिक नक्सलियों की विस्तार प्लाटून नंबर दो के डिप्टी सेक्शन कमांडर और तीन लाख रुपए का इनामी नक्सली राजू मारा गया है। राजू बीजापुर जिले का रहने वाला था। इसके अलावा मुठभेड़ में सुकमा जिले का निवासी नंदू भी मारा गया है। घटना स्थल से सर्चिंग टीम को एक पिस्टल, पांच कारतूस, रायफल, एक जिंदा कारतूस, वॉकीटॉकी के अलावा नक्सली वर्दी और अन्य सामान बरामद हुआ है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  29 June 2017

पत्थलगांव में सराफा व्यवसायी

पत्थलगांव में सराफा व्यवसायी के सोने-चांदी के जेवरों से भरे दो बैग उठाईगीरों ने पार कर दिया। इसमें 21 लाख रुपए से अधिक मूल्य के गहने थे। दिन दहाड़े हुई इस घटना से क्षेत्र में हड़कंप मच गया। सूचना मिलते ही पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। जानकारी के मुताबिक पुलिस थाने के सामने स्थित पूजा ज्वेलर्स के संचालक सुमनदास पिता विष्णुदास गुप्ता पुराना बाजार स्थित अपने घर से सोमवार की सुबह दुकान खोलने पहुंचे थे। उन्होंने दुकान का शटर खोलने के दौरान सोने और चांदी के गहनों से भरे दो बैग को दुकान की सीढ़ी में रखा दिया। शटर खोलने के बाद वह दुकान के सामने पड़े कचरे को साफ करने लगे। जैसे ही वह दुकान के अंदर झाड़ू लेने के लिए गए, अज्ञात उठाईगीरों ने जेवरों से भरे दोनों बैग को पार कर दिया। जानकारी के मुताबिक बैग में लगभग 7 सौ ग्राम सोना और लगभग 2 किलो चांदी के जेवर के साथ नगद रुपए भी थे। झाड़ू लगा कर जैसे ही संचालक का ध्यान सीढ़ियों पर गया, बैग गायब पाकर होश उड़ गए। संचालक की आवाज सुनकर आसपास के व्यवसायी और नगरवासी घटनास्थल पर जमा हो गए। सूचना पर पत्थलगांव पुलिस तत्काल मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने आसपास बैग तलाश करने की कोशिश की लेकिन उसे सफलता नहीं मिल सकी। पुलिस अधीक्षक पीएस ठाकुर भी मौके पर पहुंचे। ज्वेलर्स दुकान के आसपास लगे सभी मकान व प्रतिष्ठानों के सीसीटीवी कैमरे खंगाले जा रहे हैं। पुलिस को उम्मीद है कि किसी फुटेज से आरोपियों की पहचान हो सकती है। इसके साथ ही पत्थलगांव पुलिस की टीम ने पत्थलगांव से बाहर जाने वाले सभी रास्तों में नाकाबंदी कर जांच शुरू कर दी है। आरोपियों तक पहुंचने के लिए पुलिस ने स्नीफर डॉग का भी सहारा लिया, लेकिन इससे भी कुछ हासिल नहीं हो सका।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 April 2017

cg शराबबंदी की मांग

छत्तीसगढ़ में पूर्ण शराबबंदी की मांग को लेकर महिला कांग्रेस ने सोमवार को  राजनांदगांव में राज्य सरकार के खिलाफ अनोखा प्रदर्शन किया। महिलाओं ने इमाम चौक स्थित शराब दुकान से पहले शराब की बोतलें खरीदी। फिर हाथों में उन्हें बोतलों को लेकर शहर भ्रमण किया। इससे पहले जयस्तंभ चौक पर महिलाओं ने राज्य सरकार पर प्रदेश का माहौल बिगाड़ने का आरोप भी लगाया। ठेले पर रमन दारू दुकान के नाम पर मुख्यमंत्री की फोटो व शराब की बोतल लेकर महिलाओं ने महावीर चौक से शहर का भ्रमण किया और पूर्ण शराबबंदी की मांग की। जयस्तंभ चौक पर महिला कांग्रेस ने राज्यपाल के नाम नायब तहसीलदार को ज्ञापन के साथ एक शराब बोतल भी भेंट की। वहीं बाकी की बोतलों को महिलाओं ने वहीं फोड़ कर शराबबंदी की मांग की। महिलाओं ने खरीदी शराब महिला कांग्रेस रैली के रूप में इमाम चौक स्थित शराब दुकान पहुंची, यहां महिलाओं ने अंग्रेजी शराब की बोतलें खरीदी कर सरकार के शराब बिक्री निर्णय का विरोध किया। कांग्रेस की महिलाओं ने हाथों में शराब की बोतल लेकर इमाम चौक पर प्रदर्शन भी किया। भाजपा सरकार के खिलाफ नारे लगाए। ठेले पर शराब की बोतल रखकर महिलाओं ने पूरे प्रदेश में पूर्ण शराबबंदी की मांग की। शहर महिला कांग्रेस अध्यक्ष हेमा देशमुख के नेतृत्व में पार्टी की महिला पदाधिकारियों ने जीई रोड, कामठी लाइन, गुडाखू लाइन से मानव मंदिर चौक होकर जयस्तंभ चौक पर रमन सरकार के खिलाफ आक्रोश व्यक्त किया। वहीं पूर्ण रूप से शराबबंदी की मांग पर राज्यपाल के नाम नायब तहसीलदार को ज्ञापन दिया। शहर महिला कांग्रेस अध्यक्ष हेमा देशमुख व वरिष्ठ नेत्री शारदा तिवारी ने कहा कि भाजपा सरकार ने प्रदेश की जनता को धीरे-धीरे शराबबंदी करने का वादा कर धोखा दिया है, लेकिन शराबबंदी छोड़ सरकार खुद शराब बेचने की तैयारी कर रही है। शारदा तिवारी ने कहा कि शराब के कारण प्रदेशभर की महिला परेशान है। सरकार का यह निर्णय महिलाओं के साथ अत्याचार से कम नहीं है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  28 March 2017

income tax

छत्तीसगढ़ में काला धन जमा करने वाले कारोबारियों पर आयकर विभाग ने अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई की है। आयकर विभाग ने प्रदेश के नौ शहरों में 15 अलग-अलग कारोबारियों के ठिकानों पर बुधवार को एक साथ सर्वे की कार्रवाई शुरू की। मुख्य आयकर आयुक्त केसी घुमरिया ने नईदुनिया को बताया कि नोटबंदी के दौरान खातों में लाखों रुपए जमा करने वालों के खिलाफ विभाग ने कार्रवाई शुरू की है। इसके तहत रायपुर सहित बिलासपुर, राजनांदगांव, भिलाई, महासमुंद, कांकेर, जगदलपुर, बेमेतरा और भाटापारा में कार्रवाई की गई है। आयकर विभाग के आला अधिकारियों ने बताया कि बस्तर के कारोबारियों पर पहली बार कार्रवाई हो रही है। आदिवासी बहुल कांकेर और जगदलपुर के रियल एस्टेट और सराफा कारोबारी कार्रवाई जद में आए हैं। नोटबंदी के दौरान मनमाने पैसा जमा करने पर देशभर के 12 लाख कारोबारियों से जवाब मांगा गया था। लेकिन अधिकांश कारोबारियों ने जवाब नहीं दिया। इनमें सबसे ज्यादा सराफा और रियल एस्टेट कारोबारी हैं। कई कारोबारियों ने बोगस कंपनियां बनाकर करोड़ों स्र्पए जमा किए हैं। बोगस कंपनी संचालकों की ओर से कोई जवाब नहीं आया। अब ऐसी कंपनियों की भी जांच शुरू कर दी गई है। अधिकारियों ने बताया कि कई बोगस कंपनियों के पते की जांच की गई। राजधानी सहित राजनांदगांव और बिलासपुर में बोगस कंपनियों के पते पर टीम पहुंची तो कंपनी मिली ही नहीं। आसपास के लोगों ने ऐसी कोई कंपनी नहीं होना बताया। ये सभी जांच की जद में हैं। नोटबंदी के बाद आयकर की टीम ने आठ सर्वे किए, जिनमें कारोबारियों ने 15 करोड़ की अघोषित आय सरेंडर की है। रायपुर, राजनांदगांव और तिल्दा में जांच पूरी हुई है। अधिकारियों ने बताया कि राजनांदगांव के बरड़िया ज्वेलर्स में 1 करोड़ 70 लाख स्र्पए सरेंडर किए हैं। आयकर इन्वेस्टिगेशन विंग ने मार्च में चार सर्वे किए, जिनमें कारोबारियों ने छह करोड़ स्र्पए सरेंडर किए हैं। सीसीआईटी केसी घुमरिया ने बताया कि इस वर्ष 4200 करोड़ के राजस्व वसूली का टारगेट है, जिसमें से अब तक 2800 करोड़ की वसूली हो गई है। उन्होंने कहा कि 31 मार्च तक सर्वे की कार्रवाई में तेजी रहेगी।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  16 March 2017

छत्तीसगढ़ी

छत्तीसगढ़ी राजभाषा आयोग का पांचवा दो दिवसीय प्रांतीय सम्मेलन राजिम के पं. रामबिशाल पाणडेय विद्यालय में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक, सांसद चंदूलाल साहू, विधायक संतोष उपाध्याय, आयोग के प्रदेशाध्यक्ष विनय कुमार पाठक की मौजूदगी में हुआ। पूर्व मंत्री अमितेश शुक्ला, प्रख्यात कवि व आयोग के सचिव डॉ. सुरेन्द्र दुबे सहित प्रदेश भर के 27 जिले व देश भर से आए ख्याति नाम कवि साहित्यकार की मौजूदगी में शुभारंभ हुआ। इस अवसर पर धरमलाल कौशिक ने मुख्य अतिथि की आसंदी से कहा कि छत्तीसगढ़ी भाषा संविधान के आठवीं अनुसूची में जुड़ने के बाद हिन्दुस्तान की दर्जा प्राप्त भाषा बन जाएगी। तब हमारे दोनों सदन के संसद प्रतिनिधि छत्तीसगढ़ी में प्रश्न कर सकेंगे। पत्राचार भी किया जा सकेगा। कौशिक ने कहा कि गांवों में छत्तीसगढ़ी बोल चाल की भाषा है लेकिन शहर के लोग बोलने से सकुचाते हैं। मात्र सरकार द्वारा दर्जा देने से काम नहीं चलेगा इसके लिए हर छत्तीसगढ़िया को आगे आना होगा। हर राज्य में उनकी अपनी भाषा चलती है। अपनी क्षेत्रीय भाषा को गर्व से प्रस्तुत करते हैं लेकिन हम छत्तीसगढ़िया छत्तीसगढ़ी बोलने से परहेज क्यों करते हैं। मंच पर मौजूद प्रदेशभर के साहित्यकारों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि ब्रम्हलीन पवन दीवान पृथक छत्तीसग़ढ़ आंदोलन के नेतृत्वकर्ता थे। इसके लिए उन्होंने अनेक लड़ाइयां लड़ी। भागवत कथा के माध्यम से छत्तीसगढ़ी को जन जन तक पहुंचाया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  31 January 2017

rajnandgaon

      राजनांदगांव जिले के कोपंखड़का गांव के पास सुरक्षाबलों और नक्सलियों के बीच गुरुवार-शुक्रवार की दरमियानी रात मुठभेड़ हो गई। पुलिस और आईटीबीपी की संयुक्त टीम जंगल में गश्त कर रही थी। इसी दौरान उन पर नक्सलियों ने फायरिंग कर दी। तुरंत सुरक्षाबलों ने मोर्चा संभाला और जवाबी फायरिंग की। देर रात को हुई इस घटना के बाद नक्सली वहां से भाग निकले। सर्चिंग में इलाके से नक्सलियों के दैनिक उपयोग का सामान बरामद किया गया है। इसके साथ ही आस-पास के इलाकों सर्चिंग कर भागे नक्सलियों की तलाश की जा रही है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 December 2016

shahid booga

राजकीय सम्मान के साथ हुआ शहीद बोगा का अंतिम संस्कार  गृहमंत्री  पैकरा सहित पुलिस के आला अफसरों ने दी श्रद्धांजली   राजनांदगांव जिले के मेरेगांव- सांगली गांवों की सीमा पर स्थित गृह परिसर में शहीद सहायक उप निरीक्षक श्री नरबद सिंह बोगा का पूरे राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार संपन्न हुआ। शहीद पुलिस अधिकारी की अंतिम यात्रा में राज्य के गृह मंत्री  रामसेवक पैकरा ने शामिल होकर मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह सहित राज्य की जनता की ओर से शहीद श्री नरबद सिंह बोगा को श्रद्धांजली अर्पित की और इस दुख की घडी में उनके शोकाकुल परिजनों से मिलकर उन्हें ढांढस बंधाया।  अंतिम संस्कार के पूर्व शहीद श्री बोगा को पुलिस अधिकारियों द्वारा शस्त्र झुकाकर सलामी दी गई। परिजनों, रिश्तेदारों और आस-पास के गांवों से बड़ी संख्या में मौजूद ग्रामीणजनों तथा जनप्रतिनिधियों की श्रद्धामयी उपस्थिति में शहीद श्री बोगा को उनके गृह परिसर में ही उनके शोकाकुल जेष्ठय पुत्र श्री घनश्याम ने मुखाग्रि दी। शहीद पुलिस अधिकारी श्री बोगा की अंतिम संस्कार में संसदीय सचिव लाफचंद बाफना, विधायक द्वय श्रीमती तेजकुंवर नेताम और  भोलाराम साहू, राज्य भण्डार गृह निगम के अध्यक्ष  नीलू शर्मा सहित पूर्व मंत्री  राजिन्दर पाल सिंह भाटिया, जिला पंचायत के पूर्व अध्यक्ष  दिनेश गांधी, राजनांदगांव नगर निगम के महापौर  मधुसूदन यादव और राजगामी संपदा न्यास के पूर्व अध्यक्ष  संतोष अग्रवाल भी शामिल हुए। राज्य शासन के गृह सचिव श्री बी. सुब्रमणयम, पुलिस महानिदेशक श्री ए.एन. उपाध्याय, पुलिस महानिदेशक नक्सल आपरेशन  डी.एम. अवस्थी, पुलिस  महानिरीक्षक  दीपांशु काबरा, भारत तिब्बत सीमा पुलिस के कमाण्डेंट  नरेन्द्र सिंह  कलेक्टर  मुकेश बंसल , पुलिस अधीक्षक  प्रशांत अग्रवाल ने भी वीर शहीद श्री बोगा को भावभीनी श्रद्धांजली अर्पित की। इस शोक के अवसर पर गृहमंत्री  रामसेवक पैकरा ने शहीद श्री नरबद बोगा के परिजनों से मुलाकात की और ईश्वर से इस दुख की घड़ी को सहने की शक्ति देने की प्रार्थना की। उन्होनें श्री बोगा की हत्या की घटना की जांच कराने और दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने का आश्वासन परिजनों को दिया। उल्लेखनीय है कि कल 6 नवम्बर को शाम के समय बागनदी थाना के अंतर्गत ग्राम चिरचारी में दो अज्ञात बाईक सवारों द्वारा सहायक उप पुलिस निरीक्षक श्री नरबद सिंह बोगा की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।       

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  8 November 2016

anmol india

राजनांदगांव पुलिस ने छह साल में रकम दोगुना कर देने का लालच देकर लोगों से करीब 44 करोड़ रुपए की ठगी करने के आरोपी अनमोल इंडिया एग्रो हर्बल फारमिंग एंड डेयरीज केयर कंपनी लिमिटेड के दो डायरेक्टरों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने मो. खालिद पिता मो. हाजी उमर मेमन (39) व मो. जुनैद पिता मो. हाजी उमर मेमन (34) को अनमोल टॉवर वैशाली नगर नागपुर में शनिवार को दबोचा। एएसपी शशिमोहन सिंह ने  मामले का खुलासा करते हुए बताया कि छुरिया के प्रार्थी सतवंत पिता स्व. हरभजन सिंह भाटिया ने अनमोल इंडिया के डायरेक्टरों के नाम पर बसंतपुर थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। प्रार्थी से ग्रुप के डायरेक्टरों ने प्लाट व छह साल में राशि डबल कर देने का लालच देकर वर्ष 2008 में दो बार 90-90 हजार रुपए, 1 लाख 58 हजार 760 रुपए का आरडी और 30-30 हजार रुपए के तीन आरडी लिया था। 2014 में कंपनी बंद हो गई। सतवंत के पहले बसंतपुर गंज मंडी निवासी टिकेश्वरी वर्मा ने भी अनमोल गु्रप के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी। मामले में आरोपी डायरेक्टरों के खिलाफ धारा 406, 420 के तहत जुर्म दर्ज किया गया था। एएसपी ने बताया कि अनमोल इंडिया कंपनी को निवेशकों को 44 करोड़ रुपए लौटाने हैं। फर्म में जितने निवेशक हैं, उनका पता लगाया जा रहा है। आरोपियों को ज्युडिशियल रिमांड में रखा गया है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  24 October 2016

amit jogi -raman singh

राजनांदगांव में शौचालय निर्माण के लिए दबाव और हत्या मामले में बोले अमित जोगी राजनांदगांव में  मरवाही विधायक अमित जोगी ने शौचालय निर्माण के लिए राजनांदगांव जिले में हुई हत्या मामले में कहा है कि यह अभियान पूरी तरह खोखला साबित हो रहा है। गांव-मोहल्लों को ओडीएफ घोषित करवाने के लिए शासन स्तर पर जो दबाव डाला जा रहा है इसी की परिणीति है यह घटना। शौचालय निर्माण के लिए दबाव को देखें तो यह तो इमरजेंसी जैसे हालात लग रहे हैं।  उन्होंने कहा कि महज 12 हज़ार रुपए शौचालय बनाने के लिए दिए जा रहे हैं वह भी शौचालय बनवा लेने के बाद, इससे गरीब आदमी खासतौर से गरीबी रेखा से नीचे के लोग, वह कहां से बनवा सकेंगे। लेकिन प्रतिनिधि और शासन दोनों ही इस बात को समझे बिना दबाव डाले जा रहे हैं। मरवाही विधायक ने मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह को चुनौती देते हुए कहा कि वे खुद 12 हज़ार रुपए में शौचालय निर्माण कर उसका उपयोग कर दिखाएं। तब उन्हें हकीकत मालूम चलेगी कि 12 हज़ार रुपए में कैसा शौचालय बन रहा है, कैसी गुणवत्ता वाला निर्माण हो रहा है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार की स्वच्छ भारत मुहिम पूरे तौर पर खोखला साबित हो रही है,इस अभियान के विज्ञापन में ही अरबों रुपए फूंक दिए जा रहे हैं लेकिन जमीनी स्तर पर काम करने के लिए महज 12 हज़ार रुपए प्रति शौचालय दिए जा रहे हैं। इतनी रकम में कैसी गुणवत्ता मिलेगी, उपर से इसी रकम में से सरकारी कर्मचारी अपना कमीशन भी निकाल ले रहे हैं, बाकी रकम में जो शौचालय बन रहा है वह शौचालय के नाम पर महज उसका ढांचा होता है। और यही ढांचा ही ओडीएफ घोषणा में काम आता है। कुल मिलाकर यह है कि रमन राज में हर मामले में आंकड़ों की बाजीगरी होती है, चाहे हकीकत में काम हुआ हो या न हुआ हो या फिर बेकार गुणवत्ता वाला काम हुआ हो। राज्य में जितने शौचालय बन रहे हैं उनमें 90 फीसदी तो गुणवत्ताहीन है, और 80 फीसदी में पानी नहीं है। मरवाही विधायक ने कहा कि छत्तीसगढ़ में स्थिति यह है कि कई गरीब परिवार महज यह शौचालय बनवाने के लिए ही कर्ज ले रहे हैं,क्योंकि उन पर इतना दबाव है शौचालय बनवाने के लिए। इसी दबाव के चलते ही अब हत्याएं भी हो रही है। शौचालय बनवाने के बाद 12 में से महज 8 हजार ही उनके हाथ में पहुंच रहा है बाकी कमीशन में जा रहा। राज्य सरकार को कोयले से राजस्व आता है,खनिज से इतना राजस्व आता है, सरकार चाहे तो खुद बनवा कर दे सकती है शौचालय और ऐसा ही करना भी चाहिए। स्वच्छ भारत अभियान के विज्ञापन के लिए जितने रुपए खर्च हो रहे हैं, उसका एक फीसदी भी अगर शौचालय  निर्माण में लगा दें तो लोगों को दबाव नहीं झेलना पड़ेगा। ओडीएफ घोषित करने की हड़बड़ी में इन सब हालात को सरकार नहीं देख पा रही है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  8 October 2016

film gomati

छत्तीसगढ़ राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा विधिक जागरूकता को लेकर देश का पहला लघु फिल्म फेस्टिवल का आयोजन किया गया।  फिल्म फेस्टिवल राजनांदगांव के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शशिमोहन सिंह द्वारा टोनही प्रताड़ना पर आधारित फिल्म गोमती को ज्यूरी का श्रेष्ठ फिल्म का अवार्ड दिया गया । देशभर के विभिन्न राज्यों से अस्सी नामांकित फिल्मों में से गोमती को छत्तीगढ़ के चीफ जस्टीस न्यायमूर्ति दीपक गुप्ता की उपस्थिति में ज्यूरी का श्रेष्ठ फिल्म अवार्ड प्रदान किया गया । फिल्म में मुख्य भूमिका शशिमोहन सिंह, भारती आलिया अली, पिंकी शर्मा, शोएब अली, शरद श्रीवास्तव सहित यश गुप्ता, तौसीफ, रागिनी, सुरभि, संदीप, नरेन्द्र, सौरभ, नीरज आर्यन ने निभाई है ।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 September 2016

cg rajnandgaon

कृषि विकास की नई पहचान बना केकतीटोला किसी एक जगह पर हितग्राहियों को केवल केन्द्र एवं राज्य शासन की विभिन्न योजनाओं का सामुहिक रूप से क्रियान्वयन कर लाभ पहुंचाने के, विकास के नये प्रयोग में राजनांदगांव जिले की केकतीटोला ग्राम पंचायत अब उदाहरण साबित हो रही है।  राजनांदगांव जिले के विकासखण्ड अंबागढ़ चौकी के ग्राम पंचायत केकतीटोला में ग्रामवासियों की आमदनी बढ़ाने के लिए खेती-किसानी में शासकीय योजनाओं का एक साथ समग्र लाभ दिलाने का प्रयोग सफल साबित हुआ है। ग्राम पंचायत केकतीटोला में छत्तीसगढ़ शासन की पहल पर केन्द्र सरकार द्वारा संचालित महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी एक्ट से स्वीकृत कार्यों को आधार बनाकर छत्तीसगढ़ सरकार की खेती-किसानी से जुड़ी योजनाओं का एक साथ लाभ किसानों को दिया गया।  ग्राम पंचायत में महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी एक्ट के तहत पहले किसानों की उबड़-खाबड़ जमीनों का समतलीकरण कराया गया और फिर उस जमीन पर खेती के लिए सिंचाई की व्यवस्था के साथ-साथ बीज और खाद की भी व्यवस्था शासकीय योजनाओं के तहत कराई गई। शासकीय योजनाओं के सम्मिलित रूप से एक साथ क्रियान्वयन से ग्राम पंचायत केकतीटोला के 14-15 किसानों ने अपनी आमदनी में लगभग दो गुनी वृद्धि कर ली है।  योजनाओं का सम्मिलित रूप से लाभ लेने से किसानों को न केवल सिंचाई के साधन उपलब्ध हुए है बल्कि भूमि सुधार होने से उन्होनें खाद्यान्न फसलों के साथ सब्जी आदि का उत्पादन कर अपने लिये आय के वैकल्पिक साधन भी विकसित कर लिये हैं। विकासखण्ड अंबागढ़ चौकी से लगभग 10 किलोमीटर की दूरी पर स्थित केकतीटोला के किसानों की जमीनों पर सबसे पहले महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी एक्ट के तहत भूमि सुधार के काम कराये गये। इस ग्राम में नहर और नाले के पास जिन कृषकों की जमीनें थी, उन्हें विद्युत विभाग द्वारा नहर-नाला ऊर्जीकरण योजनांतर्गत विद्युत लाइन लगाकर खेतों में सिंचाई के लिए बिजली उपलब्ध करायी गई। कृषि विभाग द्वारा शाकंभरी योजना के तहत खेतों में सिचाई के लिए शासकीय अनुदान पर विद्युत पंप दिये गये। साथ ही जैविक खाद बनाने के लिए नाडेप टंाकों का निर्माण कराया गया। को-आपरेटिव बैंक द्वारा इन किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड उपलब्ध कराये गए जिनके माध्यम से इन्हें रियायती ब्याज दर पर कृषि ऋण भी मिला। इसके साथ उद्यानिकी विभाग द्वारा सब्जियों के उन्नत बीज उपलब्ध कराए गए।  इस ग्राम के निवासी श्री कार्तिकराम यादव कहते है कि कई योजनाओं को संमिश्रित कर एक साथ क्रियान्वित करने  से होने वाले फायदे के बारे में उन्होनें कभी सोचा भी नहीं था। कभी कृषि विभाग के माध्यम से बीज मिल जाता था तो बारिश धोखा दे जाती थी, तो कभी खेत के उबड़-खाबड़ होने से अच्छी बारिश में भी फसल कमजोर होती थी।  श्री कार्तिकराम का कहना है कि उसने महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना अंतर्गत अपनी 0.615 हेक्टेयर भूमि में भूमि सुधार कराया। उसे इस कार्य हेतु योजना से 30 हजार रुपये की राशि प्राप्त हुई। उन्हें विद्युत विभाग द्वारा Óनहर-नाली ऊर्जीकरणÓ योजना अंतर्गत अपने खेत में सिंचाई के लिए बिजली का कनेक्शन भी मिला। बिजली कनेक्शन के लिए श्री कार्तिक राम को एक लाख 20 हजार रुपयें का अनुदान प्राप्त हुआ। श्री कार्तिकराम ने आगे जानकारी देते हुए बतलाया कि कृषि विभाग द्वारा शाकंभरी योजना के तहत 12 हजार 150 रुपयें की सहायता से विद्युत पंप उपलब्ध कराया गया। साथ ही राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के तहत मक्का के बीज नि:शुल्क मिनी किट के रूप में मिले। पहले श्री कार्तिकराम की  आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं थी। पहले वह अपनी जमीन में खरीफ  के मौसम में धान एवं कोदो की फसल लिया करते थे। कड़ी मेहनत करने के बाद भी वे प्रति एकड़ 8 से 10 क्विंटल धान एवं 2 से 3 तीन क्विंटल कोदो का उत्पादन कर पाते थे। इसमें उसे 4-5 हजार रुपये ही मिलते थे। इतनी कम आय में उन्हें अपने परिवार का भरण-पोषण करना मुश्किल था। आज भूमि के समतल होने एवं विभिन्न योजना का एक साथ लाभ मिलने के कारण उनकी जमींन पूर्ण रुप से सिचिंत एवं  विभिन्न फसलों के उत्पादन लायक हो गई है। आज उसकी जमीन में प्रति एकड 15 से 20 हजार का उत्पादन होने लगा है। साथ ही वह खेतों  की मेढ़ों पर अरहर की फसल ले रहे है। जमींन सिंचित होने से वह रबी के मौसम में उन्होनें मक्का की फसल लगाई थी, जिसमें लगभग 20-22 क्ंिवटल का उत्पादन प्राप्त हुआ। श्री कार्तिकराम को रबी के मौसस में 10 से 12 हजार की आय प्रति एकड़ प्राप्त हुई। अब वे रबी के मौसम में 25 डिसमील जमीन में सब्जी का उत्पादन भी कर लेते है। आज कार्तिकराम पूर्ण रुप से आत्मनिर्भर है। वह खुशी-खुशी यही कहता है कि शासन की योजनाएं उसके लिए वरदान साबित हुई है। केकतीटोला गांव के निवासी मिशुन ने भी महात्मा गांधी नरेगा से अपनी 2.14 एकड़ भर्री जमीन में भूमि सुधार करवाया,इसके लिए उन्हें 28 हजार 248 रुपयें की सहायता मिली। भूमि के समतलीकरण एवं मेड़ बधान होने के कारण खेती-किसानी की पैदावार बढ़ गई है। श्री मिशुन को भी कृषि विभाग द्वारा शाकाम्बरी योजना से 12 हजार 150 रुपयें की राशि प्रदाय कर 3 एच.पी. का विद्युत पंप उपलब्ध कराया गया एवं राष्ट्रीय कृषि विकास योजना अंतर्गत नि:शुल्क मक्का मिनी किट दिये गये। साथ ही उसे विद्युत विभाग द्वारा विद्युत कनेक्शन भी दिया गया। आज श्री मिशुन को भी प्रति एकड़ 14 से 15 हजार रुपये की आय प्राप्त हो रही है। इस प्रकार केकतीटोला में दर्जनों ऐसे किसान है जिन्हें शासकीय योजनाओं के संमिश्रण से क्रियान्वयन करने पर कल्पना से परे लाभ हुआ है। परिवार की आर्थिक स्थिति सुधरी है और अब सभी जरूरतें आसानी से पूरी हो  रही है। योजनाओं का संमिश्रण कर लागू करने से ही सरकार का सबके साथ-सबका विकास ' का उद्देश्य  पूरा होता प्रतीत हो रहा है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 September 2016

mobile app

      राजनांदगांव में निरनिधि मोबाइल एप की लांचिंग के बाद  अब  बारिश के दिनों में जलाशयों से पानी छोड़े जाने व अलर्ट रहने की जानकारी अब लोगों को मोबाइल मैसेज से मिल सकेगी। इसके अलावा बारिश के दौरान लगातार बढ़ते जलस्तर व खतरे के निशान से जलाशय व बैराज के ऊपर पहुंचने की जानकारी भी लोगों को मोबाइल संदेश के माध्यम से मिलते रहेगी।   इसके लिए जल संसाधन विभाग द्वारा प्रदेश स्तर पर निरनिधि मोबाइल एप लांच किया गया है। जिसे अपने मोबाइल पर डाउनलोड कर लोग अपने क्षेत्र के जलाशयों व बैराज के रोजाना की स्थिति की जानकारी ले सकेंगे। इस एप के लिए बैराज व जलाशयों में तैनात कर्मचारी रोजाना की स्थिति मोबाइल मैसेज के माध्यम से प्रभारी अधिकारी देंगे जो पूरा डेटा निरनिधि एप्लीकेशन में अपलोड करेंगे।   विभाग ने शुरू की प्रक्रिया   निरनिधि मोबाइल एप की लांचिंग के बाद जिला स्तर पर जल संसाधन विभाग ने इसकी प्रक्रिया शुरू कर दी है। जल संसाधन के कार्यपालन अभियंता ने सभी जिम्मेदार अफसरों व कर्मचारियों को इसके क्रियान्वयन के लिए निर्देशित कर दिया है। वहीं एप में डाटा अपडेट करने का प्रशिक्षण भी इन जलाशयों व बैराज के जिम्मेदार अफसरों को दे दिया गया है।   समय पर हो सकेंगे एलर्ट   मोबाइल एप के माध्यम से मिलने वाले संदेश से लोग बाढ़ या अधिक बारिश के दौरान जलाशयों व बैराज से पानी छोड़ जाने की जानकारी से एलर्ट हो सकेंगे। अब तक आम लोगों को बगैर कोई सूचना दिए बैराज से पानी छोड़ा जाता था, जिससे कई दफे नहरों व नदियों में दुर्घटना की स्थिति भी निर्मित हो रही थी। लेकिन मोबाइल एप के माध्यम से अब ऐसी स्थिति पर नियंत्रण हो सकेगा। वही बाढ़ जैसी स्थिति का मैसेज भी पूरे प्रशासनिक अमले को समय पर मिल सकेगा।   नियंत्रण दस्ता भी होगा तैयार   निरनिधि मोबाइल एप में रोजाना के जलस्तर का डेटा अपडेट होने से जिला प्रशासन को भी बाढ़ जैसी स्थिति की जानकारी समय रहते मिल सकेगी। जिससे बाढ़ नियंत्रण जैसे कार्य के लिए भी प्रशासन समय रहते पूरी योजना तैयार कर सकेगी। वही प्रदेशस्तर में भी बाढ़ जैसी स्थिति की जानकारी आला अफसरों को मिल सकेगी।   जुड़ेंगे सभी जलाशय व बैराज   निरनिधि मोबाइल एप में ढारा जलाशय, मटियामोती जलाशय, रूसे जलाशय, रश्मिदेवी जलाशय, मोंगरा बैराज, पिपरिया बैराज व सूखानाला बैराज सहित सभी प्रमुख जल संरक्षण स्त्रोतों को जोड़ा जाएगा। जहां हर रोज जल के स्तर व पानी छोड़े जाने की तैयारी सहित बाढ़ जैसी संभवानओं को लेकर एप में संदेश सार्वजनिक किया जाएगा जो लोग मोबाइल फोन से जानकारी नहीं ले सकेंगे उन्हें जल संसाधन विभाग इसकी जानकारी लोगों तक पहुंचाने की व्यवस्था करेगी।   जलसंसाधन विभाग के ई ई एसके सहारे बैराज व जलाशयों में जल स्तर व पानी छोड़े जाने की जानकारी को आसान करने के लिए एप लांच किया गया है। जिससे प्रभावित हिस्से के लोग कभी भी स्थिति की जानकारी हासिल कर सकेंगे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  28 June 2016

Video
Advertisement
Advertisement
x
This website is using cookies. More info. Accept
All Rights Reserved ©2023 MadhyaBharat News.